गर्भवती महिलाओं को कब लगेगी कोरोना की वैक्सीन?

देश में कोरोना की दूसरी लहर का कहर अब धीरे-धीरे कम हो रहा है, वैक्सीनेशन की रफ्तार तो तेज हो रही है मगर सवाल ये है कि गर्भवती महिलाओं को टीका कब लगेगा?

Written by - Zee Hindustan Web Team | Last Updated : Jun 12, 2021, 12:12 PM IST
  • गर्भवती महिलाओं की वैक्सीनेशन में देरी क्यों?
  • क्या गर्भवती महिलाओं को वैक्सीन से खतरा?
गर्भवती महिलाओं को कब लगेगी कोरोना की वैक्सीन?

नई दिल्ली: कोरोना की दूसरी लहर अब धीरे-धीरे कम होती जा रही है. मामले कम हो रहे हैं हालांकि खतरा अब भी टला नहीं है. एक तरफ दूसरी लहर पूरी तरह से खत्म नहीं हुई है. तो वहीं तीसरी लहर की आशंका भी बनी हुई है.

गर्भवती महिलाओं के वैक्सीनेशन पर कोई कदम नहीं

ऐसे में कोरोना वायरस से बचाव के कई उपायों में वैक्सीन सबसे कारगर उपाय है और देश तेज़ी से उस तरफ बढ़ भी रहा है, लेकिन गर्भवती महिलाओं के वैक्सीनेशन की तरफ कोई खास कदम नहीं बढ़ाए गये हैं. जबकि खतरा ऐसी महिलाओं पर सबसे ज्यादा है.

एक रिसर्च के मुताबिक कोरोना की दूसरी लहर में पहली लहर के मुकाबले 4 गुना अधिक गर्भवती महिलाओं की मौत हुई है. सवाल यही बना हुआ है कि गर्भवती महिलाओं को वैक्सीन कब?

क्या कहती है रिपोर्ट?

देश में गर्भवती महिलाओं के वैक्सीनेशन की मांग तेज हो रही है, इस बीच सफदरजंग अस्पताल की गर्भवती महिलाओं पर रिपार्ट आई.  जिसमें ये कहा गया कि गर्भवती महिलाएं हाई प्रायोरिटी ग्रुप में शामिल हों. गर्भवती महिलाओं पर वायरस का गंभीर असर होता है. सामान्य महिला की तुलना में गर्भवती महिलाओं को ज्यादा खतरा है.

अब आपको बताते हैं कि किस देश में गर्भवती महिलाओं के वैक्सीनेशन को मंजूरी दी गई है.

गर्भवती महिलाओं को वैक्सीन की मंजूरी कहां?

अमेरिका
ब्रिटेन
ब्राजील
फ्रांस
इटली
अर्जेंटीना
स्पेन
मैक्सिको
नीदरलैंड

देश में महिलाओं के अधिक वैक्सीनेशन वाले टॉप 5 राज्य

केरल- 52% से अधिक
छत्तीसगढ़- 51% से अधिक
हिमाचल प्रदेश- 49.7% से अधिक
आंध्र प्रदेश- 49.3% से अधिक
गोवा- 48.8% से अधिक

देश में महिलाओं के कम वैक्सीनेशन वाले टॉप 5 राज्य

दिल्ली- 41.9% से अधिक
नागालैंड- 42.5% से अधिक
यूपी- 42.7% से अधिक
पंजाब- 43.5% से अधिक
पश्चिम बंगाल- 43.8% से अधिक

वैक्सीनेशन पर देश में पुरुष Vs महिला

जनसंख्या (जनगणना 2011) के मुताबिक देश में 18 वर्ष की अधिक आयु वाले पुरुषों की कुल संख्या 39 करोड़ से अधिक है, जिसमें से 10 करोड़ 30 लाख से अधिक पुरुषों को वैक्सीन लग चुकी है.

वहीं जनसंख्या (जनगणना 2011) के मुताबिक देश में 18 वर्ष की अधिक आयु वाले महिलाओं की कुल संख्या 37 करोड़ से अधिक है, जिसमें से 8 करोड़ 81 लाख से अधिक पुरुषों को वैक्सीन लग चुकी है.

इसे भी पढ़ें- Delhi Liquor Delivery: दिल्ली में आज से शुरू हुई शराब की होम डिलीवरी, ऐसे कर सकेंगे ऑर्डर

देश में गर्भवती महिलाओं की वैक्सीनेशन में देरी हो रही है, निश्चित तौर पर हर कोई जानना चाहेगा कि इसके पीछे की असल वजह क्या है. क्या गर्भवती महिलाओं को वैक्सीन से खतरा है या क्या गर्भ में पल रहे बच्चे को वैक्सीन से खतरा है?

लोगों के जेहन में ये सवाल भी है कि क्या गर्भवती महिलाओं में वैक्सीन का साइडइफेक्ट होगा. दूध पिलाने वाली मां का वैक्सीनेशन सही है, क्या वैक्सीनेशन के बाद दूध पिलाने की मनाही है या नहीं और बच्चे के जन्म के कितने दिन बाद वैक्सीन सही है. अभी तक इस पर कोई आधिकारिक जानकारी नहीं साझा की गई है.

इसे भी पढ़ें- कोरोना संक्रमण से ठीक होने वालों में बहरेपन के लक्षण: कम सुनाई दे रहा है

Zee Hindustan News App: देश-दुनिया, बॉलीवुड, बिज़नेस, ज्योतिष, धर्म-कर्म, खेल और गैजेट्स की दुनिया की सभी खबरें अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें ज़ी हिंदुस्तान न्यूज़ ऐप.

ज़्यादा कहानियां

ट्रेंडिंग न्यूज़