समन्दर में भी तोड़ेंगे चीनियों के दांत

भारत की तैयारी पूरी है. जल, थल और नभ - तीनों स्तरों पर वह चीन को मुहतोड़ जवाब देने के लिए तैयार है. हिन्द महासागर तक पहुँच गया है भारत-चीन सीमा पर चल रहा सैन्य गतिरोध और अब भारतीय नौसेना यहां हाई अलर्ट पर है..  

समन्दर में भी तोड़ेंगे चीनियों के दांत

नई दिल्ली.  भारतीय नौसेना पूरी तरह सावधान है और हिंद महासागर क्षेत्र में चीन की हर हरकत का दांत-तोड़ जवाब देने के लिए उसकी तैयारी पूरी है. भारतीय जंगी जहाज़ आईएनएस कुलिश और राणा चीन को बताएंगे कि गलत जगह भिड़ने का नतीजा क्या होता है.

 

भारतीय नौसेना है हाई अलर्ट पर

भारत-चीन वास्तविक नियंत्रण रेखा पर सैनिक तनातनी के बीच हिंद महासागर में भारतीय नौसेना पूरी तरह सावधान है. चीन की हर हरकत पर भारतीय नौसेना की नज़र है. हाई अलर्ट मोड पर भारतीय नौसेना के युद्धपोतों ने चीन की गतिविधियों पर निगरानी बढ़ा दी है.

जापानी सेना के साथ युद्धाभ्यास हुआ

 भारतीय नौसेना ने हिंद महासागर क्षेत्र में चीन की नापाक हरकतों को रोकने के लिए अमेरिकी और जापान की नौसेनाओं के साथ सुरक्षा सहयोग को सक्रिय रूप दिया है. इंडियन नेवी ने हाल ही में जापान की नौसेना मैरिटाइम सेल्फ डिफेंस फोर्स के साथ हिंद महासागर में युद्ध अभ्यास की शुरुआत की है.

 

INS राणा और INS कुलिश हैं आगे

भारतीय नौसेना के युद्धपोत आईएनएस राणा और आईएनएस कुलिश चीन के मोर्चे पर सन्नद्ध हैं. इन दोनों ही युद्धपोतों ने जापानी नौसेना के साथ युद्धाभ्यास में हिस्सा लिया. दूसरी तरफ जापान की नौसेना की ओर से जेएस काशिमा और जेएस शिमायुक्ति ने प्रतिनिधित्व किया. अहम बात ये है कि ये युद्धाभ्यास ठीक उस स्थान पर हुआ है जहां चीन की घातक पनडुब्बियों और जंगी जहाज़ों को आमतौर पर मंडराते देखा जाता है.

य़े भी पढ़ें. कनाडा से तिब्बतियों की आवाज़ आई - थैंक यू इंडियन आर्मी !