• कोरोना वायरस पर नवीनतम जानकारी: भारत में संक्रमण के सक्रिय मामले- 2,76,685 और अबतक कुल केस- 7,93,802: स्त्रोत PIB
  • कोरोना वायरस से ठीक / अस्पताल से छुट्टी / देशांतर मामले: 4,95,513 जबकि मरने वाले मरीजों की संख्या 21,604 पहुंची: स्त्रोत PIB
  • कोविड-19 की रिकवरी दर 62.08% से बेहतर होकर 62.42% पहुंची; पिछले 24 घंटे में 19,135 मरीज ठीक हुए
  • पिछले 24 घंटे में कोविड-19 के 19,135 मरीज ठीक हो चुके हैं, ठीक हुए लोगों और सक्रिय मामलों के बीच का अंतर 2 लाख से अधिक है
  • भारत में प्रति मिलियन आबादी पर कोविड-19 के सबसे कम 538 मामले हैं जबकि वैश्विक औसत 1497 हैं
  • MoHFW ने कोविड-19 के हल्के मामलों में HCQ का उपयोग करने की सिफारिश की और गंभीर रोगियों को इसके सेवन से बचने की सलाह दी
  • एएसआई के स्मारकों में फ़िल्म शूटिंग करने के लिए 15 दिन के अंदर मिलेगी इजाजत
  • 750 मेगावाट की रीवा सौर परियोजना से हर साल करीब 15 लाख टन CO2 बराबर कार्बन उत्सर्जन में कमी आएगी, PM राष्ट्र को करेंगे समर्पित
  • मंत्रालय एक राष्ट्र-एक राशन कार्ड योजना को जनवरी 2021 तक शेष सभी राज्यों/केंद्र शासित प्रदेशों में लागू करने के लिए प्रयासरत है
  • MHRD: विज्ञान, तकनीक और कानून आदि जैसे विषयों पर प्राथमिक से PG तक की गुणवत्ता वाली सामग्री विभिन्न प्रारूपों में उपलब्ध है

PoK में अल बद्र के आतंकियों से मिले PLA के अधिकारी! भारत के खिलाफ चीन-पाकिस्तान की साजिश

सूत्रों के मुताबिक चीन के कुछ सैन्य अधिकारियों ने पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर (PoK) में आतंकवादी संगठन अल बद्र के आतंकवादियों से मुलाकात की है. चीन और पाकिस्तान मिलकर भारत के खिलाफ साजिश रच रहे हैं..

PoK में अल बद्र के आतंकियों से मिले PLA के अधिकारी! भारत के खिलाफ चीन-पाकिस्तान की साजिश

नई दिल्ली: चीन ने अभी से भारत के खिलाफ अपनी हार कबूल कर ली है और इसका सबसे बड़ा प्रमाण ये है कि चीन अब उन कमजोर देशों के कंधे पर बंदूक रखकर भारत पर गोली चलाना चाहता है जो देश पहले ही भारत से कई बार हार चुके हैं.

खबर क्या है?

सूत्र: चीन आतंकी संगठन अल बद्र की मदद ले रहा है
अल बद्र के आतंकियों से मिले PLA के अधिकारी
PoK में चीन के सैन्य अधिकारियों की आतंकियों से मुलाकात
आतंकवाद के सहारे भारत के खिलाफ लड़ने की तैयारी में चीन
आतंकी संगठन अल बद्र ने भारत में कई आतंकी हमले किये

इस बीच चीन की एक और साजिश का खुलासा हुआ है. रिपोर्ट्स के मुताबिक चीन के कुछ सैन्य अधिकारियों ने पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर में आतंकवादी संगठन अल बद्र के आतंकवादियों से मुलाकात की है. चीन इस आतंकवादी संगठन को आर्थिक मदद देकर इसे फिर से खड़ा करना चाहता है ताकि ये भारत के खिलाफ लड़ाई छेड़ सके.

अल बद्र पाकिस्तान से चलाया जाने वाला होने वाला आतंकी संगठन है और ये अफगानिस्तान और कश्नीर में कई आतंकी घटनाओं में शामिल रहा है और इसने कारगिल युद्ध में पाकिस्तानी सेना की मदद भी की थी.

खबर का मतलब समझिए

खबर ये है कि PoK में अल बद्र के आतंकियों से चीनी के सैन्य अधिकारी मिले है
मतलब ये है कि LAC पर हार के बाद अब चीन आतंकियों के सहारा ले रहा है

निश्चित तौर पर चीन अब अपने चेले पाकिस्तान की तरह आतंकवाद का सहारा लेने पर मजबूर हो गया है. भारत के खिलाफ चीन की इस नई साज़िश पर 3 बड़ी बातें अब आप समझ लीजिए.

पहली बड़ी बात: भारत के खिलाफ चीन का 'आतंकी गठबंधन'

दूसरी बड़ी बात: PoK में रची जा रही है चीन की 'आतंकी साज़िश' 

तीसरी बड़ी बात: सैन्य अधिकारी आतंकी संगठन अल बद्र से मिले

चीन का बौखलाना जाहिर है, क्योंकि चमगादड़ रूपी ड्रैगन की करतूत के लिए उसे भारत सबक सिखा रहा है. चीन के खिलाफ भारत को पूरी दुनिया का साथ मिल रहा है. चीन आतंक को अपना हथियार बनाने की कोशिश कर रहा है. लेकिन उसे ये भूल हो गई है कि वो भारत का कुछ बिगाड़ पाएगा.

इसे भी पढ़ें: भारत को डरा रहा है कोरोना, 24 घंटे में 500 से अधिक लोगों की मौत! पढ़ें ताजा अपडेट

इसे भी पढ़ें: सोपोर में CRPF के काफिले पर आतंकी हमला, एक जवान को वीरगति को प्राप्त