Pak PM Imran Khan को एक और झटका, सलाहकार पद से बाजवा ने दिया इस्तीफा

असीम बाजवा पाक सेना के प्रवक्ता भी रह चुके हैं. पाकिस्तानी सेना से रिटायर होने के बाद वह चीन-पाकिस्तान इकॉनॉमिक कॉरीडोर के चेयरमैन बनाए गए. बताया जा रहा है कि बाजवा व उनके परिवार की 99 कंपनियां और 133 रेस्त्रां हैं. उन पर भ्रष्टाचार के बड़े आरोप लगे हैं.

Pak PM Imran Khan को एक और झटका, सलाहकार पद से बाजवा ने दिया इस्तीफा

नई दिल्लीः पाक प्रधानमंत्री इमरान खान के सितारे गर्दिश में हैं. उन्हें चौतरफा बड़े-बड़े झटके मिल रहे हैं. अब बड़ी खबर आई है कि पाकिस्तान के पूर्व लेफ्टिनेंट जनरल असीम बाजवा गुरुवार को अपने पद से इस्तीफा दे दिया है. बाजवा पीएम इमरान खान के सलाहकार थे. पिछले कई दिनों से वह लगातार भ्रष्टाचार के आरोप में बुरी तरह घिरे हुए थे. बाजवा ने गुरुवार को खुद इसकी घोषणा की है. 

बाजवा पर हैं भ्रष्टाचार के आरोप
जानकारी के मुताबिक, असीम बाजवा पर भ्रष्टाचार के बड़े आरोप लगे हैं. उन्होंने चीन के साथ मिलकर बेहिसाब संपत्ति बना ली है, ऐसा कहा जा रहा है. इसके बाद से ही पाकिस्तान की सियासत में बड़ी खलबली मची हुई थी.

इस्तीफे के घोषणा के साथ ही असीम बाजवा ने कहा कि वह चीन-पाकिस्तान इकोनॉमिक कॉरिडोर (सीपीईसी) के चेयरमैन बने रहेंगे. चीन के साथ प्रोजक्ट में जुड़े रहने को लेकर भ्रष्टाचार के आरोप और गहरा रहे हैं.  

सीपीईसी के चेयरमैन बने रहेंगे बाजवा
असीम बाजवा पाक सेना के प्रवक्ता भी रह चुके हैं. पाकिस्तानी सेना से रिटायर होने के बाद वह चीन-पाकिस्तान इकॉनॉमिक कॉरीडोर के चेयरमैन बनाए गए. बताया जा रहा है कि बाजवा व उनके परिवार की 99 कंपनियां और 133 रेस्त्रां हैं.

एक पाक वेबसाइट ने यह भी खुलासा किया है कि बाजवा का कारोबार चार देशों में फैला हुआ है और कुछ सालों में ही रिटायर्ड जनरल ने खरबों की संपत्ति बना ली है. भ्रष्टाचार के आरोप इसलिए लग रहे हैं क्योंकि रिपोर्ट के मुताबिक बाजवा जब इमरान के सलाहकार बने थे तब अपने शपथपत्र में उन्होंने कोई संपत्ति न होने का दावा किया था. 

चीन से आर्थिक रिश्तों के पीछे बाजवा का हाथ
शपथपत्र में दावा किया था कि न तो उनकी और न ही उनकी पत्नी या परिवार के किसी सदस्य की पाकिस्तान के बाहर कोई संपत्ति है. सेना में आने से पहले बाजवा एक पिज्जा कंपनी में डिलिवरी ब्यॉय का काम करते थे और देखते ही देखते उनके भाइयों ने और परिवार के दूसरे सदस्यों ने पापा जॉन पिज्जा कंपनी की चेन खड़ी कर ली.

चीन के साथ पाकिस्तान के बेहतरीन आर्थिक रिश्ते के पीछे बाजवा ही हैं.  इसी वजह से चीन पाकिस्तान में अरबों डॉलर का निवेश कर रहा है. 

यह भी पढ़िए-परमाणु और मिसाइल तकनीक हासिल करते पकड़ा गया पाकिस्तान

कुलभूषण जाधव के वकील की नियुक्ति कर सकेगा भारत