Ration Card: अंगूठे का निशान नहीं मिलने के बाद भी मिलेगा राशन, बस करना होगा यह काम

बायोमीट्रिक मिलान नहीं होने से राशन जैसी मूलभूत सुविधा से वंचित रहने वाले लोगों के लिए अच्छी खबर आई है. अब वे अपने बदले किसी दूसरे व्यक्ति को अपना राशन लेने के लिए राशन की दुकान पर भेज सकते हैं. 

Written by - Zee Hindustan Web Team | Last Updated : Sep 9, 2021, 06:43 PM IST
  • बायोमीट्रिक मैच नहीं होने से कई लोगों को नहीं मिल पाता है राशन
  • अब ऐसे लोग अपना राशन लेने के लिए किसी और को कर सकेंगे नॉमिनेट

ट्रेंडिंग तस्वीरें

Ration Card: अंगूठे का निशान नहीं मिलने के बाद भी मिलेगा राशन, बस करना होगा यह काम

Ration Card: बायोमीट्रिक (Biometric) मिलान नहीं होने से राशन जैसी मूलभूत सुविधा से वंचित रहने वाले लोगों के लिए अच्छी खबर आई है. अब वे अपने बदले किसी दूसरे व्यक्ति को अपना राशन लेने के लिए राशन की दुकान पर भेज सकते हैं. दिल्ली सरकार ने लोगों को नॉमिनेशन की सुविधा दी है. 

लगातार आ रही थीं शिकायतें
दरअसल, राजधानी दिल्ली में राशन की दुकानों पर ई-पीओएस सिस्टम लागू है. वहां कार्डधारक को राशन लेने के लिए ई-पीओएस मशीन के जरिये बायोमीट्रिक मिलान के बाद राशन दिया जा रहा है. लेकिन, कई बुजुर्ग व अन्य लोगों का ई-पीओएस के जरिए बायोमीट्रिक का मिलान नहीं हो पा रहा था. इस कारण लोगों को राशन की सुविधा नहीं मिल पा रही थी. इस तरह की शिकायतों के बाद दिल्ली सरकार ने नॉमिनेशन सुविधा शुरू की. 

यह भी पढ़िएः 7th pay commission latest: रिटायर्ड कर्मचारियों की ग्रेच्युटी को लेकर आई बड़ी खबर, इस दर पर मिलेगा DA

'राशन से वंचित न हो कोई'
खबरों के मुताबिक, खाद्य मंत्री इमरान हुसैन (Imran Hussain) ने कहा कि दिल्ली में जिन राशन कार्डधारकों का फ्री राशन पाने के लिए बायोमीट्रिक का मिलान नहीं हो पा रहा है, वे अब अपनी ओर से इसे लेने के लिए किसी अन्य व्यक्ति को नॉमिनेट कर सकते हैं. यह सुनिश्चित किया जाए कि कोई भी व्यक्ति बायोमीट्रिक की खामियों के चलते राशन से वंचित न हो. 

बुजुर्गों, दिव्यांगों को होगा लाभ
इस सुविधा से बुजुर्गों और बीमार लोगों को काफी फायदा होगा. जिन परिवारों में सभी लोग बुजुर्ग हैं या बीमार हैं तो वे किसी अन्य व्यक्ति को अपना राशन लाने के लिए नामांकित कर सकते हैं. इसी तरह दिव्यांगों और मजदूर वर्ग के लोगों को भी इस सुविधा का फायदा मिलेगा. क्योंकि काम करते-करते कई मजदूरों के अंगूठे की रेखाएं मिट जाती हैं. बशर्ते, जिस व्यक्ति का नाम तय किया जाए, उसका राशन कार्ड भी उसी दुकान पर रजिस्टर्ड होना चाहिए, जहां से संबंधित परिवार का राशन मिलता है.

यह भी पढ़िएः PM Kisan: किसानों के लिए KCC पाना हुआ आसान, इन तरीकों से चेक करें अपना क्रेडिट

'राशन कार्ड जारी करने में न हो देरी'
मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, इमरान हुसैन ने राशन कार्डों को लेकर हुई समीक्षा बैठक में निर्देश दिए कि राशन कार्ड जारी करने में कोई देरी नहीं होनी चाहिए. अधिकारियों ने उन्हें बताया कि केंद्र सरकार ने राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा अधिनियम 2013 के तहत दिल्ली में लगभग 72.78 लाख राशन लाभार्थियों का लक्ष्य निर्धारित किया है.

Zee Hindustan News App: देश-दुनिया, बॉलीवुड, बिज़नेस, ज्योतिष, धर्म-कर्म, खेल और गैजेट्स की दुनिया की सभी खबरें अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें ज़ी हिंदुस्तान न्यूज़ ऐप.  

ज़्यादा कहानियां

ट्रेंडिंग न्यूज़