Monsoon Update: लौट रहे हैं बादल, देश के कई हिस्सों में बारिश के आसार

 पिछले कुछ दिनों से देश के कई हिस्सों में भीषण गर्मी का दौर जारी है. लेकिन अब इसका अंत होता हुआ दिखाई दे रहा है.

Monsoon Update: लौट रहे हैं बादल, देश के कई हिस्सों में बारिश के आसार

नई दिल्ली: पिछले कुछ दिनों से देश के कई हिस्सों में भीषण गर्मी का दौर जारी है. लेकिन अब इसका अंत होता हुआ दिखाई दे रहा है. क्योंकि बंगाल की खाड़ी में मॉनसून फिर से सक्रिय हो रहा है. 

दक्षिण से हो चुकी है शुरुआत 

 कर्नाटक और केरल में रविवार को भारी बारिश (Heavy rain) हुई. इन दोनों राज्यों में फिर से भारी बारिश की आशंका है, जिसके चलते दोनों राज्यों के 8 जिलों में रेड अलर्ट जारी किया गया है. 

मौसम विभाग के मुताबिक  रविवार सुबह तक बंगाल की खाड़ी के ऊपर कम दबाव का एक क्षेत्र बन गया है. जिससे आसपास के तटीय राज्यों में जमकर बारिश हो रही है. भारी बारिश के कारण केरल के आठ जिलों में रेड अलर्ट और 10 जिलों में ऑरेंज अलर्ट जारी किया है.

कर्नाटक के एर्नाकुलम जिले के अधिकारियों ने कहा कि मुवत्तुपुझा नदी बाढ़ के स्तर तक पहुंच रही है जिससे एर्नाकुलम और कोट्टायम जिलों में बाढ़ आने की आशंका है.

तेलंगाना और ओडिशा में बारिश की आशंका  

पड़ोसी राज्य तेलंगाना में भी आज कई हिस्सों में भारी वर्षा हो सकती है. राज्य के आदिलाबाद, करीमनगर, निजामाबाद, वारंगल और खम्मम में तेज बरसात की आशंका जताई जा रही है. सरकार ने जिलों के सभी पुलिस अधीक्षकों और जिलाधिकारियों को सतर्क रहने का निर्देश दिया है.

ओडिशा, पश्चिम बंगाल और बिहार के कुछ हिस्सों में भी आज भारी बारिश होने की आशंका है. ओडिशा सरकार ने मछुआरों से कहा है कि अगले दो-तीन दिन बारिश के साथ ही 45-55 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से चलने वाली हवाओं की संभावना को देखते हुए मछुआरों को सलाह दी गई है कि वे 22 सितंबर तक तट पर न जाएं और न ही समुद्र में उतरें.

ये है मॉनसून लौटने का वैज्ञानिक कारण 

हालांकि पिछले कुछ दिनों से मौसम में गर्मी बनी हुई है.  लेकिन मौसम विभाग ने बंगाल की खाड़ी में निम्न दबाव बनने के बाद दक्षिण पश्चिम मानसून के लौटने की संभावना जताई है.  मानसून दोबारा सक्रिय होने की वजह से 21 सितंबर से 26 सितंबर तक 11 से 18 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से हवा चलेगी. 
पूरे दिन बादल छाए रहेंगे. सूरज छिपा रहेगा. देश के कई हिस्सों में कहीं हल्की मध्यम तो कहीं तेज गति से बारिश होगी. 

मंगलवार और बुधवार को अच्छी खासी बारिश की संभावना है. कई जगहों पर ओले गिरने के भी आसार हैं.

दिल्ली को करना होगा इंतजार

 दिल्ली-NCR में उमस भरी गर्मी के बावजूद अगले दो-तीन दिन तक बारिश के आसार नहीं है. यहां पर पिछले 12 दिन से बारिश नहीं हुई है. मौसम विभाग के आंकड़ों के अनुसार दिल्ली-NCR में सितंबर में अब तक 78 फीसदी कम बारिश हुई है.

अभी तक उम्मीद से कम बारिश
मौसम वैज्ञानिकों ने बताया है कि मॉनसून की शुरुआत में ज्यादा बारिश का अनुमान लगाया गया था. लेकिन उतनी बारिश नहीं हुई. क्योंकि जलवायु में अचानक परिवर्तन आ गया था. 
लेकिन अभी मानसून की विदाई नहीं हुई है. बंगाल की खाड़ी में मानसून की सक्रियता फिर से देखने को मिल रही है. जिसका असर देश के अधिकांश हिस्सों पर दिखाई देगा. इस नए मॉनसून की वजह से अगले पांच दिन में कभी तेज तो कभी हल्की मध्यम बारिश होगी. 
ये मॉनसून की आखिरी बरसात है. जिसके बाद अक्टूबर के दूसरे हफ्ते में बादलों की पूरी तरह विदाई हो जाएगी. 

ये भी पढ़ें- दक्षिण के दो राज्यों में बारिश से बुरा हाल