चंबा में एक घर बना आग का गोला, जिंदा जल गए तीन बच्चों समेत 4 लोग, हादसा या हत्या?

अग्निकांड में जान गंवाने वाले मोहम्मद रफी की मां का कहना है कि उनके बच्चों को किसी साजिश के तहत मारा गया है. विधानसभा उपाध्यक्ष ने बुजुर्ग महिला को आश्वासन दिया है कि इस घटना की निष्पक्ष से जांच होगी.

चंबा में एक घर बना आग का गोला, जिंदा जल गए तीन बच्चों समेत 4 लोग, हादसा या हत्या?
कभी यूं हुआ करता था ये हंसता खेलता परिवार, आज पसरा मौत का सन्नाटा (फाइल फोटो). घटनास्थल पर मौजूद भीड़.

शिव शर्मा/चंबा : हिमाचल प्रदेश के चंबा जिले में अल सुबह करीब 3 बजे दिल दहलाने वाला हादसा हो गया. आज विधानसभा क्षेत्र चुराह के करातोट गांव में एक मकान में भीषण आग लगने से हंसता खेलता एक परिवार उजड़ गया.

इस दर्दनाक हादसे में एक युवक और उसके तीन बच्चे जिंदा जल गए, जबकि उसकी पत्नी थुना (26) बुरी तरह झुलस गई. उसकी हालत गंभीर बताई गई है. 

जान बचने का मौका नहीं मिला

मरने वालों में रफी मोहम्मद (26), 6 साल का बेटा जैतून, 4 साल का दूसरा बेटा समीर और डेढ़ साल की बेटी जुलेखा शामिल हैं. बताया गया है कि जिस समय लकड़ी के बने घर में आग लगी, उस समय पूरा परिवार गहरी नींद में था. किसी को भागकर जान बचने का मौका भी नहीं मिला.

सूचना मिलते ही तीसा थाना पुलिस और विधानसभा उपाध्यक्ष हंसराज मौके पर पहुंच गए. उन्होंने घटना पर दुख जताते हुए सरकार और जिला प्रशासन की और से पीड़ित परिवार को हरसंभव मदद देने का आश्वासन दिया. 

WATCH LIVE TV

हत्या किए जाने का शक 

अग्निकांड में जान गंवाने वाले मोहम्मद रफी की मां ने घटना को सोची समझी साजिश बताया. उनका कहना है कि उनके बच्चों को किसी साजिश के तहत मारा गया है. बुजुर्ग महिला ने  स्थानीय विधायक और विधानसभा उपाध्यक्ष हंसराज से न्याय दिलाने की गुहार लगाई. 

निष्पक्ष जांच का भरोसा 

विधानसभा उपाध्यक्ष ने बुजुर्ग महिला को आश्वासन दिया है कि इस घटना की निष्पक्ष से जांच होगी और दूध का दूध और पानी का पानी हो जाएगा.

आग कैसे लगी, इसका कारण अब तक पता नहीं चल पाया है. पुलिस प्रशासन इसकी जांच में जुटा हुआ है.