• देश में कोविड-19 से सक्रिय मरीजों की संख्या 1,01,497 पहुंची, जबकि संक्रमण के कुल मामले 2,07615: स्त्रोत-PIB
  • कोरोना से ठीक होने वाले लोगों की संख्या- 1,00,303 जबकि अबतक 5,815 मरीजों की मौत: स्त्रोत-PIB
  • रेलवे ने 4155 श्रमिक स्पेशल ट्रेनों का परिचालन किया; 57+ लाख यात्रियों को उनके गंतव्य तक पहुँचाया गया
  • इलेक्ट्रॉनिक्स और आईटी मंत्री ने #AatmaNirbharBharat के लिए इलेक्ट्रॉनिक्स उत्पादन को बढ़ावा देने के लिए 3 योजनाओं की शुरुआत की
  • #AatmaNirbharBharat के लिए #MakeInIndia को प्रोत्साहित करने के लिए DPIIT ने पब्लिक प्रोक्योरमेंट ऑर्डर, 2017 में संशोधन किया
  • एंटी-कोविड ​​ड्रग मॉलेक्यूल के फास्ट-ट्रैक विकास के लिए SERDB-DST ने IIT (BHU) वाराणसी में अनुसंधान के लिए सहयोग को मंजूरी दी
  • ट्राइफेड कोविड ​​-19 के कारण संकट में पड़े आदिवासी कारीगरों को हरसंभव सहायता प्रदान करेगी
  • पीएसए और डीएसटी ने संयुक्त रूप से राष्ट्रीय विज्ञान प्रौद्योगिकी और नवाचार नीति 2020 के निर्माण की प्रक्रिया की शुरुआत की
  • कृषि, सहकारिता एवं किसान कल्याण विभाग ने विभिन्न बागवानी फसलों के लिए 2019-20 का दूसरा अग्रिम अनुमान जारी किए हैं
  • कोविड के लक्षण विकसित होने पर, घबराएं नहीं, तुरंत 1075 पर कॉल करें #IndiaFightsCorona #BreakTheStigma

केंद्रीय उड्डयन मंत्री ने की प्रेस कान्फ्रेंस, कहा-मिडिल सीट खाली नहीं रहेगी

केंद्रीय मंत्री ने कहा कि पहले एयरलाइन कंपनियां अपने न्यूनतम और अधिकतम किराया अपनी वेबसाइट पर डाल देती थीं. अब हमने रेल किरायों को ध्यान में रखते हुए किराया तय करने के बारे में सोचा है, जो रियलिस्ट है. वह बोले, हमने वास्तविक किराया फिक्स किया है ताकि किसी के बिजनस को मुश्किल का सामना न करना पड़े.

केंद्रीय उड्डयन मंत्री ने की प्रेस कान्फ्रेंस, कहा-मिडिल सीट खाली नहीं रहेगी

नई दिल्लीः केंद्रीय नागरिक उड्डयन मंत्री हरिदीप पुरी ने गुरुवार को प्रेसवार्ता की. इस दौरान उन्होंने उन कई सवालों का जवाब दिया जो कि हवाई यात्रा के लिए जरूरी थे. दरअसल, केंद्रीय मंत्री ने बुधवार लॉकडाउन-4 में ही हवाई यात्रा शुरू करने की घोषणा कर दी है. 25 मई से उड़ानों की शुरुआत की जा रही है. इस दौरान नागरिक उड्डयन मंत्री हरदीप सिंह पुरी ने यात्रा के लिए तय किराया और इससे जुड़ी शर्तें बताईं, साथ ही कहा कि अभी तक वंदे भारत मिशन के तहत 20 हजार से अधिक लोगों को वापस लाया गया है. इस दौरान नागरिक उड्डयन सचिव  भी मौजूद रहे.

वास्तविक किराया पर जोर
केंद्रीय मंत्री ने कहा कि पहले एयरलाइन कंपनियां अपने न्यूनतम और अधिकतम किराया अपनी वेबसाइट पर डाल देती थीं. अब हमने रेल किरायों को ध्यान में रखते हुए किराया तय करने के बारे में सोचा है, जो रियलिस्ट है. वह बोले, हमने वास्तविक किराया फिक्स किया है ताकि किसी के बिजनस को मुश्किल का सामना न करना पड़े.

मिडिल सीट खाली नहीं, सोशल डिस्टेंसिंग कैसे?
हरदीप पुरी ने कहा कि मिडिल सीट खाली रखने के सवाल पर कहा, उड़ान के दौरान बीच की सीट खाली नहीं छोड़ी जाएगी. उन्होंने कहा कि हर उड़ान के बाद फ्लाइट को डिसइन्फेक्ट किया जाता है. यात्रियों और क्रू के लिए हर सावधानी बरती जाती है. अगर मिडिल सीट खाली छोड़ दें तो इसका भार यात्रियों पर जाएगा. 

रेलवे एक जून से चलाएगा और अधिक ट्रेनें, टिकट बुकिंग की हुई शुरुआत

ऐसे होगा उड़ानों का संचालन
नागरिक उड्डयन मंत्री ने बताया कि गर्मियों के शेड्यूल 2020 के हिसाब से एक-तिहाई कपैसिटी के हिसाब से संचालन होगा. वहीं साप्ताहिक डिपार्चर 100 तक सीमित होगा. किराये को लेकर रूट्स को 7 सेक्शन में बांटा गया है, उसी के आधार पर किराया लिया जाएगा. दिल्ली से मुंबई का किराया यात्रा के लिए मिनिमम 3,500 और मैक्सिमम 10 हजार होगा, जो 90 मिनट से 120 मिनट की कैटिगरी में आती है. 

ऐसे बांटे गए हैं रूट्स

  • 40 मिनट से कम समय लेने वाले रूट्स
  • 40 से 60 मिनट का समय लेने वाले रूट्स
  • 60-90 मिनट का समय लेने वाले रूट्स
  • 90 से 120 मिनट का समय लेने वाले रूट्स
  • 2 से 2.50 घंटे का समय लेने वाले रूट्स
  • 2.50 से 3 घंटे का समय लेने वाले रूट्स
  • 3 से 3.5 घंटे का समय लेने वाले रूट्स

20 हजार से अधिक लोग आए वापस
अबतक वंदे भारत मिशन के तहत 20 हजार से अधिक लोगों को वापस लाया गया है. उन्होंने कहा कि वंदे भारत मिशन के तहत हमारा प्रयास सभी को वापस लाने का नहीं था, बल्कि हमारा पूरा जोर उन नागरिकों को निकालने का था जो सही मायनों में विदेशों में फंसे थे.  उस दौरान समय हमने यहां से विदेश जा रहे विमानों में अपने उन नागरिकों की वापसी का भी प्रबंध किया जो सामान्य रूप से विदेशों में रहने वाले हैं और नौकरियों और अन्य व्यवसायिक प्रतिबद्धताओं के कारण यात्रा करने के इच्छुक थे. 

करने जा रहे हैं हवाई यात्रा तो इन नियमों का जरूर रखें ध्यान