शॉर्ट्स पहनने की वजह से नहीं देने दी परीक्षा तो पर्दा...

क्या आपने कभी ऐसा सुना है कि कपड़ों की वजह से किसी स्टूडेंट को परीक्षा देने से मना कर दिया गया हो.

शॉर्ट्स पहनने की वजह से नहीं देने दी परीक्षा तो पर्दा...

असमः क्या आपने कभी ऐसा सुना है कि कपड़ों की वजह से किसी स्टूडेंट को परीक्षा देने से मना कर दिया गया हो. ऐसा ही एक मामला असम से सामने आया है. असम में शॉर्ट् ड्रेस की वजह से एक लड़की को परीक्षा केंद्र में जाने से रोक दिया गया. इसके बाद लड़की ने खुद को पर्दे से ढका और परीक्षा दी.

जानें, क्या है पूरा मामला

यह मामला सोनितपुर जिले के तेजपुर गिरिजानंदा चौधरी इंस्टीट्यूट ऑफ मैनेजमेंट एंड टेक्नोलॉजी का है, जहां पर इस साल की कृषि प्रवेश परीक्षा 15 सितंबर को आयोजित की गई थी. जो असम कृषि विश्वविद्यालय (एएयू) द्वारा आयोजित की गई थी. खबर के मुताबिक 19 जुबली अपनी पिता के साथ परीक्षा देने गई थी. लेकिन, जुबली को परीक्षा में बैठने के लिए मना कर दिया. क्योंकि उसने शॉर्ट् ड्रेस पहना हुआ था. परीक्षा देने के लिए लड़की ने अपने पैरों पर पर्दा लपेटा.

परीक्षा के बाद दिया बयान

जुबली ने बताया कि परीक्षा स्थल में प्रवेश करते ही कोई रोक-टोक नहीं थी. लेकिन, परेशानी तब शुरू हुई जब वह परीक्षा हॉल में प्रवेश करने जा रही थी. अधिकारियों ने मुझे उचित जांच करने के बाद परीक्षा स्थल में प्रवेश करने की अनुमति दी थी, जब मैं परीक्षा हॉल में प्रवेश करने के लिए जा रही थी तो एक पर्यवेक्षक ने मुझे प्रतीक्षा करने के लिए कहा.

जुबली ने आगे बताया कि मुझे रोका गया जबकि अन्य सभी छात्रों को परीक्षा हॉल में प्रवेश करने की अनुमति दी गई थी. मेरे पास एडमिट कार्ड, आधार कार्ड, फोटोकॉपी सहित मेरे सभी दस्तावेज थे. लेकिन उन्होंने मेरे दस्तावेजों की जांच नहीं की और मुझे बताया कि छोटे कपड़े पहनने की अनुमति नहीं है. मैंने पूछा- क्यों? एडमिट कार्ड में इसका जिक्र नहीं है.

जुबली ने बताया कि उन्होंने मुझसे कहा कि आपको पता होना चाहिए, मुझे कैसे पता चलेगा. एडमिट कार्ड में इसका जिक्र नहीं था. एक लड़की शॉर्ट ड्रेस क्यों नहीं पहन सकती. क्या इसका कोई वाजिब कारण है? क्या शॉर्ट ड्रेस पहनना कोई अपराध है? कई लड़कियां छोटे कपड़े पहनती हैं, जब मैंने पर्यवेक्षक से अनुरोध किया कि मेरे पिता आपसे बात करना चाहते हैं, तो उन्होंने मना कर दिया.

जुबली ने आगे बताया कि अंत में उन्होंने मेरे पिता को एक पैंट लाने के लिए कहा. मेरे पिता बाजार गए और जब मेरे पिता पैंट नहीं ला सके तो उस दौरान दो लड़कियां एक पर्दा लेकर आईं और मुझसे पर्दा लपेटने को कहा. यह मेरे जीवन का सबसे अपमानजनक अनुभव था.

WATCH LIVE TV