• देश में कोविड-19 से सक्रिय मरीजों की संख्या 97,581 पहुंची, जबकि संक्रमण के कुल मामले 1,98,706: स्त्रोत-PIB
  • कोरोना से ठीक होने वाले लोगों की संख्या- 95,527 जबकि अबतक 5,598 मरीजों की मौत: स्त्रोत-PIB
  • पीएम ने एमएसएमई को सशक्त बनाने के लिए चैंपियन नामक प्रौद्योगिकी मंच लॉन्च किया
  • कोविड-19 के बीच सुरक्षित यात्रा सुनिश्चित करने के लिए सरकार ने घरेलू यात्रियों के लिए दिशानिर्देश जारी किए
  • कैबिनेट ने कृषि और संबद्ध गतिविधियों के लिए अल्पावधि ऋण को चुकाए जाने की समय सीमा बढ़ाने को मंजूरी दी
  • कैबिनेट ने संकटग्रस्त MSME के लिए 20,000 करोड़ रुपये के प्रावधान को मंजूरी दी, इससे संकट में फंसे 2 लाख एमएसएमई को मदद मिलेगी
  • कैबिनेट ने एमएसएमई ने परिभाषा के संशोधन को मंजूरी दी, मध्यम उद्यमों के लिए टर्नओवर की सीमा को संशोधित कर 250 करोड़ किया गया
  • ECLGS/MSME से संबंधित प्रश्नों और अन्य उपायों के लिए DFS ने ट्विटर हैंडल @DFSforMSMEs का शुभारंभ किया
  • वन नेशन वन कार्ड योजना में 3 और राज्य शामिल किए गए: खाद्य एवं सार्वजनिक वितरण मंत्री
  • डीआरडीओ ने पीपीई और अन्य सामग्रियों के कीटाणुशोधन के लिए अल्ट्रा स्वच्छ विकसित किया

अमेरिकी राष्ट्रपति ट्रंप ने WHO को दिए जाने वाले पैसे पर लगाई रोक

अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने एक बड़ा फैसला लिया है. ट्रंप ने WHO को दिए जाने वाले धन पर रोक लगा दी है, इसकी वजह ट्रंप ने विश्व स्वास्थ्य संगठन को चीन केंद्रित होना बताया है.

अमेरिकी राष्ट्रपति ट्रंप ने WHO को दिए जाने वाले पैसे पर लगाई रोक

नई दिल्ली: अमेरिका के राष्ट्रपति ने विश्व स्वास्थ्य संगठन पर बड़ा आरोप लगाया है. ट्रंप ने WHO को चीन केंद्रित बताया. दरअसल WHO ने ट्रंप के कई फैसलों को गलत बताया जिसपर ट्रंप का यह बयान आया और ट्रंप ने कई अहम फैसले किए.

ट्रंप ने कहा कि अमेरिका की तरफ से WHO को बड़ी मात्रा में पैसे दिए जाते है. लेकिन इसके बावजूद भी WHO ने मेरे द्वारा लगाए गए यात्रा प्रतिबंध की आलोचना की और इसके प्रति अपनी असहमति भी जताई. वे बहुत जगहों पर गलत भी रह चुके हैं. जिसके चलते ट्रंप ने WHO को दिए जाने वाले फंडिंग पर रोक लगा दी है.. 

कोरोना ने दुनिया में अबतक 82 हजार से ज्यादा लोगों को मार डाला! पढ़ें, ताजा UPDATE.

इसके साथ ही ट्रंप ने बताया कि WHO को मिलने वाले धन का अधिकांश हिस्सा अमेरिका से दिया जाता है. अमेरिका करीब 58 मिलियन विश्व स्वास्थ्य संगठन को देता हा. कभी-कभी उन्हें इससे ज्यादा भी दिया गया है. बता दें कि कोरोना के चलते अमेरिका की स्थिति बेहत खराब है. अमेरिका में करीब तीन लाख लोग कोरोना से संक्रमित पाए गए है और 10 हजार से ज्यादा लोग अपनी जान गंवा चुके हैं.