पूरा हुआ Amazon के मालिक जेफ बेजोस का सपना, अंतरिक्ष में भरी उड़ान

अमेजॉन के फाउंडर जेफ बेजोस किसी नाम के मोहताज नहीं है और ना ही उनके पास दौलत की कोई कमी है. लेकिन आसमान से ऊपर जाने का उनका ये जूनुन स्पेस के इतिहास में उनका नाम भी बड़े शान के साथ दर्ज करा गया.

Written by - Zee Hindustan Web Team | Last Updated : Jul 21, 2021, 09:41 AM IST
  • 60 फुट लंबा स्पेस शटल 'न्यू शेफर्ड' अमेरिका के टेक्सस के लॉन्चिंग पैड से लॉन्च हुआ
  • जेफ बेजोस स्पेस शटल की विंडो वाली सीट पर बैठे, उनके साथ तीन और सैलानियों ने दिया
पूरा हुआ Amazon के मालिक जेफ बेजोस का सपना, अंतरिक्ष में भरी उड़ान

नई दिल्ली: Amazon के मालिक जेफ बेजोस ने अंतरिक्ष में जाने का अपने बचपन का सपना पूरा कर लिया. जेफ बेजोस की कंपनी ब्लू ओरिजिन का स्पेस शटल 'न्यू शेफर्ड' अमेरिका के टेक्सस के लॉन्चिंग पैड से लॉन्च हुआ और सिर्फ 10 मिनट और 10 सेकेंड में धरती से करीब 105 किलोमीटर उपर अंतरिक्ष की कक्षा को छूकर लौट आया. इस सफर के दौरान बेजोस समेत 4 यात्रियों को करीब 4 मिनट जीरो गुरुत्वाकर्षण महसूस करने का मौका भी मिला.

जेफ बेजोस की अंतरिक्ष में उड़ान सफल रही

ये अनंत छूने की जिद है, ये अंतरिक्ष की सैर कराने का जुनून है, ये स्पेस में ताकत दिखाने की जंग है. अंतरिक्ष में परचम लहराने की जो जिद जेफ बेजोस ने 21 साल पहले की थी, आखिरकार उसे पूरा करके ही दम लिया. दुनिया के सबसे अमीर लोगों में शुमार जेफ बेजोस ने आसमान को चीरकर अंतरिक्ष तक जाने का सपना था और वो सपना अब उनका अपना हो गया.

न्यू शेफर्ड रॉकेट कैप्सूल के साथ अंतरिक्ष से लौटा

अमेजॉन के फाउंडर जेफ बेजोस किसी नाम के मोहताज नहीं है और ना ही उनके पास दौलत की कोई कमी है. लेकिन आसमान से ऊपर जाने का उनका ये जूनुन स्पेस के इतिहास में उनका नाम भी बड़े शान के साथ दर्ज करा गया.

जेफ बेजोस की कंपनी ब्लू ओरिजिन का 60 फुट लंबा स्पेस शटल 'न्यू शेफर्ड' अमेरिका के टेक्सस के लॉन्चिंग पैड से लॉन्च हुआ. धरती से करीब 80 किमी की ऊंचाई पर रॉकेट और कैप्सूल अलग-अलग हो गए. वहां से कैप्सूल 25 किमी और आगे चलकर यानी धरती से करीब 105 किलोमीटर ऊपर अंतरिक्ष की कक्षा में पहुंचा.

जेफ बेजोस का स्पेसक्राफ्ट अंतरिक्ष से लौटा

वहां अंतरिक्ष के इन नई यात्रियों को करीब 4 मिनट जीरो गुरुत्वाकर्षण महसूस कराने के बाद कैप्सूल धरती की ओर लौट चला. धरती की कक्षा में आने के बाद कैप्सूल में लगे पैराशूट खुल गए और फिर कैप्सूल की लैंडिंग टेक्सस के रेगिस्तान में हो गई.

इस पूरे सफर में जेफ बेजोस स्पेस शटल की विंडो वाली सीट पर बैठे, उनके साथ तीन और सैलानियों ने दिया. जेफ बेजोस के भाई मार्क बेजोस, 82 साल की वैली फंक जिनके नाम अमेरिका की सबसे कम में पायलट का लाइसेंस हासिल करने का रिकॉर्ड है. इससे पहले 1960 में भी वैली फंक ने अंतरिक्ष में जाने की कोशिश की थी लेकिन तब उनका ये सपना अधूरा रह गया था. अब 61 साल बाद उनका ये सपना जेफ बेजोस ने पूरा किया.

अंतरिक्ष यात्रियों की इस टीम में 18 साल के ऑलिवर डेमेन भी थे, जिनकी की ये अंतरिक्ष यात्रा संयोग से ही हुई. क्योंकि कुछ दिन पहले तक अंतरिक्ष यात्रा की ये टिकट ब्लू ओरिजिन ने किसी और को दिया था. 205 करोड़ रुपए की बोली लगाकर एक अनजान शख्स ने ब्लू ओरिजिन से अंतरिक्ष जाने का ये टिकट बुक कराया था, लेकिन कुछ दिन पहले ही उसने ये टिकट कैंसल कर दी. जिसके बाद ओलिवर डेमेन को मौका मिला.

जाहिर है एक तरफ 82 साल की महिला वैली फंक और दूसरी तरफ 18 साल के युवक ओलिवर डेमेन. जेफ बेजोस की इस अंतरिक्ष की सैर पर सबसे बुजुर्ग और सबसे कम उम्र के अंतरिक्ष यात्रियों का नया रिकॉर्ड  भी बन गया है.

बेजोस ने अंतरिक्ष की यात्रा के लिए 20 जुलाई की तारीख एक खास मकसद की वजह चुना. 20 जुलाई 1969 को पहली बार चांद पर अंतरिक्ष यात्रियों वाला स्पेसशिप उतरा था. इसलिए बेजोस ने 20 जुलाई 2021 को चुना.

पहले 11 जुलाई 2021 को अरबपति रिचर्ड ब्रेनसन की VSS यूनिटी प्लेन से अंतरिक्ष यात्रा और अब बेजोस की 'न्यू शेफर्ड' का स्पेस टूअर ने अंतरिक्ष यात्रा करने वालों की राह आसान कर दी है.

Zee Hindustan News App: देश-दुनिया, बॉलीवुड, बिज़नेस, ज्योतिष, धर्म-कर्म, खेल और गैजेट्स की दुनिया की सभी खबरें अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें ज़ी हिंदुस्तान न्यूज़ ऐप.  

ज़्यादा कहानियां

ट्रेंडिंग न्यूज़