close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

कृषि क्रांति: जानिए, कैसे बना 50 रु. दिहाड़ी वाला मजदूर खेती से लाखों का मालिक

रांची के करीब सदमा गांव के रहने वाले गंसु महतो 50 रुपए दिहाड़ी के लिए 20 किलोमीटर दूर जाकर मजदूरी करते थें. आज गंसु महतो 9 एकड़ खेती से साल में लगभग 50 लाख रुपए कमाते है. देखिए, कृषि क्रांति...

May 26, 2019, 09:42 AM IST

ट्रेंडिंग न्यूज़

World Cup 2019: ऑस्ट्रेलिया से हारने के बाद श्रीलंका हुआ ‘बागी’, ICC मनाने में जुटा

World Cup 2019: ऑस्ट्रेलिया से हारने के बाद श्रीलंका हुआ ‘बागी’, ICC मनाने में जुटा

IND vs PAK: मत होइए उदास, मौसम रहेगा साफ और जरूर होगा महामुकाबला

IND vs PAK: मत होइए उदास, मौसम रहेगा साफ और जरूर होगा महामुकाबला

Fathers Day: करण देओल ने पिता सनी देओल के लिए कविता लिखी - मेरे पापा, मेरे महानायक!

Fathers Day: करण देओल ने पिता सनी देओल के लिए कविता लिखी - मेरे पापा, मेरे महानायक!

सचिन तेंदुलकर की बेटी सारा ने दी शुभमन गिल को बधाई, पांड्या ने यूं की टांग खिंचाई

सचिन तेंदुलकर की बेटी सारा ने दी शुभमन गिल को बधाई, पांड्या ने यूं की टांग खिंचाई

अक्षरा सिंह और आम्रपाली दुबे ने मिलकर ढाया कहर, गदर मचा रहा VIRAL VIDEO

अक्षरा सिंह और आम्रपाली दुबे ने मिलकर ढाया कहर, गदर मचा रहा VIRAL VIDEO

INDvsPAK: गेंदबाज आमिर के सवाल पर कोहली ने दिया ऐसा जवाब कि हर कोई रह गया दंग

INDvsPAK: गेंदबाज आमिर के सवाल पर कोहली ने दिया ऐसा जवाब कि हर कोई रह गया दंग

सूबेदार का बेटा बना फ्लाइंग ऑफिसर, वायुसेना प्रमुख ने अपनी वर्दी से निकालकर दिए विंग्स

सूबेदार का बेटा बना फ्लाइंग ऑफिसर, वायुसेना प्रमुख ने अपनी वर्दी से निकालकर दिए विंग्स

World Cup 2019: पाकिस्तानी कप्तान सरफराज ने नहीं मानी PM इमरान की सलाह, भुगत रहे खामियाजा

World Cup 2019: पाकिस्तानी कप्तान सरफराज ने नहीं मानी PM इमरान की सलाह, भुगत रहे खामियाजा

कलेक्टर के मना करने के बाद भी अड़े बाबा, बोले- 'मैं जल समाधि लेकर रहूंगा'

कलेक्टर के मना करने के बाद भी अड़े बाबा, बोले- 'मैं जल समाधि लेकर रहूंगा'

चलती ट्रेन से कूदकर कैदी हुआ फरार, पकड़ने के लिए दरोगा ने भी लगाई छलांग और फिर...

चलती ट्रेन से कूदकर कैदी हुआ फरार, पकड़ने के लिए दरोगा ने भी लगाई छलांग और फिर...