दिल्ली की बसों में सफर करने के लिए अब मोबाइल से खरीद सकते हैं E-टिकट

देश की राजधानी दिल्ली में परिवहन विभाग ने ई-टिकटिंग सिस्टम शुरू किया है, जिसके लिए 3 दिन का ट्रायल शुरू हो गया है. आपको बताते हें कि कैसे बसों में आप बसों में अपने मोबाइल से ई-टिकट बुक कर सकते हैं..

दिल्ली की बसों में सफर करने के लिए अब मोबाइल से खरीद सकते हैं E-टिकट

नई दिल्ली: दिल्ली में डीटीसी और क्लस्टर बसों में सफर करने के लिए ई-टिकट का ट्रायल शुरू हो गया है. ये ट्रायल 3 दिन तक चलेगा, जिसमें यात्री मोबाइल ऐप के जरिए बस की टिकट बुक कर सकते हैं.

दिल्ली में ई-टिकटिंग सिस्टम शुरू

बसों में सफर करने के दौरान कोविड के संक्रमण को रोकने के लिए परिवहन विभाग ने ई-टिकटिंग सिस्टम शुरू किया है. जिसके चलते यात्री मोबाइल ऐप पर बस में बैठने के बाद ई-टिकट ले सकते हैं.

दिल्ली सरकार का परिवहन विभाग कोरोना के संक्रमण के रोकथाम के मद्देनजर सोशल डिस्टेंसिंग को बरकरार रखने के लिए डीटीसी व क्लस्टर बसों में ई-टिकटिंग सिस्टम को शुरू करने जा रहा है. इसके लिए परिवहन विभाग आज से रूट नंबर 473 की सभी क्लस्टर बसों में तीन दिवसीय ई-टिकटिंग सिस्टम का ट्रायल शुरू कर दिया है.

मोबाइल की मदद से टिकट प्राप्त

परिवहन विभाग ने अनुरोध किया है कि इस दौरान इन बसों में चलने वाले यात्रीगण मोबाइल की मदद से टिकट प्राप्त करें. ई-टिकट लेने के लिए यात्रियों को अपने मोबाइल पर चार्टर (Chartr) ऐप को डाउनलोड करना होगा. इस एप की मदद से यात्री टिकट की कीम (यदि आपको पता हैं) या चढ़ने-उतरने वाले स्टाप के विकल्प को चुन कर ई-टिकट ले सकते हैं.

जानिए कैसे खरीद सकते हैं ई-टिकट

यात्रियों को मोबाइल से टिकट खरीदने के लिए अपने मोबाइल में चार्टर (Chartr) ऐप को इनस्टॉल करना होगा.अपना रजिस्ट्रेशन करने के बाद यात्री दो तरीके से ई-टिकट प्राप्त कर सकते हैं. पहला, यदि आप टिकट की कीमत जानते हैं, तो आप बाई फेयर विकल्प पर जाकर क्यूआर कोड को स्कैन करेंगे और बाई बटन को दबाएंगे और भुगतान का विकल्प चुन कर टिकट ले सकते हैं.

दूसरा, यदि आप चढ़ने वाला और गंतव्य बस स्टॉप का नाम जानते हैं, तो आपको एप के बाई डेस्टिनेशन विकल्प पर जाकर अपना बस मार्ग और बस स्टॉप चुनेंगे. फिर आखिरी बस स्टॉप चुनेंगे. इसके बाद बाई बटन दबाएं और क्यूआर कोड स्कैन कर भुगतान करेंगे.

इसे भी पढ़ें: मिस इंडिया 2016 की फाइनलिस्ट ऐश्वर्या ने UPSC परीक्षा में 93वां स्थान प्राप्त किया

ई-टिकटिंग सिस्टम एक एपीआई (एप्लिकेशन इंटरफेस) है, जिसे किसी भी ऐप जैसे पेटीएम, फोन पे, ओला या उबर के साथ जोड़ा जा सकता है. इसी के साथ प्रत्येक बस के जीपीएस ट्रैकिंग को भी अनेबल करना होगा. वर्तमान में सभी क्लस्टर बसों में जीपीएस ट्रैकर हैं.

इसे भी पढ़ें: मिस इंडिया 2016 की फाइनलिस्ट ऐश्वर्या ने UPSC परीक्षा में 93वां स्थान प्राप्त किया

इसे भी पढ़ें: काम नहीं आई रिया की तिकड़मबाजी, ED दफ्तर में हुई पेश