Makar Sankranti 2022 : सूर्य पर लगा कोहरे का 'ग्रहण', कोरोना के चलते कुरुक्षेत्र के ब्रह्म सरोवर दिखा सूना
X

Makar Sankranti 2022 : सूर्य पर लगा कोहरे का 'ग्रहण', कोरोना के चलते कुरुक्षेत्र के ब्रह्म सरोवर दिखा सूना

Makar Sankranti 2022 : ब्रह्मसरोवर के तीर्थ पुरोहित राकेश गोस्वामी का कहना है कि इसी दिन भीष्म पितामह ने अपनी इच्छा से अपने प्राणों का त्याग किया था. मकर सक्रांति का दिन ऐतिहासिक और पौराणिक रूप से काफी सौभाग्य सुख-समृद्धि देने वाला है.

Makar Sankranti 2022 : सूर्य पर लगा कोहरे का 'ग्रहण', कोरोना के चलते कुरुक्षेत्र के ब्रह्म सरोवर दिखा सूना

दर्शन कैत/कुरुक्षेत्र : मकर सक्रांति के पवित्र अवसर पर कुरुक्षेत्र के ऐतिहासिक ब्रह्मसरोवर पर कोरोना का व्यापक असर दिखाई दिया. हर बार की अपेक्षा इस बार बहुत काम श्रद्धालु यहां पहुंचे.

हालांकि सुबह कोहरे के बीच सूर्या देवता के दर्शन नहीं हुए, लेकिन दिल्ली समेत कुछ शहरों से पहुंचे लोगों ने सरोवर में स्नान किया और सूर्य देव की उपासना कर जीवन सफल होने की कामना की.

WATCH LIVE TV 

इस दौरान वहां मौजूद दिल्ली से आए शिव शंकर शर्मा समेत अन्य श्रद्धालुओं का कहना था कि ब्रह्मा सरोवर में स्नान करने और दान करने से उन्हें काफी संतुष्टि मिली.

ब्रह्मसरोवर के तीर्थ पुरोहित राकेश गोस्वामी का कहना है कि इसी दिन भीष्म पितामह ने अपनी इच्छा से अपने प्राणों का त्याग किया था. मकर सक्रांति का दिन ऐतिहासिक और पौराणिक रूप से काफी सौभाग्य सुख-समृद्धि देने वाला है.

आज के दिन श्रद्धालु तीर्थ सरोवर गया, पुष्कर, हरिद्वार और बनारस में स्नान व पूजा अर्चना करते हैं और भगवन सूर्या की आराधना करते हैं. 

Trending news