• पूरे देश में कोरोना वायरस के कुल सक्रिय मामले अभी तक 4312 हैं, अभी तक 124 लोगों की मृत्यु हुई, 353 लोग इलाज के बाद ठीक हुए
  • स्वास्थ्य मंत्रालय ने कोरोना मरीजों की देखभाल के लिए अस्पताल और अन्य सुविधाओं को तीन भागों में बांटा.
  • भारतीय रेलवे अपने डॉक्टरों और चिकित्साकर्मियों की सुरक्षा के लिए हर रोज एक हजार पीपीआई किट का निर्माण करेगी
  • कोरोना से निपटने के लिए राहत कार्यों में योगदान देने के लिए पूर्व सैनिकों ने स्वैच्छिक सेवाएं प्रदान की
  • लॉकडाउन के बीच जहाजों का आवागमन होगा, पोत परिवहन मंत्रालय ने सुनिश्चित किया
  • सरकार के दीक्षा ऐप पर कोरोना से जूझने वालों के लिए इंटीग्रेटेड ऑनलाइन गवर्नमेन्ट ट्रेनिंग यानी IGOT कोर्स लाया गया है
  • पूरी दुनिया में कोरोना वायरस की चपेट में 1,428,428, अब तक कुल 82,020 की मौत हो चुकी है. 3,00,198 मरीज ठीक भी हुए.
  • राज्यों में कुल कोरोना संक्रमण- महाराष्ट्र में 1161, तमिलनाडु में 690, दिल्ली में 606, तंलंगाना में 404, केरल में 336
  • उत्तर प्रदेश में 332 राजस्थान में 343, आंध्र में 324, मध्य प्रदेश में 280, कर्नाटक में 204, गुजरात में 168

इतिहास में पहली बारः किसी महामारी ने स्थगित करा दिया ओलंपिक खेल

इतिहास में पहली बार है कि किसी महामारी के कारण ओलंपिक खेल रद्द हुए हैं. इससे पहले युद्धक स्थितियों के कारण इनका आयोजन प्रभावित हुआ था. 1916 में पहली बार ओलिंपिक खेल रद्द हुए थे. प्रथम विश्व युद्ध के कारण इस ओलंपिक को रद्द करना पड़ा था. 

इतिहास में पहली बारः किसी महामारी ने स्थगित करा दिया ओलंपिक खेल

नई दिल्ली: कोरोना के कहर का असर दुनिया के सबसे बड़े खेल आयोजन ओलंपिक गेम्स पर भी पड़ने वाला है. टोक्यो में होने वाले इन खेलों को एक साल के लिए टाल दिया गया है. जापान के प्रधानमंत्री शिंजो आबे ने यह जानकारी खुद दी. ओलंपिक गेम्स 24 जुलाई से 9 अगस्त तक टोक्यो में प्रस्तावित थे.  इसके पहले IOC की तरफ से कहा गया था कि अभी ओलंपिक खेलों के लिए चार माह हैं, ऐसे में अभी से निर्णय लेना जल्दबाजी होगी. 

शिंजो आबे ने दी जानकारी
जापान के प्रधानमंत्री शिंजो आबे ने मंगलवार को कहा कि उनकी इस बारे में आईओसी अध्यक्ष थॉमस बाक से बातचीत हुई है. शिंजो आबे ने कहा, "मैंने थॉमस बाक के सामने प्रस्ताव रखा कि ओलंपिक गेम्स एक साल के लिए टाल दिए जाएं. बाख इससे 100% सहमत थे." 

इससे पहले अंतरराष्ट्रीय ओलंपिक समिति (आईओसी) के सदस्य डिक पाउंड ने सोमवार को दावा किया था कि ओलंपिक गेम्स 2021 तक के लिए टाले जा सकते हैं.  

कनाडा ने भाग लेने से किया था इन्कार
आईओसी ने सोमवार को ही कहा था कि ओलंपिक गेम्स को लेकर फैसला चार सप्ताह के अंदर लिया जाएगा. कनाडा ने सोमवार को साफ कर दिया कि अगर ओलंपिक गेम्स जुलाई में होते हैं तो उनकी टीम इसमें हिस्सा नहीं लेगी. वहीं ऑस्ट्रेलिया ने अपने एथलीटों से कह दिया था कि वो ओलंपिक 2021 के लिए तैयारी करें, क्योंकि ऐसी परिस्थिति में ओलंपिक गेम्स का स्थगित होना लगभग तय है. 

पहले से की जा रही थी तिथि आगे बढ़ाने की मांग
इस साल 24 जुलाई से जापान की राजधानी टोक्यो में ओलंपिक और पैरालंपिक गेम्स होने वाले थे. इसी कारण 2020 को ओलंपिक ईयर (Olympics 2020) भी कहा जा रहा था. कनाडा ओलंपिक एंड पैरालंपिक कमेटी ने ओलंपिक के आयोजकों और वर्ल्ड हेल्थ ऑर्गनाइजेशन (WHO) से टोक्यो गेम्स एक साल आगे बढ़ाने की मांग की थी.

अभी ओलंपिक को 4 महीने, कोरोना के डर से स्थगित करना जल्दबाजीः IOC

महामारी ने पहली बार स्थगित कराए खेल
इतिहास में पहली बार है कि किसी महामारी के कारण ओलंपिक खेल रद्द हुए हैं. इससे पहले युद्धक स्थितियों के कारण इनका आयोजन प्रभावित हुआ था. 1916 में पहली बार ओलिंपिक खेल रद्द हुए थे. प्रथम विश्व युद्ध के कारण इस ओलंपिक को रद्द करना पड़ा था. 1940 में 21 सितंबर से 6 अक्टूबर तक टोक्यो में 12वें ओलिंपिक का आयोजन होना था.

इसके बाद इसे फिर से निर्धारित करके 20 जुलाई से 4 अगस्त के बीच फिनलैंड में आयोजित करवाने का फैसला लिया गया, लेकिन दूसरे विश्व युद्ध के कारण आखिरकार इस ओलंपिक को रद्द ही करना पड़ा. ओलंपिक के 13वें सीजन की मेजबानी लंदन को मिली थी, मगर दूसरे विश्व युद्ध के चलते यह ओलंपिक भी रद्द हो गए थे. 

चीन से आई सबसे बड़ी Good News: 90% संक्रमित हुए स्वस्थ