ट्रंप का दावा: 'अमेरिका कर रहा सबसे ज्यादा कोरोना टेस्टिंग, भारत दूसरे नम्बर पर'

दुनिया में अमेरिका कोरोना वायरस से सबसे अधिक जूझ रहा है और इसलिये सभी डोनाल्ड ट्रंप प्रशासन पर सवाल भी खड़े कर रहे हैं. सवालों का जवाब देते हुए अमेरिकी राष्ट्रपति ने ये दावा किया है.  

ट्रंप का दावा: 'अमेरिका कर रहा सबसे ज्यादा कोरोना टेस्टिंग, भारत दूसरे नम्बर पर'

नई दिल्ली: पूरी दुनिया के सामने चीनी वायरस कोरोना का सबसे बड़ा संकट है. अमेरिका इस महासंकट से सबसे अधिक त्रस्त है. राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के प्रशासन और मंत्रिमंडल पर सवाल खड़े हो रहे हैं कि तमाम इंतजाम होने के बावजूद अमेरिका के कोरोना संक्रमण का प्रकोप कम क्यों नहीं हो रहा है. इसी साल अमेरिका में राष्ट्रपति पद के लिए चुनाव भी होने हैं और विपक्षी जो बिडेन ट्रम्प सरकार पर हमलावर हैं.

ट्रम्प का दावा, अमेरिका में सबसे अधिक कोरोना टेस्टिंग

व्हाइट हाउस में मीडिया से बात करते हुए अमेरिकी राष्ट्रपति ने कहा कि अमेरिका में सबसे अधिक केस इसलिए हैं, क्योंकि हम सबसे अधिक टेस्ट कर रहे हैं. जल्द ही हम 50 मिलियन टेस्ट का आंकड़ा पूरा कर लेंगे, हमारे बाद सिर्फ भारत ही है जो सबसे अधिक टेस्ट कर रहा है.

क्लिक करें- पोलैंड में पढ़ी गयी हरिवंश राय बच्चन की 'मधुशाला', भावुक हुए अमिताभ

डोनाल्ड ट्रंप ने टेस्टिंग के मामले में भारत को दूसरे नम्बर पर रखा

भारत में इतनी अधिक जनसंख्या होने के बावजूद कोरोना के सक्रिय मरीजों की संख्या बहुत कम है. भारत में स्वस्थ होने वाले मरीजों की संख्या रूस के बाद सबसे अधिक है. अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने मीडिया से बातचीत करते हुए कहा कि अमेरिका के बाद भारत सबसे अधिक कोरोना टेस्टिंग कर रहा है. भारत ने करीब 12 मिलियन टेस्ट किए हैं, उसके बाद कई देश अभी भी 6-7 मिलियन पर ही पहुंच पाए हैं.

क्लिक करें- अफगानिस्तान में 16 साल की लड़की का पराक्रम, दो आतंकियों को मार गिराया

अमेरिका में सबसे अधिक कोरोना मरीज

दुनिया में अमेरिका अब तक केवल एक ऐसा देश है जहां एक लाख से अधिक मरीजों की मौत हो चुकी है. टेस्टिंग के मामले में इस वक्त दुनिया में अमेरिका नंबर वन ही है, क्योंकि वहां पर हर रोज करीब सात लाख टेस्ट किए जा रहे हैं. बुधवार सुबह तक अमेरिका में 49 मिलियन से अधिक टेस्ट हो चुके हैं. अमेरिका में हर रोज लगभग 70 हजार संक्रमित पाए जा रहे हैं.