• कोरोना वायरस पर नवीनतम जानकारी: भारत में संक्रमण के सक्रिय मामले- 2,64,944 और अबतक कुल केस- 7,42,417: स्त्रोत PIB
  • कोरोना वायरस से ठीक / अस्पताल से छुट्टी / देशांतर मामले: 4,56,831 जबकि मरने वाले मरीजों की संख्या 20,642 पहुंची: स्त्रोत PIB
  • कोविड-19 की रिकवरी दर 61.13% से बेहतर होकर 61.53% पहुंची; पिछले 24 घंटे में 16,883 मरीज ठीक हुए
  • डब्ल्यूएचओ की रिपोर्ट के मुताबिक, भारत में प्रति दस लाख आबादी पर सबसे कम मामले हैं
  • स्वस्थ होने वालों की संख्या करीब 4.4 लाख, संक्रमितों और ठीक होने वालों की संख्या का अंतर 1.8 लाख से अधिक
  • आईसीएमआर: पिछले 24 घंटे में 2.41+ लाख नमूनों की जांच की गई, कुल परीक्षणों की संख्या 1.02 करोड़ के पार
  • फिल्म निर्माण शुरू करने को लेकर सरकार जल्द ही एसओपी की घोषणा करेगी, ताकि फिल्म निर्माण में फिर से तेजी लाई जा सके
  • सीबीएसई ने छात्रों को दी बड़ी राहत, कक्षा 9वीं से 12वीं का सिलेबस घटाया गया
  • एमएचआरडी: यूजीसी और स्वयं के द्वारा "इंटरनेशनल बिजनेस" में मुफ्त ऑनलाइन कोर्स उपलब्ध है
  • विश्व बैंक ने गंगा के कायाकल्प हेतु ‘नमामि गंगे कार्यक्रम’ में आवश्यक सहयोग बढ़ाने के लिए 400 मिलियन डॉलर प्रदान किए

नेपाल सीमा पर भी खतरा बन रहा है चीन

भारत और चीन का सैन्य गतिरोध तो चल ही रहा है, नेपाल को भी चीन ने भड़का कर भारत विरोधी बनाने में कोई कसर नहीं छोड़ी है. नेपाल ने भारत  की कुछ ज़मीन को अपना बताकर अपना नया नक्शा भी जारी कर दिया है और अब नेपाल सीमा पर चीन निर्मित टेंट्स भी नज़र आ रहे हैं..   

नेपाल सीमा पर भी खतरा बन रहा है चीन

नई दिल्ली. चीन अगर भारत को युद्ध के लिए उकसाये तो बात एक बार समझ में भी आती है. चीन का भारत विरोध, उसका विस्तारवाद और भारत अमेरिका मैत्री आदि कुछ कारण उसे भारत के खिलाफ खड़े होने के लिए भड़का सकते हैं किन्तु नेपाल जो कि भारत की सहायता पर बरसों से पलटा आ रहा है, अचानक पलट कर भारत को आँखें दिखाने लगा है, ये हैरानी की बात है. चीन के पैसों पर बिकी नेपाल की कम्युनिस्ट सरकार ने लगता है नेपाल सीमा पर चीन को सक्रिय होने की अनुमति दे दी है.

 

बॉर्डर पर चीन निर्मित टेंट दिखे 

भारत नेपाल सीमा पर नेपाली आर्मी के टेंट लग रहे थे, ये बात तो कुछ दिन पुरानी हो गई है. किन्तु अब जो नया नज़ारा यहां देखने को मिल रहा है वह हैरान करता है. नेपाल सीमा पर चीन के द्वारा निर्मित टेंट्स दिखाई देने लगे हैं और उनमें नेपाली आर्मी के सिपाही भी.  इसका एक अर्थ ये भी हो सकता है कि चीन ने नेपाल को भारत के खिलाफ सैन्य-स्तर पर भी तैयार कर दिया है.

मैनाटांड़ प्रखंड से लगने वाला सीमा क्षेत्र है यह 

नेपाल को लेकर सीमा पर भारत पहले भी सावधान ही था और अब जब भारत-नेपाल बॉर्डर पर नेपाल आर्मी द्वारा अतिरिक्त पोस्ट बनाए जाने की सूचना मिली है तो भारत अलर्ट मोड पर आ गया है. भारत ने यहां अपनी सैन्य-चौकसी बढ़ा दी है. यह स्थान मैनाटांड़ प्रखंड से लगने वाली नेपाल की सीमा के आसपास वाला है जहां टिहुकी- चेरगाहां, बलुआ, मिर्जापुर, पांडेयपुर, दशावता, विशुनपुरवा में हाल ही में नेपाल आर्मी के अतिरिक्त पोस्ट निर्मित हुए हैं.

सीमा से सौ गज की दूरी पर हैं टेंट्स 

ये नए नेपाली पोस्ट्स मैनाटांड़ प्रखंड से लगने वाली नेपाल की सीमा के खभे से केवल 100 गज की दूरी पर नेपाली क्षेत्र में बनाये गए हैं. अब यहां चीनी टेंट में नेपाली सेना के लोगों के दिखने के बाद से भारत के जवान भी पूरी तरह सावधान हो गए हैं.

ये भी पढ़ें. राष्ट्रपति चुनाव का उम्मीदवार जो है भारत विरोधी