close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

ये गुमनाम आतंकी संभालेगा बगदादी की कुर्सी

आतंकी  संगठन आईएस ने अमेरिका से बदला  लेना का ऐलान किया है. इसके  लिए उसने अपने मारे गए सरगना बगदादी की जगह नए नाम का ऐलान कर दिया है.   

ये गुमनाम आतंकी संभालेगा बगदादी की कुर्सी
बगदादी का गुमनाम उत्तराधिकारी

नई दिल्ली: खूंखार आतंकवादी संगठन आईएस का नया  मुखिया चुन लिया गया है. इसका नाम है, अबू इब्राहिम अल हाशमी. 

दुनिया को नहीं है इस शख्स के बारे में जानकारी
अबू बकर बगदादी के मारे जाने के हफ्ते भर बाद उसकी जगह नए नाम का ऐलान किया गया है. लेकिन खास बात यह है कि बगदादी की जगह जिस अबू इब्राहिम अल हाशमी के नाम की घोषणा की गई है. उसके बारे में दुनिया में कहीं कोई खबर नहीं है. यहां तक कि उसकी कोई एक फोटो भी नहीं है. बिना किसी  पहचान का यह शख्स आने वाले वक्त में बेहद खतरनाक साबित हो सकता है. क्योंकि बिना फोटो या सूचना के उसके खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं की जा सकती है. दरअसल आतंकी संगठन आईएस ने अपने नए सरगना को गुप्त रखने का फैसला इसलिए भी किया है क्योंकि इसके पहले बगदादी की जगह लेने वाला आईएस का  नंबर टू मारा गया था.  

मारा गया था आईएस का नंबर -2 
आईएस सरगना अबू बकर अल बगदादी को शनिवार यानी 26 अक्टूबर मार गिराया गया था. जिसके अगले ही दिन  यानी रविवार 27 अक्टूबर को आईएस  का नंबर टू अल मुजाहिर मारा गया था. वह आईएस का प्रवक्ता था और बगदादी के साथ साए की तरह रहता था. 
मुजाहिर को उत्तर पश्चिम सीरिया में विशेष एयर स्ट्राइक अभियान में मार गिराया गया था. मुजाहिर के मारे जाने की खबर  सबसे पहले  कुर्दिस्तान के सुरक्षा बलों के प्रमुख मजलूम आब्दी ने दी  थी. उन्होंने ट्विटर पर बताया कि अमेरिकी एयर स्ट्राइक में मुजाहिर की मौत उस समय हुई, जब वह तेल टैंकर में छिपकर उत्तर सीरिया जा रहा था. तभी अमेरिकी लड़ाकू विमानों ने हमला किया, जिसमें उसका टैंकर आसमान से बरसते बमों की चपेट में आ गया। 


अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप  ने मंगलवार यानी 29 अक्टूबर को ट्विट करके अल मुजाहिर की मौत की पुष्टि की थी. 

इसके पहले आईएस का सरगना अबू बकर बगदादी कुत्ते की मौत मारा गया था. उसे अमेरिकी सैनिकों ने खदेड़ा था. जिसके बाद वह तीन बच्चों की आड़ में अपनी जान बचाने के लिए एक सुरंग में भागा और वहीं खुद को आत्मघाती विस्फोट करके उड़ा लिया था.