• 191 यात्रियों के साथ दुबई से करिपुर के लिए एयर इंडिया एक्सप्रेस का विमान दुर्घटनाग्रस्त हो गया, फायर टेंडर और एंबुलेंस मौके पर
  • केरल: कोझीकोड के करिपुर हवाई अड्डे पर उतरने के दौरान एयर इंडिया एक्सप्रेस का एक विमान रनवे से फिसल गया
  • कोरोना वायरस पर नवीनतम जानकारी: भारत में संक्रमण के सक्रिय मामले- 6,07,384 और अबतक कुल केस- 20,27,075: स्त्रोत PIB
  • कोरोना वायरस से ठीक / अस्पताल से छुट्टी / देशांतर मामले: 13,78,106 जबकि मरने वाले मरीजों की संख्या 41,585 पहुंची: स्त्रोत PIB
  • कोविड-19 की रिकवरी दर 67.62% से बेहतर होकर 67.98% पहुंची; पिछले 24 घंटे में 49,769 मरीज ठीक हुए

चीन में मानवाधिकार उल्लंघन पर अमेरिका सख्त, कठोर सबक सिखाने के लिए लगाया ये प्रतिबंध

मानवाधिकार उल्लंघन के मामले में चीन दुनियाभर में अपमानित हो रहा है और नाराजगी झेल रहा है. अमेरिका ने उसे कड़ा सबक सिखाने के लिए उसके प्रमुख कमाण्डर पर अमेरिका में आने से प्रतिबंध लगा दिया है.  

चीन में मानवाधिकार उल्लंघन पर अमेरिका सख्त, कठोर सबक सिखाने के लिए लगाया ये प्रतिबंध

नई दिल्ली: कोरोना वायरस नामक भीषण और जानलेवा महामारी पूरी दुनिया को देने वाला चीन अब अपने ही देश के निवासियों को आमानवीय यातनायें दे रहा है. चीन के कमांडर और सैनिक हांगकांग और तिब्बत में निर्दोष लोगों को प्रताड़ित कर रहे हैं. अमेरिका चीन की इस शर्मनाक और निंदनीय हरकत पर बहुत पहले से नाराज है.

अमेरिका में चीन पर लिया ये एक्शन

अमेरिका ने शिनजियांग में मानवाधिकार हनन के मामले में चीन पर प्रतिबंध लगा दिया है. ट्रंप प्रशासन ने जातीय और धार्मिक अल्पसंख्यकों के खिलाफ मानवाधिकार हनन के लिए चीन के पश्चिम शिनजियांग क्षेत्र में वहां के अर्द्धसैन्य संगठन के चीफ और उसके कमांडर पर BAN लगा दिया है. इस पाबंदी की घोषणा ट्रंप सरकार के विदेश और वित्त विभाग ने की.

क्लिक करें- सपा के पूर्व नेता अमर सिंह का निधन, सिंगापुर के अस्पताल में चल रहा इलाज

व्हाइट हाउस ने चीन के रुख की निंदा की

अमेरिका पहले से कोरोना वायरस से जूझ रहा है. अमेरिका में संक्रमण से मरने वालों का आंकड़ा डेढ़ लाख को पार कर चुका है. व्हाइट हाउस के एक आधिकारिक बयान में अमेरिका ने कोरोना वायरस महामारी के कारण हॉन्गकॉन्ग में स्थानीय सरकार के चुनाव स्थगित करने की निंदा की.

 उधर चीन ने इस पर पलटवार करते हुए निशाना साधा और कहा, अमेरिका की तरफ से चुनाव में देरी को लेकर आलोचना ऐसे वक्त में की गई जब खुद डोनाल्ड ट्रंप अमेरिका में  चुनाव टलवाने के मूड में हैं.