उफ, लोगों की ये लापरवाही कहीं पड़ न जाये जीवन पर भारी, ना मास्क ना सामाजिक दूरी के बेखौफ लोगों...
X

उफ, लोगों की ये लापरवाही कहीं पड़ न जाये जीवन पर भारी, ना मास्क ना सामाजिक दूरी के बेखौफ लोगों...

देश और प्रदेश के साथ-साथ अब जिला रेवाड़ी में भी कोरोना वैश्विक महामारी का प्रकोप स्वास्थ्य विभाग की चिंता बढ़ाने लगा है. क्योंकि दस दिन पूर्व जो जिला रेवाड़ी कोरोना मुक्त था. अब वहां इस महामारी से करीब 286 लोग संक्रमित हो चुके हैं

उफ, लोगों की ये लापरवाही कहीं पड़ न जाये जीवन पर भारी, ना मास्क ना सामाजिक दूरी के बेखौफ लोगों...

मनोज गोस्वामी/रेवाड़ी: देश और प्रदेश के साथ-साथ अब जिला रेवाड़ी में भी कोरोना वैश्विक महामारी का प्रकोप स्वास्थ्य विभाग की चिंता बढ़ाने लगा है. क्योंकि दस दिन पूर्व जो जिला रेवाड़ी कोरोना मुक्त था. अब वहां इस महामारी से करीब 286 लोग संक्रमित हो चुके हैं जिसके बाद सरकार ने दिशा-निर्देश पर जिला प्रशासन भी अब लापरवाह लोगों के प्रति तमाम प्रतिबंध लगाकर सख्ती से पेश आ रहा है.

लेकिन, बावजूद इसके रेवाड़ी के गांव किशन गढ़ बालावास में मकर संक्राति के अवसर पर आयोजित मेले में उमड़ी बिना मास्क ओर बिना सामाजिक दूरी वाली हजारों की इस बेखौफ भीड़ ने सरेआम सरकार के आदेशों की धज्जियों को उड़ाया. इसी के साथ जमकर मंच पर लगने वाले ठुमकों का लुत्फ उठाया. विडंबना तो देखिए प्रतिबन्ध लगाने वाले किसी भी प्रशासनिक अधिकारी की नजर तक यहां नहीं पहुंची उनका वहां पहुंचना तो बड़े दूर की बात है.

WATCH LIVE TV

इस संदर्भ में हमने जब आयोजकों से बात की तो बिना मास्क लगाये इन आयोजकों ने इसे हल्के में लेते हुए बड़ा अजीब जवाब दिया कि जब उतरप्रदेश और अन्य राज्यों में होने वाले विधानसभा चुनावों से पूर्व जब नेता रैलियों में लाखों की भीड़ जुटा सकते हैं तो फिर हम इन सांस्कृतिक मेलों का आयेजन क्यों नहीं कर सकते.

आयोजित मेले में उमड़ी बेखौफ इस भीड़ की तस्वीरों को देखने के बाद लगता है कि लोग वैश्विक महामारी के उस दूसरे खतरनाक दौर के खौफनाक मंजर को भूल चुके हैं जब हम में से हरेक ने किसी न किसी अपने को हमेशा के लिये खो दिया था. वैसा मंजर दोबारा न देखने को मिले इसके लिए प्रशासन को ऐसे आयोजनों ओर ऐसे लापरवाह लोगों के प्रति ओर सख्त होना पड़ेगा, ताकि इस महामारी से लोगों को बचाया जा सकें.

Trending news