AIIMS ने बताया Corona से कब तक सामान्य होंगे हालात, जानिए यहां

एम्‍स के सामुदायिक चिकित्सा विभाग के प्रमुख डॉ. संजय  (Dr Sanjay) ने कहा कि यदि सब कुछ योजना के मुताबिक चला तो कोई भी वैक्सीन अगले साल के मध्य तक दुनिया में कहीं भी आ जाएगी. ऐसे में अगले साल के मध्य तक ही स्थिति सामान्य होने की संभावना है.

AIIMS ने बताया Corona  से कब तक सामान्य होंगे हालात, जानिए यहां

नई दिल्लीः कोरोना के साथ लगभग पूरा साल बीतने को है और अब शिद्दत से वैक्सीन का इंतजार हो रहा है. ऐसे में महामारी से निपटने के साथ वैक्सीन के आने की तारीख और हालात सामान्य होने के समय को जानने को लेकर उत्सुकता बनी हुई है. वैक्सीन को लेकर कई देशों में ट्रायल जारी है.

भारत में भी दूसरे चरण का ट्रायल चल रहा है. ऐसे में सवाल उठ रहे हैं कि वैक्सीन कब तक आएगी. इन सवालों पर एम्स ने शुक्रवार को कहा कि अगले साल के मध्य तक सब कुछ ठीक होने की उम्मीद है. 

एम्स के डॉ. संजय ने दी जानकारी 
जानकारी के मुताबिक, एम्‍स के सामुदायिक चिकित्सा विभाग के प्रमुख डॉ. संजय  (Dr Sanjay) ने कहा कि यदि सब कुछ योजना के मुताबिक चला तो कोई भी वैक्सीन अगले साल के मध्य तक दुनिया में कहीं भी आ जाएगी. ऐसे में अगले साल के मध्य तक ही स्थिति सामान्य होने की संभावना है.

उन्होंने कहा कि जब तक कोई भी प्रभावी वैक्सीन उपलब्ध नहीं होगी तब तक कोरोना के प्रसार को रोकने के लिए मास्क लगाने और हैंड सेनाटाइजर जैसे उपाय ही करने होंगे. 

भारक में वैक्सीन ट्रायल दूसरे चरण में
एम्‍स ने शुक्रवार को कहा कि देश में विभिन्‍न जगहों पर कोरोना वैक्‍सीन के दूसरे चरण का ट्रायल चल रहा है. इसमें 600 से अधिक वालंटियर्स शामिल हैं. डॉ. संजय  (Dr Sanjay) ने कहा कि अप्रैल-मई में आयोजित किए गए ICMR के सेरोसर्वे में 18 वर्ष से अधिक उम्र के 64 लाख वयस्क संक्रमित पाए गए थे. सीरो-सर्वेक्षण केवल संक्रमण की दिशा को दर्शाता है जबकि परीक्षण से संक्रमण की वास्तविक संख्या पता चलती है. 

डॉक्टर संजय के मुताबिक टेस्टिंग तर्कसंगत होनी चाहिए और रोगियों पर अधिक ध्यान दिया जाना चाहिए. सामुदायिक प्रसार के मामले में रणनीति को बदलने की जरूरत है. हमें अब मृत्यु पर ध्यान देना चाहिए न कि मरीजों को अलग करने पर.

यह भी पढ़िएः China में Corona के बाद फैल गया बैक्टीरिया, हजारों लोग हुए बीमार