• कोरोना वायरस पर नवीनतम जानकारी: भारत में संक्रमण के सक्रिय मामले- 2,35,433 और अबतक कुल केस- 6,48,315: स्त्रोत PIB
  • कोरोना वायरस से ठीक / अस्पताल से छुट्टी / देशांतर मामले: 3,94,227 जबकि मरने वाले मरीजों की संख्या 18,655 पहुंची: स्त्रोत PIB
  • कोविड-19 की रिकवरी दर 60.72% से बेहतर होकर 60.80% हुई; पिछले 24 घंटे में 14,335 मरीज ठीक हुए
  • विस्तारवाद का युग समाप्त हो गया है, यह विकास का युग है- प्रधानमंत्री मोदी
  • नॉन-कंटेनमेंट जोन में एएसआई के सभी केंद्रीय संरक्षित स्मारक 6 जुलाई 2020 से आगंतुकों के लिए खुलेंगे
  • #ICMR सार्वजनिक उपयोग के लिए स्वदेशी #COVID19 वैक्सीन 15 अगस्त तक लॉन्च करेगी
  • 775 सरकारी प्रयोगशालाओं और 299 निजी प्रयोगशालाओं में कोविड-19 के कुल परीक्षणों की संख्या 90 लाख के पार
  • कोविड मरीजों की रिकवरी दर 60% के पार; स्वस्थ होने वालों की संख्या सक्रिय मामलों से 1.5 लाख से भी अधिक
  • एमएचआरडी: माध्यमिक पाठ्यक्रमों के लिए एकलव्य पर ऑडियो एमओओसी उपलब्ध है। विजिट करें
  • PSB द्वारा ECLGS के तहत स्वीकृत ऋण की राशि बढ़ कर 63,234.94 करोड़ रुपये हुई , 01-07-2020 तक 33,349.13 करोड़ रुपये के ऋण वितरित

कोरोना के जन्मदाता देश चीन को अमेरिकी राष्ट्रपति ने कुछ इस अंदाज में 'धोया'

कोरोना वायरस को लेकर अमेरिका और चीन के बीच तल्खी बढ़ती जा रही है. पहले तो अमेरिकी राष्ट्रपति डॉनल्ड ट्रंप ने कोरोना वायरस को चीनी वायरस करार दिया और अब उन्होंने चीन पर कोरोना का सच छिपाने का गंभीर आरोप लगाया. ट्रंप के मुताबिक अमेरिका की ओर से चीन को दो बार मदद का प्रस्ताव भी दिया गया था. ट्रंप के आरोपों ने एकबार फिर चीन को सवालों के घेरे में लाकर खड़ा कर दिया है.

कोरोना के जन्मदाता देश चीन को अमेरिकी राष्ट्रपति ने कुछ इस अंदाज में 'धोया'

नई दिल्ली: अमेरिका के राष्ट्रपति डॉनल्ड ट्रंप का ये बड़ा सामने आया है, जिसमें एक बार फिर उन्होंने कोरोना को लेकर चीन पर अपनी तीखी प्रतिक्रिया दी है. इससे आपको ये भी अंदाजा हो जाएगा कि कोरोना वायरस को लेकर किस तरह से चीन पर अमेरिका का गुस्सा बढ़ता जा रहा है.

चीन पर फूटा अमेरिका का गुस्सा

अमेरिका के राष्ट्रपति डॉनल्ड ट्रंप ने दो टूक शब्दों में ये कह दिया है कि "ईमानदारी से कहूं तो मैं चीन से नाराज़ हूं." उनके इस बयान से साफ-साफ समझा जा सकता है कि कोरोना के कहर से काफी ज्यादा चिंतित हैं और अपना सारा गुस्सा कोरोना के जन्मदाता देश चीन पर निकाल रहे हैं.

अमेरिका राष्ट्रपति डॉनल्ड ट्रंप चीन से बेहद नाराज़ हैं. ट्रंप ने आरोप लगाया कि कोरोना वायरस की पहली रिपोर्ट सामने आते ही अमेरिका की ओर से चीन को मदद का प्रस्ताव दिया गया था लेकिन चीन ने इसे ठुकारा दिया. उल्टे चीन ने कोरोना वायरस का सच दुनिया से छिपाया और आज इसकी कीमत पूरी दुनिया चुका रही है.

चीन पर अमेरिका का आरोप

डॉनल्ड ट्रंप ने ये भी कहा है कि "हमने अपने लोग चीन में भेजने पर पर चर्चा की थी. लेकिन चीन ने इसका कोई जवाब नहीं दिया. एक बार फिर हमने ये कहा लेकिन चीन चुप रहा. अगर वो चाहते तो हमें बहुत पहले इसका संकेत दे सकते थे."

राष्ट्रपति ट्रंप इससे पहले भी दो बार इस जानलेवा कोरोना वायरस को चीनी वायरस कहकर चीन को कटघरे में खड़ा कर चुके हैं. जिसपर चीन अपनी कड़ी प्रतिक्रिया भी जता चुका है.

ट्रंप ने कोरोना को कहा 'चीनी वायरस'

अमेरिकी राष्ट्रपति ट्रंप ने कहा है कि "हम अमेरिका में लगातार चीनी वायरस को खत्म करने के लिए रिसर्च कर रहे हैं." लेकिन आप ट्रंप के इस कड़े रुख की वजह भी समझिए, अमेरिका में इस वक्त कोरोना वायरस से हालात बदतर हो चुके हैं, अमेरिका कोरोना वायरस के आगे घुटने टेक चुका है.

अमेरिका में इस समय करीब 35 हज़ार लोग कोरोना वायरस से पीड़ित हैं और इस जानलेवा वायरस की वजह से 450 से ज्यादा लोगों की जानें जा चुकी हैं. हर दिन के साथ पीड़ितों को आंकड़ा बढ़ रहा है. 39 लोगों की जान तो पिछले 24 घंटों में ही गई है.

इसे भी पढ़ें: कोरोना की दहशत: बिना बीमारी के कोलंबिया में 23 की मौत

जाहिर है अमेरिका में हालात बेकाबू हैं और अमेरिका से ऐसे ही अगर लगातार तस्वीर भयानक आती रही, तो ये अमेरिका चीन में ये तल्खी भयानक मोड़ भी ले सकती है.

इसे भी पढ़ें: हिंद महासागर में चीन की चौकीदारी, तैनात किए 12 अंडरवॉटर ड्रोन्स

इसे भी पढ़ें: कोरोना के खिलाफ 'वर्ल्ड' वार! इटली, अमेरिका और जर्मनी बदहाल