31 मार्च 2020 पैन और आधार कार्ड को लिंक करने की अंतिम तारीख

अगर आपने अपने PAN कार्ड को अभी तक आधार कार्ड से लिंक नहीं करवाया है तो आपकी परेशानी बढ़ने वाली है. क्योंकि 31 मार्च 2020 से जिसने भी पैन कार्ड और आधार कार्ड को लिंक नहीं करवाया है उनका कार्ड रद्द हो सकता है.  

Written by - Zee Hindustan Web Team | Last Updated : Mar 11, 2020, 04:29 PM IST
    • आधार कार्ड और पैन कार्ड को लिंक करना अनिवार्य
    • ऐसे कर सकते हैं कुछ ही मिनट में लिंक
 31 मार्च 2020 पैन और आधार कार्ड को लिंक करने की अंतिम तारीख

नई दिल्ली: 31 मार्च 2020 के बाद आपका PAN Card रद्द किया जा सकता है. अगर आपने अभी तक अपने पैन कार्ड को आधार कार्ड के साथ लिंक नहीं करवाया है तो जल्दी करें. क्योंकि लिंक नहीं होने पर इसे इनऑपरेटिव कैटेगरी में डाल दिया जाएगा.

अगर डेबिट/ क्रेडिट कार्ट का इस्तेमाल करते हैं तो यह खबर आपके लिए ही है.

कुछ ही मिनट में कार्ड को करें लिंक
बता दें कि 31 मार्च 2020 तक पैन और आधार कार्ड को लिंक जरूर करा लें. आधार-पैन को लिंक करने की प्रक्रिया बेहद ही आसान है. यह कुछ ही मिनट में घर बैठे लिंक करवाया जा सकता है. हालांकि, कुछ मामलों में लोगों को दिक्कत आ रही है. क्योंकि, पैन और आधार अगर डीटेल्स अलग हैं तो लिंकिंग प्रोसेस आगे नहीं बढ़ेगा. अगर आपके आधार और पैन में दी गई कोई भी जानकारी मैच नहीं कर रही है, तो UIDAI आपका लिंकिंग रिक्वेस्ट को रिजेक्ट कर देगा. भारत में हर तीसरे नागरिक का आधार-पैन कार्ड से लिंक नहीं है. सभी बिना लिंक हुए पैन-आधार कार्ड 1 अप्रैल 2020 से इन एक्टिव कर दिए जाएंगे.

पैन- आधार लिंकिंग करने की प्रक्रिया
आधार और पैन को लिंक करने के लिए आयकर विभाग UIDAI से डेटा मैच करता है. ऐसे में कोई भी जानकारी गलत होने से लिंकिंग रिक्वेस्ट रिजेक्ट हो जाती है. ये बहुत से मामलों में देखा जाता है, इसमें टैक्यपेयर्स का नाम, डेट ऑफ बर्थ और जेंडर जैसी जानकारी पैन और आधार में मैच नहीं करती हैं. UIDAI ने दिसंबर 2017 में पार्शियल मैचिंग प्रोसेस बंद कर दिया है.

कोरोना से बचना है तो गैजेट्स की सफाई भी करना न भूलें.

ऐसे कर सकते हैं जानकारी को सही
पैन-आधार लिंकिंग प्रक्रिया में डीटेल्स मिसमैच होने पर इसे ठीक कराया जा सकता है.
आपके पास बायोमेट्रिक आधार ऑथेन्टिकेशन (Biometric Aadhaar Authentication) का ऑपशन होता है.
NSDL के पोर्टल से आधार सीडिंग रिक्वेस्ट (Aadhaar Seeding Request) डाउनलोड करना होगा.
अपने नजदीकी पैन सेंटर जाकर ऑफलाइन बायोमेट्रिक आधार ऑथेन्टिकेशन प्रक्रिया पूरी कर सकते हैं.
NSDL या UTITSL की वेबसाइट की मदद से अपने नजदीकी पैन सेंटर के बारे में जानकारी लें.
एक फॉर्म भरना होगा. इसमें अपने पैन और आधार नंबर की जानकारी के साथ नाम भी देने होगा.
इसके बाद आप आधार या पैन डेटाबेस में नाम या कोई और जानकारी को बदल सकते हैं.
डीटेल्स चेंज कराने पर आधार और पैन को लिंक करने की रिक्वेस्ट डाल सकते हैं.
सभी नए पैन कार्ड आवेदकों को अपने एप्लीकेशन फॉर्म में आधार नंबर कोट करना जरूरी है.

 

ज़्यादा कहानियां

ट्रेंडिंग न्यूज़