छियालिस हजार सैनिकों के साथ अमेरिका जापान ने शुरू किया बड़ा सैन्याभ्यास

एक तरफ चीनी गतिविधियां जापान और अमेरिका को हर तरह की चुनौतियां दे रही हैं दूसरी तरफ अमेरिका-जापान ने शुरू कर दिया अपना बड़ा सैन्य अभ्यास..  

छियालिस हजार सैनिकों के साथ अमेरिका जापान ने शुरू किया बड़ा सैन्याभ्यास

नई दिल्ली.  46 हजार सैनिकों को शामिल करके किया जाने वाला सैन्य-अभ्यास सामान्य सैन्यअभ्यास नहीं होता. अतएव इस विशेष सैन्याभ्यास का विशेष कारण भी है जो है चीन की चुनौती. जापान और अमेरिका को चीन से मिली प्रत्यक्ष व परोक्ष धमकियां अमेरिका को चीन के खिलाफ खेमेबन्दी की तरफ धकेल रही हैं साथ ही अपने मित्रों को सशक्त करके चीन के खिलाफ मजबूत मोर्चा तैयार करने की योजना पर भी अमेरिका ने काम करना शुरू कर दिया है.

सैन्याभ्यास चलेगा पांच नवंबर तक

अमेरिका का ये सैन्याभ्यास जापान और अमेरिका को दी गई चीन की धमकियों के मद्देनजर तैयारी माना जा सकता है क्योंकि विशेष रूप से जापान के साथ इस सैन्याभ्यास करने का मकसद चीन के अलावा किसी औऱ देश को संदेश देना नहीं हो सकता है. ये सैन्याभ्यास पांच नवंबर तक चलेगा. इस सैन्याभ्यास में 46 हजार सैनिकों के अलावा जापान और अमेरिका के दर्जनों युद्धपोत और सैकड़ों विमान भाग ले रहे हैं.

कीन स्वोर्ड नाम है युद्धाभ्यास का

अमेरिका और चीन के बीच होने वाले इस विशेष युद्धाभ्यास का नाम कीन स्वोर्ड रखा गया है जो कि  चीन की जापान के समुद्री क्षेत्र में बढ़ती सैन्य गतिविधियों के मद्देनजर किया जा रहा है. सोमवार 26 अक्टूबर से शुरू कर दिये गये इस सैन्याभ्यास में दोनो देशों की वायुसेना, नौसेना और थलसेना ने भाग ले रही हैं. जापान के नये प्रधानमंत्री योशीहिदे ने संकल्प लिया है कि वे चीन से मुकाबले के लिए जापानी सेना को मजबूत करने का उपक्रम जारी रखेंगे.

हर दो साल में होता है यह अभ्यास

यद्यपि दोनो ही देश हर दो साल में इस युद्धाभ्यास में भाग लेते हैं किन्तु इस बार यह युद्धाभ्यास कुछ खास ही है. इसमें पहली बार साइबर और इलेक्ट्रॉनिक युद्ध का प्रशिक्षण शामिल किया जा रहा है. इसका कारण पूर्वी चीन सागर में जापान नियंत्रित द्वीपों पर चीन ने हमेशा अपना दावा किया है जिसे जापान और अमेरिका दोनो ही खारिज करते हैं. ऐसे में इस युद्धाभ्यास का उद्देश्य सीधी तौर पर चीन को संदेश देना है.

ये भी पढ़ें. ''महेश भट्ट हैं फिल्म इंडस्ट्री के डॉन''- लवीना ने लगाए गंभीर आरोप

देश और दुनिया की हर एक खबर अलग नजरिए के साथ और लाइव टीवी होगा आपकी मुट्ठी में. डाउनलोड करिए ज़ी हिंदुस्तान ऐपजो आपको हर हलचल से खबरदार रखेगा... नीचे के लिंक्स पर क्लिक करके डाउनलोड करें-

Android Link - https://play.google.com/store/apps/details?id=com.zeenews.hindustan&hl=en_IN

iOS (Apple) Link - https://apps.apple.com/mm/app/zee-hindustan/id1527717234