WTC Final 2021: इन दो खिलाड़ियों के प्रदर्शन पर टिकी है टीम इंडिया की किस्मत

भारतीय टीम को अगर कीवी टीम को वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप में खिताबी जीत हासिल करनी है तो इन दो खिलाड़ियों में से एक को शतक जड़ना होगा.  

Written by - Zee Hindustan Web Team | Last Updated : Jun 17, 2021, 07:21 AM IST
  • रोहित जब शतक(7) जड़ते हैं, टेस्ट मैच में नाबाद(8) रहते हैं
  • वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप में रोहित शर्मा का बल्ला जमकर चला है
WTC Final 2021: इन दो खिलाड़ियों के प्रदर्शन पर टिकी है टीम इंडिया की किस्मत

नई दिल्ली: भारत और न्यूजीलैंड के बीच साउथैम्पटन के मैदान पर शुक्रवार को पहली आईसीसी वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप का खिताबी मुकाबला खेला जाएगा. दोनों ही टीमों ने इस मुकाबले के लिए अपनी कमर कस ली है. कोरोना संकट के बीच दो साल तक चले इस चैंपियनशिप के लीग दौर में भारतीय टीम नंबर एक और कीवी टीम नंबर दूसरे पायदान पर रही.

न्यूजीलैंड ने भारत को घर पर दी थी 2-0 से मात

ऐसे में मौजूदा दौर की दो टॉप टीमों के बीच होने वाले मुकाबले पर पूरी दुनिया के क्रिकेट प्रशंसकों की नजरें टिकी हुई हैं. वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप के दौरान भारत ने 6 टेस्ट सीरीज में कुल 17 मैच खेले जिसमें से 12 में उसे जीत मिली और 4 में हार का मुंह देखना पड़ा जबकि 1 मैच बराबरी पर समाप्त हुआ.

जिन चार मैचों में टीम इंडिया को हार मिली उसमें से 2 में भारत को केन विलियमसन की टीम ने ही मात दी थी.

साउथैम्पटन में कोई टेस्ट नहीं जीती है टीम इंडिया

ऐसे में लीग दौर में कीवी टीम के खिलाफ मिली हार का दबाव भारतीय टीम के ऊपर निश्चित तौर पर होगा. लेकिन प्रशंसक भारतीय टीम को वर्ल्ड टेस्ट चैंपियन बनता देखने के लिए तरह तरह के आंकड़े ढूंढ रहे हैं. क्योंकि टीम इंडिया एक ऐसे मैदान पर कीवी टीम के खिलाफ फाइनल मुकाबला खेलने उतरेगी जहां उसे कभी भी जीत हासिल नहीं हुई है.

यह भी पढ़िएः BCCI के कोषाध्यक्ष ने बताया, कब तक चलेगा टीम इंडिया का दो टीमों का फार्मूला

रोहित-रहाणे के प्रदर्शन पर टिकी है खिताबी जीत

ऐसे में एक आंकड़ा सामने आया है कि जब-जब रोहित शर्मा और अजिंक्य रहाणे का बल्ला टेस्ट क्रिकेट में जमकर चला है भारतीय टीम को हार का मुंह नहीं देखना पड़ा है. यानी अगर टीम के उपकप्तान अजिंक्य रहाणे और हिटमैन रोहित शर्मा अगर खिताबी मुकाबले में शतक जड़ने में सफल होते हैं तो भारतीय टीम को हार का मुंह नहीं देखना पड़ेगा.

रोहित के सुपरहिट खेल पर है नजरें

अगर रोहित शर्मा के टेस्ट क्रिकेट में आंकड़ों पर नजर डाली जाए तो पता चलता है कि रोहित जब शतक(7) जड़ते हैं, टेस्ट मैच में नाबाद(8) रहते हैं, शतकीय साझेदारी(10) में शामिल रहते हैं और टेस्ट मैच के दौरान कम से कम दो छक्के(13) जड़ते हैं. भारत को उन मैचों में हार का मुंह नहीं देखना पड़ता है.

वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप में रोहित शर्मा का बल्ला जमकर चला है और उन्होंने 11 मैच की 17 पारियों में 64.37 की औसत से 1030 रन बनाए हैं. जिसमें 4 शतक और 2 अर्धशतक शामिल हैं. इस दौरान एक पारी में उनका सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन 212 रन रहा है.

रहाणे रहे हैं टूर्नामेंट में सबसे ज्यादा रन बनाने वाले भारतीय

इसी दौरान अजिंक्य रहाणे ने 17 मैच की 28 पारियों में 43.80 के औसत से 1095 रन बनाए हैं. वो भारत के लिए टेस्ट चैंपियनशिप में सबसे ज्यादा रन बनाने वाले बल्लेबाज भी हैं. इस दौरान उनके बल्ले से 3 शतक और 6 अर्धशतक निकले हैं. उनका सर्वाधिक स्कोर 115 रन रहा है. रोहित रहाणे के बाद वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप में दूसरे सबसे ज्यादा रन बनाने वाले भारतीय रहे हैं.

यह भी पढ़िएः फॉफ डुप्लेसिस को सिर में लगी चोट, PSL के बाकी मैचों से हुए बाहर

विजय रथ पर सवार है विलियमसन की टीम

भारत के लिए चैंपियनशिप के दौरान दो सबसे ज्यादा रन बनाने वाले बल्लेबाजों में से किसी एक का भी बल्ला चल निकला और वो तीन अंक के आंकड़े तक पहुंचने में सफल रहा तो इससे कीवी टीम के लिए परेशानियां खड़ी हो जाएंगी. हालांकि कीवी टीम के लिए सबसे महत्वपूर्ण बात यह है कि वो लगातार 8 जीत हासिल करने के बाद फाइनल में पहुंची है. इंग्लैंड को हाल ही में टेस्ट सीरीज में मात दी है.

ऐसे में भारतीय टीम को आंकड़ो और रिकॉर्ड्स से ज्यादा अपने खेल पर खिताबी जीत के लिए भरोसा करना होगा.

Zee Hindustan News App: देश-दुनिया, बॉलीवुड, बिज़नेस, ज्योतिष, धर्म-कर्म, खेल और गैजेट्स की दुनिया की सभी खबरें अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें ज़ी हिंदुस्तान न्यूज़ ऐप.  

ज़्यादा कहानियां

ट्रेंडिंग न्यूज़