• पूरे देश में कोरोना वायरस के कुल सक्रिय मामले अभी तक 4312 हैं, अभी तक 124 लोगों की मृत्यु हुई, 353 लोग इलाज के बाद ठीक हुए
  • स्वास्थ्य मंत्रालय ने कोरोना मरीजों की देखभाल के लिए अस्पताल और अन्य सुविधाओं को तीन भागों में बांटा.
  • भारतीय रेलवे अपने डॉक्टरों और चिकित्साकर्मियों की सुरक्षा के लिए हर रोज एक हजार पीपीआई किट का निर्माण करेगी
  • कोरोना से निपटने के लिए राहत कार्यों में योगदान देने के लिए पूर्व सैनिकों ने स्वैच्छिक सेवाएं प्रदान की
  • लॉकडाउन के बीच जहाजों का आवागमन होगा, पोत परिवहन मंत्रालय ने सुनिश्चित किया
  • सरकार के दीक्षा ऐप पर कोरोना से जूझने वालों के लिए इंटीग्रेटेड ऑनलाइन गवर्नमेन्ट ट्रेनिंग यानी IGOT कोर्स लाया गया है
  • पूरी दुनिया में कोरोना वायरस की चपेट में 1,428,428, अब तक कुल 82,020 की मौत हो चुकी है. 3,00,198 मरीज ठीक भी हुए.
  • राज्यों में कुल कोरोना संक्रमण- महाराष्ट्र में 1161, तमिलनाडु में 690, दिल्ली में 606, तंलंगाना में 404, केरल में 336
  • उत्तर प्रदेश में 332 राजस्थान में 343, आंध्र में 324, मध्य प्रदेश में 280, कर्नाटक में 204, गुजरात में 168

पाकिस्तान में कोरोना से मौत का शिया कनेक्शन

एक सवाल पाकिस्तान में रहने वालों को बहुत चौंका रहा है कि आखिर पाकिस्तान में शिया क्यों हो रहे कोरोना वायरस के सबसे ज्यादा शिकार?

पाकिस्तान में कोरोना से मौत का शिया कनेक्शन

नई दिल्ली. गरीब देश पाकिस्तान को लग रहा था कि ऊपर वाले की रहम रहेगी उस पर और दुनिया का दुश्मन कोरोना उसको छोड़ कर अगला घर देखतेगा. लेकिन ऐसा नहीं हुआ. कुदरत का कहर तो शायद उन पर ज्यादा बरसता है जो कुदरत की बनाई इंसानी दुनिया के दुश्मन होते हैं. अब पाकिस्तान में कोरोना वायरस संक्रमण के मामले तेजी से बढ़ रहे हैं. और उनमें भी ज्यादातर शिया मुसलमानो में ये संक्रमण फ़ैल रहा है.

पाकिस्तान के कोरोना आंकड़े क्या कहते हैं

आज की तारीख में आतंकिस्तान में कोरोना के पाँव पसारने के बाद संक्रमण के आंकड़े लगातार बदलते जा रहे हैं. ज्यों ज्यों संक्रमण फैलता जा रहा है आंकड़ों में भी बदलाव आने लगा है. अब तक पाकिस्तान में 800 से ज्यादा लोग कोरोना वायरस से संक्रमित हो चुके हैं और संक्रमण के आंकड़ों में सबसे ज्यादा 352 मामले सिंध प्रांत के हैं. पाकिस्तान में अब तक 6 कोरोना मौतें भी हो चुकी हैं. इमरानी सरकार ने इस संक्रमण के खिलाफ कुछ कदम उठाये हैं और अंतरराष्ट्रीय उड़ानों पर रोक लगा दी है. उत्तरी पाकिस्तान और सिंध प्रांत में सरकार ने सेना उतार दी है और पूरी तरह से लॉकडाउन का ऐलान कर दिया है.

सिंध प्रांत में सबसे अधिक शिया हैं
सिंध प्रांत में सबसे ज्यादा संक्रमण देखा जा रहा है. कोरोना के पाकिस्तानी आंकड़े बताते हैं कि यह संक्रमण सर्वाधिक सिंध प्रांत में देखा जा रहा. ज़ाहिर है सबसे ज्यादा यहां के शिया तीर्थयात्री इससे पीड़ित हो रहे हैं. ये वही शिया तीर्थयात्री हैं जो हाल ही में पड़ोसी देश ईरान में धार्मिक स्थलों का दौरा करके लौटे हैं. इनमें से ज्यादातर तीर्थयात्री बलूचिस्तान प्रांत से लगी सीमा से होकर पाकिस्तान वापस आये थे. उधर अफगानिस्तान भी कोरोना पीड़ित है क्योंकि ईरान से करीब दस हज़ार लोग शरणार्थी बनकर वहां पहुंच गए हैं. उधर तीसरे पड़ोसी ईरान में अब तक कोरोना वायरस ने डेढ़ हज़ार लोगों की जानें ले ली हैं.

तीर्थयात्रियों ने फैलाया कोरोना

पाकिस्तान सरकार के अधिकारियों ने अपनी पड़ताल में पाया कि ईरान से लौटे तमाम तीर्थयात्रियों के बीच कोरोना वायरस के मामले तेजी से बढ़ रहे हैं. ये सभी तीर्थयात्री पिछले दो महीनो में ताफ्तान, बलूचिस्तान से लगती ईरान की सीमा से पाकिस्तान वापस आये थे. देश में अब तक मारे गए कोरोना वायरस से पीड़ित नौ लोगों में से छह ईरान से लौटे तीर्थयात्री हैं.