• देश में कोविड-19 से सक्रिय मरीजों की संख्या 80,722 पहुंची, जबकि संक्रमण के कुल मामले 1,45,380: स्त्रोत-PIB
  • कोरोना से ठीक होने वाले लोगों की संख्या- 60,491 जबकि अबतक 4,167 मरीजों की मौत: स्त्रोत-PIB
  • देश भर में 532 घरेलू यात्री उड़ानें संचालित, 39,231 यात्रियों को उनके गंतव्य तक पहुंचाया गया
  • रेलवे ने 3060 श्रमिक स्पेशल ट्रेनों का परिचालन किया; 40+ लाख यात्रियों को वापस घर पहुंचाया गया
  • एनपीपीए ने किफायती कीमतों पर एन -95 मास्क की उपलब्धता सुनिश्चित करने के लिए एडवाइजरी जारी की, निर्माताओं ने कीमतें 47% तक कम कीं
  • लघु उद्योग इकाइयों को वित्तीय सहायता देने के लिए सरकार वित्तीय ऋण देने वाले नए संस्थानों की तलाश कर रही है: एमएसएमई मंत्री
  • यूजीसी के MOOCs प्लेटफ़ॉर्म पर एनिमेशन पाठ्यक्रम की शुरुआत , घर पर रह कर सीखें एक नया कौशल !
  • सुझाव: स्वास्थ्य में समग्र सुधार के लिए स्थानीय उत्पादित खाद्य पदार्थों को अपनी जीवन शैली का हिस्सा बनाएं

IRCTC ने 30 अप्रैल तक कैंसिल कर दी अपनी ट्रेनें, मिलेगा पूरा रिफंड

कोरोना वायरस को लेकर जारी लॉकडाउन 14 अप्रैल को खत्म हो रहा है. अभी इस लॉकडाउन को बढ़ाने पर कोई फैसला नहीं हुआ है. लेकिन रेलवे के उपक्रम इंडियन रेलवे कैटरिंग ऐंड टूरिज्म कारपोरेशन (IRCTC) ने अपनी तीनों ट्रेनों को 30 अप्रैल तक के लिए कैंसिल कर दिया गया है.

IRCTC ने 30 अप्रैल तक कैंसिल कर दी अपनी ट्रेनें, मिलेगा पूरा रिफंड

नई दिल्लीः कोरोना वायरस ने दुनियाभर के हिस्से में घर बंदी लिख दी है. इससे सभी लोग जहां-तहां कैद हैं. भारत में भी 21 दिन का लॉकडाउन जारी है. इसीके साथ जो रेल सेवा युद्धक परिस्थितियों में भी बंद नहीं हुईं थीं महामारी ने उसके भी चक्के जाम कर दिए हैं. फिलहाल लोगों की चिंता है कि क्या 14 अप्रैल के बाद लॉकडाउन खुलेगा.

अगर खुलता है तो क्या ट्रेनें चलेंगीं. हालांकि अभी इसका निर्णायक फैसला नहीं लिया गया है, लेकिन दो ट्रेनों को लेकर जानकारी आ गई है. 

कोरोना वायरस को लेकर जारी लॉकडाउन 14 अप्रैल को खत्म हो रहा है. अभी इस लॉकडाउन को बढ़ाने पर कोई फैसला नहीं हुआ है. लेकिन रेलवे के उपक्रम इंडियन रेलवे कैटरिंग ऐंड टूरिज्म कारपोरेशन (IRCTC) ने अपनी तीनों ट्रेनों को 30 अप्रैल तक के लिए कैंसिल कर दिया गया है.

IRCTC फिलहाल नई दिल्ली से लखनऊ और मुंबई से अहमदाबाद के बीच तेजस एक्सप्रेस और वाराणसी से इंदौर के बीच महाकाल एक्सप्रेस  ट्रेनें चलाता है.  

लॉकडाउन में पैसे की चिंता नहीं, लाखों नौकरीपेशा को बढ़कर मिलेगी सैलरी, जानिए कैसे

इन ट्रेनों थी बुकिंग तो मिलेगा रिफंड
IRCTC के मुताबिक जिन यात्रियों ने इन ट्रेनों में 15 से 30 अप्रैल 2020 के बीच यात्रा के लिए टिकट बुक कर रखा था उन्हें पूरा रिफंड दिया जाएगा. यात्रियों को रिफंड के लिए परेशान होने की जरूरत नहीं हैं. दरअसल IRCTC की इन तीनों ट्रेनों में ऑनलाइन टिकट बुक होती है. ऐसे में ट्रेन कैंसिल होने पर यात्रियों के खाते में अपने आप रिफंड आ जाएगा.  

ई टिकट को कैंसिल न करे
ट्रेन कैंसिल होने पर ई टिकट को ऑटोमैटिक तरीके से कैंसिल कर दिया जाता है.  यात्रियों को ऑटोमैटिक तरीके से पूरा रिफंड दिया जाता है. रिफंड की राशि यात्रियों के खाते में ट्रांस्फर कर दी जाती है.  अगर कोई यात्री अपना टिकट कैंसिल कराया है तो टिकट कैंसिल करने पर कैंसिलेशन चार्ज काटे जा सकते हैं.

ऐसे में यात्री को नुकसान हो सकता है.  ऐसे में यात्रियों को रेलवे की ओर से सलाह दी गई है कि वो अपना ई टिकट कैंसिल न करें.

SBI ने ग्राहकों को फिर दी नई राहत, जानिए कैसे घटेगी EMI

रेलवे ने कैंसिल की हैं सभी ट्रेनें
भारतीय रेलवे ने कोरोना वायरस  के खतरे को ध्यान में रखते हुए 14 अप्रैल तक सभी यात्री ट्रेनों को कैंसिल कर दिया है. लेकिन इस बीच देश भर में आवश्यक वस्तुओं को पहुंचाने के लिए मालगाड़ियों को चलाया जा रहा है.

माल गाड़ियों को चलाने के लिए रेल कर्मचारियों को ऑफिस पहुंचने में हो रही दिक्कत को ध्यान में रखते हुए रेलवे के दिल्ली मंडल ने वर्कमैन स्पेशल ट्रेनें चलाने का ऐलान किया है. इन ट्रेनों में सिर्फ रेल कर्मचारी ही यात्रा कर सकेंगे.