परिवार सहित राष्ट्रपति शिमला पहुंचे, गरिमापूर्ण किया गया स्वागत
X

परिवार सहित राष्ट्रपति शिमला पहुंचे, गरिमापूर्ण किया गया स्वागत

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद चार दिवसीय दौरे पर हिमाचल प्रदेश की राजधानी शिमला पहुंच गए हैं.

परिवार सहित राष्ट्रपति शिमला पहुंचे, गरिमापूर्ण किया गया स्वागत

समीक्षा राणा/शिमलाः राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद चार दिवसीय दौरे पर हिमाचल प्रदेश की राजधानी शिमला पहुंच गए हैं. राष्ट्रपति गुरुवार दोपहर को सेना के विशेष हेलीकॉप्टर से शिमला के अनाडेल मैदान पहुंचे. शिमला पहुंचने पर हिमाचल के राज्यपाल राजेंद्र विश्वनाथ आर्लेकर और मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर ने राष्ट्रपति का स्वागत किया.

राष्ट्रपति की पत्नी और परिवार के अन्य सदस्य भी दौरे के दौरान साथ रहेंगे. राज्यपाल और मुख्यमंत्री के अलावा विधानसभा अध्यक्ष विपिन सिंह परमार, संसदीय कार्य मंत्री और मिनिस्टर इन वेटिंग सुरेश भारद्वाज, नगर निगम शिमला की मेयर सत्या कौंडल, सैन्य कमांडर आरट्रैक लेफ्टिनेंट जनरल राज शुक्ला, मुख्य सचिव राम सुभग सिंह,  पुलिस महानिदेशक संजय कुंडू भी राष्ट्रपति के स्वागत में मौजूद रहे.

ये भी पढ़ेः राष्ट्रपति राम नाथ कोविन्द आज दोपहर 12 बजे पहुंचेग शिमला, जानें क्या है पूरा कार्यक्रम

11 बजे पहुंचेंगे विधानसभा

यहां से राष्ट्रपति कनैडी चौक होते हुए होटल ओबरॉय सेसिल पहुंचे. इसके बाद 17 सितंबर को सुबह 11 बजे से लेकर 12 बजे के बीच राष्ट्रपति विधानसभा के विशेष सत्र को संबोधित करेंगे. पूर्ण राज्यत्व के स्वर्णीम वर्ष को लेकर इस विशेष सत्र का आयोजन किया जा रहा है. राष्ट्रपति 18 सितंबर को भारतीय लेखा परीक्षा अकादमी में प्रशिक्षु अधिकारियों के विदाई समारोह में बतौर मुख्य अतिथि शिरकत करेंगे और 19 सितंबर को वापस दिल्ली लौट जाएंगे.

नहीं रुके राष्ट्रपति भवन   

राष्ट्रपति पहले राष्ट्रपति भवन द रिट्रीट में रुकने वाले थे जो की ऐतिहासिक दृष्टि से काफी महत्वपूर्ण है. "द रिट्रीट" में जहां देवदार के पेड़ों से घिरे रिट्रीट में राष्ट्रपति गर्मियों में अमूमन हर वर्ष यहां प्रवास पर आते हैं. बता दें कि छराबड़ा स्थित राष्ट्रपति निवास (रिट्रीट) में 4 कर्मचारियों के कोरोना संक्रमित होने के चलते राष्ट्रपति के कार्यक्रम में फेरबदल किया गया है.

ये भी पढ़ेः हिमाचल सरकार पूर्ण राज्यत्व दिवसः बिलासपुर को क्या मिला और स्थानीय लोगों को प्रदेश में राज करने वाली सरकारों से क्या उम्मीदें

शिमला छावनी में तब्दील

आपको बता दें कि सुरक्षा को लेकर पुलिस प्रशासन ने पुख्ता इंतजाम किए गए है. सुरक्षा को लेकर जानकारी मिली है कि सेना और पुलिस के करीब 1500 जवानों और करीब 60 पुलिस अधिकारियों पर सुरक्षा समेत अन्य व्यवस्थाओं का जिम्मा रहेगा. राजधानी पूरी तरह से छावनी में तब्दील कर दी गई है.

WATCH LIVE TV

Trending news