• कोरोना वायरस पर नवीनतम जानकारी: भारत में संक्रमण के सक्रिय मामले- 5,79,357 और अबतक कुल केस- 18,03,695: स्त्रोत PIB
  • कोरोना वायरस से ठीक / अस्पताल से छुट्टी / देशांतर मामले: 11,86,203 जबकि मरने वाले मरीजों की संख्या 38,135 पहुंची: स्त्रोत PIB
  • कोविड-19 की रिकवरी दर 65.43% से बेहतर होकर 65.77% पहुंची; पिछले 24 घंटे में 40,574 मरीज ठीक हुए
  • IIT खड़गपुर ने एक पोर्टेबल रैपिड डायग्नोस्टिक डिवाइस विकसित किया
  • जो मात्र 400 रुपये की खर्च में एक घंटे के भीतर कोविड-19 संक्रमण का पता लगा सकता है
  • स्वास्थ्य मंत्रालय ने भारत आने वाले अंतरराष्ट्रीय यात्रियों के लिए नए दिशानिर्देश जारी किए हैं, जो 8 अगस्त 2020 से लागू होंगे
  • पिछले एक साल में तीव्र गति से कार्य होने के कारण, J&K में चिनाब नदी पर दुनिया का सबसे ऊंचा रेलवे पुल अगले साल तक तैयार हो जाएगा
  • रेल मंत्रालय ने 2320 सेवानिवृत्त पदाधिकारियों के लिए ‘आभासी सेवानिवृत्ति समारोह’ का आयोजन किया
  • महिला उद्यमिता और सशक्तीकरण कोहोर्ट ने 11 महिला उद्यमियों को महिलाओं के पारिस्थितिकी तंत्र को मजबूत करने के लिए पुरस्कृत किया
  • दूसरे चरण की ओर अग्रसर स्वच्छ भारत मिशन 2: 10 करोड़ से अधिक व्यक्तिगत शौचालयों का निर्माण किया गया है

राष्ट्रीय परमिट सिस्टम में होगा बदलाव, आसान होगी टूरिस्ट पैसेंजर व्हीकल की आवाजाही

सड़क परिवहन मंत्रालय की ओर से एक बयान में कहा गया कि ‘राष्ट्रीय परमिट व्यवस्था के तहत वस्तुओं की ढुलाई वाले वाहनों के सफल परिचालन के बाद अब टूरिस्ट पैसेंजर व्हीकल को सुचारू आवाजाही के लिए कदम उठाए जा रहे हैं.

राष्ट्रीय परमिट सिस्टम में होगा बदलाव, आसान होगी टूरिस्ट पैसेंजर व्हीकल की आवाजाही

नई दिल्लीः सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्रालय ने देश में पर्यटन को बढ़ावा देने के लिए नई योजनाएं तैयार कर रही है. इसके लिए राष्ट्रीय परमिट व्यवस्था में संशोधन के लिए अधिसूचना जारी की है. इसके तहत टूरिस्ट पैसेंजर व्हीकल की देश में सुचारू आवाजाही सुनिश्चित की जाएगी. साथ ही इसके लिए योजना भी तैयार की जा रही है.

आसानी से हो सकेगा आवेदन
मंत्रालय की ओर से एक बयान में कहा गया कि ‘राष्ट्रीय परमिट व्यवस्था के तहत वस्तुओं की ढुलाई वाले वाहनों के सफल परिचालन के बाद अब टूरिस्ट पैसेंजर व्हीकल को सुचारू आवाजाही के लिए कदम उठाए जा रहे हैं.’ इसके तहत कोई भी टूरिस्ट पैसेंजर व्हीकल ऑपरेटर ऑल इंडिया टूरिस्ट परमिट के लिए ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं. 

ऑनलाइन दे सकते हैं आवेदन
इस प्रक्रिया के लिए जो नए नियम बनाए गए हैं उन्हें ‘अखिल भारतीय पर्यटन वाहन अधिकार पत्र एवं परमिट नियम, 2020’ कहलाएगा कहा जाएगा’’मंत्रालय की ओर से इस बारे में अन्य पक्षों से भी राय मांगी गई है. नई योजना के तहत कोई भी पर्यटन वाहन परिचालक ऑनलाइन माध्यम से आखिल भारतीय पर्यटन अधिकार परमिट के लिये आवेदन दे सकते है.

सभी अधिकार पत्र नियमों के अनुसार संबंधित दस्तावेज और शुल्क जमा करने के बाद आवेदन जमा होने के 30 दिनों के भीतर जारी होंगे. 

तीन साल अधिक नहीं होगी परमिट की अवधि
जानकारी के मुताबिक यह परमिट तीन महीने या उसके गुणक में वैध होगा. एक बार में इसकी कुल अवधि तीन साल से अधिक नहीं होगी. नए प्रावधानों को नियमों को तय करने में देश के उन विशेष क्षेत्रों को ध्यान में रखा गया है, जहां पर्यटन मौसम सीमित है और साथ ही जिन परिचालकों की वित्तीय क्षमता सीमित है. 

टली NEET और JEE की तारीखें, जानिए अब कब होंगी परीक्षाएं

खाने के तेल में मिलावट! अब नहीं बिकेगा खुला खाद्य तेल