Andolan की आड़ में Khalistani आए ! | Farmers के नाम पर मरकज वाली साजिश ? | Desh Ko Jawab Do

Andolan की आड़ में Khalistani आए ! | Farmers के नाम पर मरकज वाली साजिश ? | Desh Ko Jawab Do #Khalistani #FarmersProtest #DeshKoJawabDo देश की राजधानी 55 दिन से बंधक बनी हुई है. किसानों के कंधे पर बंदूक रखकर. आंदोलन की आड़ में खालिस्तानी आए. किसानों के नाम पर मरकज वाली साजिश हुई. किसानों की भीड़ में जेहादी जुटे.. और अब रोहिंग्या भी आ गए.. जो भी नाम देश विरोधी साजिश में शामिल होते हैं.. जो भी चेहरे छिपकर हिंदुस्तान के खिलाफ एजेंडा चलाते हैं.. वो किसान आंदोलन का चेहरा कैसे बन रहे हैं.. The country's capital has been held hostage for 55 days. Putting a gun on farmers' shoulders.

Andolan की आड़ में Khalistani आए ! | Farmers के नाम पर मरकज वाली साजिश ? | Desh Ko Jawab Do #Khalistani #FarmersProtest #DeshKoJawabDo देश की राजधानी 55 दिन से बंधक बनी हुई है. किसानों के कंधे पर बंदूक रखकर. आंदोलन की आड़ में खालिस्तानी आए. किसानों के नाम पर मरकज वाली साजिश हुई. किसानों की भीड़ में जेहादी जुटे.. और अब रोहिंग्या भी आ गए.. जो भी नाम देश विरोधी साजिश में शामिल होते हैं.. जो भी चेहरे छिपकर हिंदुस्तान के खिलाफ एजेंडा चलाते हैं.. वो किसान आंदोलन का चेहरा कैसे बन रहे हैं.. The country's capital has been held hostage for 55 days. Putting a gun on farmers' shoulders. Khalistan came under the cover of the movement. There was a conspiracy in the name of farmers. Jihadis gathered in the crowd of farmers .. And now Rohingyas have also come .. Whatever names are involved in the anti-national conspiracy .. Who hide their faces and run an agenda against India .. How are they becoming the face of the peasant movemen

ट्रेंडिंग विडोज़