राष्ट्रवाद: Coronavirus से बड़ा ख़तरा Vaccine पर Politics | घाटी में गद्दार पर फाइनल प्रहार | Latest

साल 2021 समाधान का साल है, हर वो चुनौती जो देश के सामने है उसको मुंहतोड़ जवाब देने का साल है, फिर चाहे वो महामारी हो या हिंदुस्तान के दुश्मनों की कोई घटिया चाल, पर कुछ लोग हैं जिनको समाधान से बड़ी दिक्कत होती है. कुछ लोग हैं जो विवाद, अफवाह और भ्रम की हवा को बनाए रखना चाहते हैं, वो इसलिए ताकि उनकी राजनीति चलती रहे. आजकल एक ऐसी ही सियासत चल रही है कोरोना वैक्सीन के नाम पर. जम्मू & कश्मीर से धारा 370 हटाकर मोदी सरकार ने कश्मीर को तरक्की के रास्ते पर ले जाने की जो कोशिशें शुरू की हैं, उसे अब साजिशन निशाना बनाने का गंदा खेल शुरू हो गया है. 31 दिसंबर की शाम यानी नया साल शुरू होने से चंद घंटे पहले कश्मीर के लाल चौक बाजार में खूनी खेल खेला गया। सतपाल निश्चल नाम के कारोबारी की आतंकियों ने हत्या कर दी गई. इस हत्याकांड ने देश को इसलिये चौंकाया क्योंकि आतंक का शिकार हुए कारोबारी ने हाल ही में कश्मीर का डोमिसाइल सर्टिफिकेट लिया था, डोमिसाइल सर्टिफिकेट यानी स्थानीय निवासी प्रमाणपत्र. इस हत्याकांड को आतंकियों ने कश्मीर में बसी उस गैर मुस्लिम आबादी में डर फैलाने के लिये अंजाम दिया जाकिर नाईक हिंदुओं के खिलाफ जहर उगल रहा है और हम सब तमाशा देख रहे हैं. क्या इस्लाम मज़हब किसी भी मज़हब की तोहीन करने की इज़ाजत देता है? क्या इस्लाम, किसकी इबादत गाह को नुक्सान पहुंचाने की इजाजत देता है

साल 2021 समाधान का साल है, हर वो चुनौती जो देश के सामने है उसको मुंहतोड़ जवाब देने का साल है, फिर चाहे वो महामारी हो या हिंदुस्तान के दुश्मनों की कोई घटिया चाल, पर कुछ लोग हैं जिनको समाधान से बड़ी दिक्कत होती है. कुछ लोग हैं जो विवाद, अफवाह और भ्रम की हवा को बनाए रखना चाहते हैं, वो इसलिए ताकि उनकी राजनीति चलती रहे. आजकल एक ऐसी ही सियासत चल रही है कोरोना वैक्सीन के नाम पर. जम्मू & कश्मीर से धारा 370 हटाकर मोदी सरकार ने कश्मीर को तरक्की के रास्ते पर ले जाने की जो कोशिशें शुरू की हैं, उसे अब साजिशन निशाना बनाने का गंदा खेल शुरू हो गया है. 31 दिसंबर की शाम यानी नया साल शुरू होने से चंद घंटे पहले कश्मीर के लाल चौक बाजार में खूनी खेल खेला गया। सतपाल निश्चल नाम के कारोबारी की आतंकियों ने हत्या कर दी गई. इस हत्याकांड ने देश को इसलिये चौंकाया क्योंकि आतंक का शिकार हुए कारोबारी ने हाल ही में कश्मीर का डोमिसाइल सर्टिफिकेट लिया था, डोमिसाइल सर्टिफिकेट यानी स्थानीय निवासी प्रमाणपत्र. इस हत्याकांड को आतंकियों ने कश्मीर में बसी उस गैर मुस्लिम आबादी में डर फैलाने के लिये अंजाम दिया जाकिर नाईक हिंदुओं के खिलाफ जहर उगल रहा है और हम सब तमाशा देख रहे हैं. क्या इस्लाम मज़हब किसी भी मज़हब की तोहीन करने की इज़ाजत देता है? क्या इस्लाम, किसकी इबादत गाह को नुक्सान पहुंचाने की इजाजत देता है