पीठ दर्द से परेशान रहते थे कप्तान कोहली, फिर आजमाया ये तरीका

विराट कोहली ने बासु शंकर की पुस्तक ‘100, 200 प्रैक्टिकल एप्लीकेशन इन स्ट्रेंथ एंड कंडीशनिंग’ की प्रस्तावना में लिखा है कि किस तरह से फिटनेस कोच ने उन्हें वजन उठाने के लिए प्रेरित किया. 

Written by - Zee Hindustan Web Team | Last Updated : Sep 21, 2021, 02:12 PM IST
  • काफी समय से पीठ दर्द से बेहद परेशान थे विराट
  • फिटनेस कोच ने उन्हें वजन उठाने के लिए प्रेरित किया

ट्रेंडिंग तस्वीरें

पीठ दर्द से परेशान रहते थे कप्तान कोहली, फिर आजमाया ये तरीका

नई दिल्लीः भारतीय कप्तान विराट कोहली अपने खेल के साथ-साथ फिटनेस के लिए भी जाने जाते हैं. फिटनेस के मामले में वह दुनियाभर के स्पोर्ट्समैन की कतार में खड़े होते हैं. लेकिन, विराट के करियर में भी एक दौर ऐसा आया जब वह पीठ दर्द से बेहद परेशान थे. फिर उन्हें भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व फिटनेस कोच बासु शंकर की मदद मिली. उनके मार्गनिर्देशन में वह इससे छुटकारा पाने में सफल रहे.

बासु ने वजन उठाने के लिए किया प्रेरित
विराट कोहली ने बासु शंकर की पुस्तक ‘100, 200 प्रैक्टिकल एप्लीकेशन इन स्ट्रेंथ एंड कंडीशनिंग’ की प्रस्तावना में लिखा है कि किस तरह से फिटनेस कोच ने उन्हें वजन उठाने के लिए प्रेरित किया, जिससे उन्हें दुनिया के सबसे फिट क्रिकेटरों की सूची में शामिल होने में मदद मिली.

ये भी पढ़ें- RR vs PBKS: प्लेऑफ की आस जिंदा रखने उतरेंगे पंजाब-राजस्थान, जानिये आंकड़ों की पिच पर कौन मजबूत?

2014 के आखिरी महीनों में परेशान रहे कोहली
कोहली ने लिखा है, ‘वर्ष 2014 के आखिरी महीनों में मैं पीठ दर्द से काफी परेशान रहा, जो जाने का नाम नहीं ले रहा था. प्रत्येक सुबह मुझे अपनी पीठ को ढीला करने के लिए 45 मिनट तक कसरत करनी पड़ती थी, लेकिन दिन में किसी भी समय वह फिर से जकड़ जाती.’

'मुझे उनके ज्ञान पर पूरा भरोसा'
उन्होंने कहा, ‘इसके बाद बासु सर और मेरी वजन उठाने और मेरे शरीर की पूरी ताकत वापस लाने के बारे में बात हुई.’ राष्ट्रीय टीम के साथ 2015 से 2019 तक काम करने वाले शंकर ने कोहली और भारतीय टीम की फिटनेस में सकारात्मक बदलाव लाने में अहम भूमिका निभाई थी. कोहली ने कहा, ‘पहले मैं इसको (वजन उठाने) लेकर आश्वस्त नहीं था, लेकिन बासु सर ने मुझसे केवल एक बात कही थी कि भरोसा रखो. मुझे उनके ज्ञान और अनुभव पर पूरा भरोसा था.’

ये भी पढ़ें- RR vs PBKS: राहुल और सैमसन में होगी जबरदस्त जंग, जानिये दोनों टीमों की Predicted Playing 11

'मुझे इसके बेजोड़ परिणाम मिले'
उन्होंने कहा, ‘मुझे श्रीलंका के खिलाफ 2015 में हमारी शृंखला की याद है. मैंने बासु सर से वजन उठाना सीखना शुरू कर दिया था. मैंने इसको लेकर किए गए अध्ययन को समझा और महसूस किया कि मैं कुछ अद्भुत करने की दिशा में काम कर रहा हूं.’ कोहली ने कहा, ‘‘इसके परिणाम बेजोड़ थे जिससे शरीर की ताकत को लेकर मेरी धारणा ही बदल गयी.’’

Zee Hindustan News App: देश-दुनिया, बॉलीवुड, बिज़नेस, ज्योतिष, धर्म-कर्म, खेल और गैजेट्स की दुनिया की सभी खबरें अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें ज़ी हिंदुस्तान न्यूज़ ऐप.

ज़्यादा कहानियां

ट्रेंडिंग न्यूज़