इन शर्तों के साथ नैनीताल हाई कोर्ट ने चारधाम यात्रा से हटाई रोक
X

इन शर्तों के साथ नैनीताल हाई कोर्ट ने चारधाम यात्रा से हटाई रोक

कोरोना वायरस की वजह से पिछले ढाई महीनों के बाद चार धाम यात्रा पर लगी रोक को हटा दिया गया है. 

इन शर्तों के साथ नैनीताल हाई कोर्ट ने चारधाम यात्रा से हटाई रोक

नैनीतालः कोरोना वायरस की वजह से पिछले ढाई महीनों के बाद चार धाम यात्रा पर लगी रोक को हटा दिया गया है. 28 जून को हाई कोर्ट ने कोरोना वायरस के चलते उत्तराखंड की इस महत्वपूर्ण तीर्थ यात्रा पर रोक लगाई थी. इस रोक को हटाने के लिए राज्य सरकार लगातार कोशिश कर रही थी और राज्य में इसको लेकर सियासत भी गरमाने लगी थी.

बीते दिनों सरकार सुप्रीम कोर्ट से याचिका वापस लेने के बाद उत्तराखंड हाई कोर्ट में इस मामले को लेकर सुनवाई हो सकी और आज गुरुवार को हाई कोर्ट ने यात्रा के लिए बंद रास्तों को फिर से खोल दिया.

इन शर्तों के साथ खोले रास्ते

खबरों की मानें तो हाई कोर्ट के आदेश के बाद बद्रीनाथ धाम में 1200 यात्रियों, केदारनाथ में 800, गंगोत्री में 600 और यमुनोत्री धाम में कुल 400 यात्रियों के लिए इजाजत दी गई है. इसी के साथ हाई कोर्ट ने प्रत्येक धाम में आने से पहले अपने साथ कोरोना नेगेटिव रिपोर्ट और वैक्सीन की दोनों डोज का सर्टिफिकेट भी अनिवार्य किया है.

ये भी पढ़ेः Vishwakarma Puja: इस दिन मनाई जाएगी विश्वकर्मा जयंती, जानें पूजा विधि और शुभ मुहूर्त

हाईकोर्ट ने चमोली, रुद्रप्रयाग और उत्तरकाशी जिलों में जरूरत के मुताबिक पुलिस फोर्स लगाने को कहा है. साथ ही निर्देश दिए हैं कि भक्त किसी भी कुंड में स्नान नहीं कर पाएं. चारधाम यात्रा शुरू होने से पहले 10 सितंबर को सरकार ने हाई कोर्ट से मामले की जल्द सुनवाई किए जाने के लिए आवेदन दिया थास जिस पर कोर्ट ने 16 सितंबर का दिन मुकर्रर किया था.

सरकार पहुंची सुप्रीम कोर्ट

बताते चले कि जून के आखिरी महीने में हाई कोर्ट ने सरकार के निर्णय पर रोक लगाते हुए चारधाम यात्रा पर रोक लगा दी थी. तो उत्तराखंड सरकार ने सुप्रीम कोर्ट का दरवाजा खटखटाया था. कोई नतीजा नहीं निकला. लेकिन, अब अब एक बार फिर से हालात सुधरते हुए दिखाई दे रहे हैं. इसलिए यात्रा को फिर से मंजूरी दे दी गई है. हाई कोर्ट ने कहा कि जब तक याचिका सुप्रीम कोर्ट में पेंडिंग है. वह इस मामले में दखल नहीं देगा. इस पर पिछले दिनों प्रदेश सरकार ने सुप्रीम कोर्ट से एसएलपी वापस ले ली थी.

WATCH LIVE TV

Trending news