PM Kisan Yojana: आज जारी होगी आठवीं किस्त, जानिए किन किसानों को मिलेगा लाभ

प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना की आठवीं आज जारी होने वाली है. इस योजना के तहत रजिस्टर्ड किसान लाभार्थी सूची में अपना नाम इस तरह चेक कर सकते हैं. 

Written by - Zee Hindustan Web Team | Last Updated : May 14, 2021, 06:53 AM IST
PM Kisan Yojana: आज जारी होगी आठवीं किस्त, जानिए किन किसानों को मिलेगा लाभ

नई दिल्ली: देश के किसानों को आर्थिक सहायता देने के उद्देश्य से पीए नरेंद्र मोदी ने प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना की शुरुआत की थी. इस योजना के तहत रजिस्टर्ड किसानों को सालाना 6,000 रुपये की आर्थिक मदद दिए जाने के प्रावधान है. यह राशि किसानों के खाते में 2,000 रुपये की तीन किस्तों में भेजी जाती है. 

केंद्र सरकार अबतक इस योजना की सात किस्तें जारी कर चुकी है. इस योजना की आठवीं किस्त 14 मई, 2021 को जारी होने वाली है. पहले माना जा रहा था कि होली के आसपास सरकार आठवीं किश्त जारी कर सकती है लेकिन ऐसा नहीं हुआ. आठवीं किश्त को हासिल करने के लिए किसानों को लंबा इंतजार करना पड़ा है. 

जानिए अपनी आठवीं किस्त का Status
PM Kisan Yojana के तहत रजिस्टर्ड किसान के खाते में राशि भेजी जाएगा. खाते में पैसा आया या नहीं इसका पता किसान अब घर बैठे ही लगा सकते हैं. बहुत से किसानों को यह पता लगाने में काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ता है कि उनके खाते में किसान सम्मान निधि का पैसा आया है या नहीं. कोरोना संकट और अधिकांश राज्यों में लगे लॉकडाउन के बीच इसका पता करने के लिए किसानों के लिए बैंकों तक जाना भी मुश्किल है. 

अपनी किश्त का स्टेटस चेक करने के लिए किसानों को सामान्य सी प्रक्रिया का पालन करना होगा. सबसे पहले किसान pmkisan.gov.in वेबसाइट ओपन करें. इसके बाद  'Farmers Corner' ऑप्शन पर क्लिक करें. इसके बाद आए विकल्पों में से लाभार्थी सूची (Beneficiary Status) पर क्लिक करें.

लाभार्थी सूची पर क्लिक करने के बाद आपको अपने क्षेत्र से जुड़ी जानकारियां भरनी होंगी. जैसे कि राज्य, जिला, उप-जिला, ब्लॉक और गांव का नाम भरना होगा. इसके बाद गेट रिपोर्ट(Get Report) ऑप्शन पर क्लिक करते ही आपके सामने पूरी सूची आ जाएगी. इस लिस्ट में आप अपना नाम और किश्त का स्टेटस देख सकते हैं. 

भूमिहीन किसानों को नहीं मिलेगा लाभ 
प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि का लाभ उठाने के लिए किसान के नाम पर कृषि भूमि होना आवश्यक है. इस योजना से कई ऐसे किसान भी जुड़े हुए हैं, जिनके नाम पर कृषि भूमि नहीं है. सरकार ने ऐसे किसानों को योजना से बाहर करने का फैसला किया है. 

संयुक्त परिवार के किसानों के लिए भी हुआ है बदलाव 
इसके अलावा सरकार ने संयुक्त परिवार को नियमों में भी इस योजना के अंतर्गत बदलाव करने करने का फैसला किया है. अबतक संयुक्त परिवार के किसानों को भी इस योजना का लाभ मिल रहा था लेकिन केंद्र सरकार ने संयुक्त परिवारों के लिए भी पात्रता शर्तों में बदलाव किया है.

अब संयुक्त परिवार के किसानों के लिए अपने नाम पर रजिस्टर्ड जमीन का ब्यौरा देना होगा. अगर कोई किसान अपने पारिवारिक या साझा खेत में खेती करता है, तो परिवार के उसी सदस्य को योजना का लाभ मिलेगा, जिसके नाम पर खेती की जमीन रजिस्टर्ड है. संयुक्त परिवार के किसानों को योजना का लाभ उठाने के लिए अपने हिस्से की जमीन को अपने नाम पर रजिस्टर कराना होगा. तभी वो इस योजना का लाभ आगे पा सकेगा. 

Zee Hindustan News App: देश-दुनिया, बॉलीवुड, बिज़नेस, ज्योतिष, धर्म-कर्म, खेल और गैजेट्स की दुनिया की सभी खबरें अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें ज़ी हिंदुस्तान न्यूज़ ऐप.  

 

ज़्यादा कहानियां

ट्रेंडिंग न्यूज़