close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

लंदन में दिखा भारत का दम, उच्चायोग घेरने आए पाकिस्तानियों को खदेड़ा गया

दुनिया में भारत की बढ़ रही ताकत सिर्फ देश के अंदर ही नहीं बल्कि सात समुंदर पार भी साफ दिखाई दे रही है. ब्रिटेन की राजधानी लंदन में पाकिस्तानियों ने भारतीय उच्चायोग को घेरकर हंगामा मचाने की साजिश रची थी. लेकिन भारत के आपत्ति जताए जाने के बाद लंदन पुलिस ने पाकिस्तानियों की ये साजिश विफल कर दी.  

लंदन में दिखा भारत का दम, उच्चायोग घेरने आए पाकिस्तानियों को खदेड़ा गया
लंदन में पाकिस्तानियों की साजिश विफल

लंदन: पाकिस्तान का भारत विरोध मात्र उप महाद्वीप तक ही सीमित नहीं है, बल्कि उसके पिट्ठुओं ने लंदन में भी भारतीय उच्चायोग के सामने हंगामा मचाने की योजना बना रखी थी. लेकिन इसकी भनक मिलते ही भारतीय विदेश मंत्रालय ने ब्रिटिश प्रधानमंत्री के सामने आपत्ति जाहिर की थी. इसके बाद तो जैसे पूरा खेल ही बदल गया. 

पाकिस्तानियों को दिखा दी औकात
लंदन में भारतीय उच्चायोग के सामने पाकिस्तानियों की प्रदर्शन करने की योजना तब फुस्स हो गई, जब स्थानीय प्रशासन ने उच्चायोग के आस पास भारी सुरक्षा प्रबंध किए. जिसके बाद पाकिस्तानियों को अपनी औकात समझ में आ गई. उनकी हिम्मत नहीं हुई कि वह अपने तय कार्यक्रम के मुताबिक विरोध प्रदर्शन कर पाएं. हालांकि वहां भीड़ इकट्ठा जरुर हुई लेकिन वह आगे नहीं बढ़ पाए. 

ब्रिटिश प्रधानमंत्री ने दी थी चेतावनी

लंदन में भारतीय उच्चायोग के बाहर पाकिस्तानियों के प्रदर्शन की योजना पर भारत सरकार ने ब्रिटिश सरकार के सामने चिंता जाहिर की थी और उच्चायोग के आसपास सुरक्षा व्यवस्था बढ़ाने के लिए कहा था.  भारत ने लंदन स्थित भारतीय उच्चायोग के सामने पाकिस्तान के समर्थन में प्रदर्शन का मुद्दा मजबूती के साथ ब्रिटिश सरकार के समक्ष उठाया था और ब्रिटेन ने भी भरोसा दिया था कि वह कानून व्यवस्था बनाए रखने के लिए हर संभव कदम उठाएगा. ब्रिटिश प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन ने इसपर संज्ञान लेते हुए प्रदर्शनकारियों को चेतावनी दी थी. उन्होंने कहा था कि यहां हिंसा और डराने धमकाने वाली चीजें अस्वीकार्य हैं. जिसके बाद इस बात के संकेत मिल गए थे कि पाकिस्तानियों की योजना विफल हो जाएगी.

कुछ ऐसी थी भारत की रणनीति
भारत के खिलाफ प्रदर्शन की पाकिस्तानी योजना भारत की एक बेटी की वजह से विफल हो गई. भारतीय मूल की ब्रिटिश गृहमंत्री प्रीति पटेल ने निजी तौर पर इस मामले में संज्ञान लिया और पुलिस सं संपर्क किया. जिसके बाद ब्रिटिश पुलिस एक्शन में आ गई और पाकिस्तानियों को उनकी औकात दिखा दी गई. 

दिवाली के दिन पाकिस्तानियों ने रची थी साजिश
पाकिस्तानियों ने भारतीय उच्चायोग के सामने प्रदर्शन करने के लिए दिवाली का दिन चुना था. जिससे त्योहार के दिन ब्रिटिश भारतीयों को झटका दिया जा सके. लेकिन भारतीय कूटनीति के सामने दुश्मन की साजिश विफल हो गई. यहां तक कि लंदन के मुस्लिम मेयर सादिक खान ने भी दिवाली के दिन इस तरह के प्रदर्शन की निंदा की थी. लेकिन पाकिस्तानी मानने के लिए तैयार नहीं थे. लेकिन पुलिस के डंडों के डर से वो औकात में आ गए। 
इसके पहले 15 अगस्त को भारतीय स्वतंत्रता दिवस के मौके पर भी पाकिस्तानियों ने भारतीय उच्चायोग के सामने जमकर उत्पात मचाया था. उस समय उन्होंने उच्चायोग की बिल्डिंग में तोड़ फोड़ तक कर दी थी. लेकिन इस बार उनकी एक नहीं चली.