• देश में कोविड-19 से सक्रिय मरीजों की संख्या 93,322 पहुंची, जबकि संक्रमण के कुल मामले 1,90,535: स्त्रोत-PIB
  • कोरोना से ठीक होने वाले लोगों की संख्या- 91,819 जबकि अबतक 5,394 मरीजों की मौत: स्त्रोत-PIB
  • PM ने लोगों से आग्रह किया कि कोविड-19 के बीच वे अधिक सतर्क और सावधान रहें, क्योंकि अर्थव्यवस्था का एक बड़ा खंड खोल दिया गया है
  • आज से शुरू होगी 200 स्पेशल ट्रेनें, पहले दिन 1.45 लाख से भी अधिक यात्री सफर करेंगे
  • थर्मल स्क्रीनिंग के लिए यात्रियों को ट्रेन रवाना होने से 90 मिनट पहले स्टेशन पहुंचना होगा
  • एनटीए ने विभिन्न परीक्षाओं के लिए ऑनलाइन आवेदन पत्र जमा करने की अंतिम तिथियों को आगे बढ़ा दिया है
  • वाणिज्य और उद्योग मंत्री ने कोविड-19 के दौरान फार्मास्युटिकल उद्योग के योगदानों व भूमिका की सराहना की
  • अपने वाहन में अक्सर इस्तेमाल में आने वाली सतहों को नियमित रूप से साफ करें। #IndiaFightsCorona

दुनिया के दुश्मन ने अबतक 65 हजार से ज्यादा लोगों को मार डाला! पढ़ें, वर्ल्ड रिपोर्ट

दुनिया भर में कोरोना वायरस मानवता का बड़ा दुश्मन बना हुआ है. दुनिया के कई देशों से लगातार मौत की खबरें सामने आ रही हैं. इस वायरस से विश्व में अब तक 65 हजार से ज्यादा लोगों की मौत हो चुकी है.

दुनिया के दुश्मन ने अबतक 65 हजार से ज्यादा लोगों को मार डाला! पढ़ें, वर्ल्ड रिपोर्ट

नई दिल्ली: कोरोना महामारी से दुनिया भर में तबाही मची हुई है. इस वायरस से विश्व में अब तक 65 हजार से ज्यादा लोगों की मौत हो चुकी है. संक्रमितों की संख्या 12 लाख को पार कर गयी है.

इटली में रविवार को मौत का आंकड़ा रहा कम

महामारी से यूरोप बुरी तरह प्रभावित है. लेकिन इटली में रविवार को दो हफ्ते में पहली बार ऐसा हुआ जब कोरोना वायरस से संक्रमितों की रोजाना होने वाली मौतों का आंकड़ा कम रहा. वहीं, लगातार दूसरे दिन गंभीर रूप से बीमार मरीजों की संख्या में भी कमी आई है.

इटली में रविवार को कोरोना से 525 लोगों की मौत हुई है जो 19 मार्च को हुई 427 लोगों की मौतों के बाद सबसे कम है. इटली में अब तक कोरोना से 15 हजार 300 से ज्यादा मौतें हो चुकी हैं. जबकि, 1 लाख 29 हजार लोग महामारी की चपेट में आ चुके हैं.

अमेरिका में मरने वालों की संख्या पहुंची करीब 9000

दुनिया का सबसे शक्तिशाली देश अमेरिका कोरोना वायरस से बुरी तरह प्रभावित है. यहां स्थिति बदतर होती जा रही है. अमेरिका में शनिवार को 1,497 लोगों की मौत हो गई जो अब तक की सबसे ज्यादा संख्या है.

इसके साथ ही यहां मरने वालों की संख्या 8,500 पार कर गई. वहीं संक्रमण के मामले तीन लाख 12 हजार से ज्यादा हो गए हैं. सिर्फ न्यूयॉर्क में 24 घंटे में 590 से ज्यादा लोगों की मौत हो चुकी है. डॉक्टरों के मुताबिक अमेरिका के लिए ये हफ्ता बेहद मुश्किल और दुखदायी साबित हो सकता है.

ब्रिटेन में लोग नहीं कर रहे सोशल डिस्टेंसिंग का पालन

ब्रिटेन में गर्मी के मौसम आता देख लोग घरों में रुकने को तैयार नहीं हैं. यहां लोग न सिर्फ बाहर निकल रहे हैं, बल्कि पार्कों में सोशल डिस्टेंसिंग का पालन भी नहीं कर रहे हैं. ऐसे में हेल्थ मिनिस्टर मैट हैनकॉक ने कड़े लहजे में कहा है कि घर से बाहर सिर्फ जरूरी काम के लिए निकलना अपील नहीं, कानून के मुताबिक जरूरत है. ब्रिटेन में अब तक 47,800 से ज्यादा लोग कोरोना वायरस की चपेट में हैं और 4,930 से ज्यादा लोगों की मौत हो चुकी है.

ब्रिटेन की महारानी एलिजाबेथ ने अपने देश के लोगों को संबोधित करते हुए कहा है कि हम कोरोना वायरस को हरा सकते हैं. उन्होंने कहा कि मैं आपको आश्वस्त करना चाहता हूं कि अगर हम एकजुट और दृढ़ रहते हैं, तो हम इसे दूर करेंगे. महारानी एलिजाबेथ ने महामारी के खिलाफ काम कर रहे डॉक्टरों और हेल्थ वर्करों का धन्यवाद किया.

स्पेन में कोरोना से अबतक करीब साढ़े 12 हजारों मौतें

स्पेन में अमेरिका के बाद सबसे ज्यादा 1 लाख 30 हजार 750 से ज्यादा लोग कोरोना से संक्रमित हैं. वहीं अब तक कुल 12,418 लोगों की मौतें हो चुकी हैं. हालांकि, यहां मौत का आंकड़ा धीरे-धीरे कम हो रहा है. रविवार को यहां 674 लोगों की मौत हुई. जो कि 3 अप्रैल के 850 और 4 अप्रैल के 749 लोगों की मौत के आंकड़े से कम है. देश में लॉकडाउन 25 अप्रैल तक बढ़ा दिया गया है.

फ्रांस में मरने वालों की संख्या 8 हजार के पार

फ्रांस में कोरोना से 357 और लोगों ने जान गंवा दी. हालांकि ये पिछले दो दिनों के मुकाबले कम है. फिर भी यहां मृतकों की संख्या 8 हजार के पार हो गई है. फ्रांस में 90 हजार से ज्यादा लोग कोरोना से संक्रमित हैं.

जिस चीन के वुहान से दुनिया भर में कोरोना वायरस फैला. वहां स्थितियां धीरे-धीरे सामान्य हो रही हैं. वुहान के नौ इलाकों को 'लो रिस्क' और चार इलाकों को 'मीडियम रिस्क' वाला घोषित किया गया है.

इसे भी पढ़ें: कोरोना से जंग खत्म नहीं हुई थी कि दुनिया के कई देशों के बीच शुरू हो गया 'युद्ध'

इस बीच अमेरिका की द न्यू यॉर्क टाइम्स की रिपोर्ट में कहा गया है कि चीन की ओर से वायरस के बारे में खुलासा किए जाने के बाद लगभग 4 लाख 30 हजार लोग 2 महीनों में चीन से सीधी उड़ान के जरिए अमेरिका पहुंचे थे. रिपोर्ट में कोरोनो को दुनिया भर में भी फैलाने के पीछे चीन की साज़िश की ओर इशारा किया गया है.

इसे भी पढ़ें: चीन ने अब इटली को भी लगाया चूना

इसे भी पढ़ें: क्या ये कोरोना अटैक था अमेरिका पर?