close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

देश भर के किसानों को मोदी सरकार देगी तोहफा

देश भर के किसानों को मोदी सरकार की तरफ से जबरदस्त तोहफा मिलने जा रहा है. आइए आपको बताते हैं कि किसान कैसे इस योजना का लाभ उठा सकते हैं.   

देश भर के किसानों को मोदी सरकार देगी तोहफा
किसानों को मिलेगा उपहार

नई दिल्ली: पीएम-किसान मानधन पेंशन योजना (Pradhan Mantri Kisan Maandhan Yojna) के तहत देश भर में 17,84,341 किसानों ने रजिस्ट्रेशन करवाया है. जिसमें जम्मू-कश्मीर के 195, मेघालय के सिर्फ 8 और असम के 4,366 किसानों ने रजिस्ट्रेशन करवाया है. जिसे देखते हुए सरकार ने जम्मू-कश्मीर, लद्दाख, असम और मेघालय के किसानों के लिए आधार उपलब्ध करवाने की समय सीमा बढ़ा कर मार्च 2020 कर दी है. इस स्कीम का लाभ उठाने के लिए देश भर में आधार कार्ड अनिवार्य किया गया है. लेकिन इन चार राज्यों के लिए ऐसा नहीं किया गया है. वहां के किसानों को विशेष छूट दी गई है.

योजना के लिए चाहिए यह योग्यता
आपको बता दें कि इस स्कीम के लिए 18 से 40 साल तक के किसान योग्य है. किसानों को उम्र के हिसाब से प्रति माह 55 से लेकर 200 रुपये तक प्रीमियम देना होगा. इसके तहत 60 साल की उम्र से 3000 रुपये की पेंशन दी जाएगी. पेंशन योजना के अंतर्गत 12 करोड़ किसान को लाभ मिलेगा. और अगर कोई किसान निर्धारित अवधि पुरा होने से पहले ही स्कीम छोड़ना चाहता है तो उसका पैसा नहीं डूबेगा. उसने स्कीम छोड़ने से पहले तक जो पैसे जमा किए होंगे उसे उस पर सेविंग अकाउंट के ब्याज का ब्याज मिल जाएगा.

इस तरह करें आवेदन
अगर आप किसान हैं तो आप अपने नजदीकी कॉमन सर्विस सेंटर (CSC) पर जाकर अपना नाम दर्ज करवा सकते हैं. साथ ही यदि कोई किसान पीएम-किसान सम्मान निधि (Pradhan Mantri Kisan Samman Nidhi Scheme) का पहले से ही लाभ ले रहा है तो उसे इसके लिए आधार के अलावा ओर कोई दस्तावेज देने की आवश्यकता नहीं है.