वंदे मातरम: लेफ़्ट की राह पर चली Mamata Banerjee सरकार - West Bengal में बम की सियासत कब तक?

वामदल ने 34 सालों तक West Bengal पर शासन किया और अपने सामने किसी विरोधी को खड़ा होने नहीं दिया लेकिन बदलाव आया और Bengal की जनता ने Mamata Banerjee को चुना ताकि Bengal में भी बहार आ सके लेकिन अब बंगाल की आबो हवा में ऐसी नफरत घुल चुकी है बंगाल को जला रही है - देखें

वामदल ने 34 सालों तक West Bengal पर शासन किया और अपने सामने किसी विरोधी को खड़ा होने नहीं दिया लेकिन बदलाव आया और Bengal की जनता ने Mamata Banerjee को चुना ताकि Bengal में भी बहार आ सके लेकिन अब बंगाल की आबो हवा में ऐसी नफरत घुल चुकी है बंगाल को जला रही है - देखें

ट्रेंडिंग विडोज़