भारतीय सेना ने पाकिस्तान को दिया अमन का संदेश, पढ़ें पूरी खबर

 इस काम को अंजाम दिया भारतीय सेना के विंग चिनार कोर्प्स ने। 

भारतीय सेना ने पाकिस्तान को दिया अमन का संदेश, पढ़ें पूरी खबर
भारतीय सेना ने पाकिस्तान को दिया अमन का संदेश, पढ़ें पूरी खबर

मनोज श्रीवास्तव/नई दिल्ली: भारतीय सेनाअपने साहस शौर्य के लिये दुनिया भर में जानी जाती है। सेवा परमो धर्म के आदर्श वाक्य पर चलने वाली भारतीय सेना मानवीय मूल्यों की रक्षा करना भी बखूबी जानती है। भारतीय सेना एक विशेष कमान है चिनार कोर्प्स। जिसने एक बार फिर मानवता और अमन का संदेश दिया है।
जम्मू-कश्मीर में भारतीय सेना ने सरहद पर मारे गये एक पाकिस्तानी मेजर को 48 साल बाद भी सम्मान देकर अमन और दोस्ती का संदेश दिया है। इस काम को अंजाम दिया भारतीय सेना के विंग चिनार कोर्प्स ने। 

चिनार कोर्प्स ने LOC पर मारे गये पाकिस्तानी सैनिक मेजर मोहम्मद शबीर ख़ान की कब्र का मरम्मत कराया। चिनार कोर्प्स ने पाकिस्तान को बताया कि दुनिया में शहीद हुआ कोई भी फौजी सम्मान का हकदार होता है। श्रीनगर की चिनार कोर्प्स ने पाकिस्तानी मेजर की कब्र की तस्वीर को अपने ट्विटर हैंडल पर शेयर किया। जिसमें लिखा  सितार-ए-जुर्रत मेजर मोहम्मद शबीर ख़ान की याद में, जिनका इंतकाल 5 मई 1972 में सीज फायर उल्लंघन के दौरान की गई जवाबी कार्रवाई में हुआ''।

ऐसा नहीं है कि चिनार कोर्प्स ने पहली बार मानवीय मूल्यों की रक्षा की है। इससे पहले जनवरी में चिनार कोर्प्स ने बर्फ में फंसी गर्भवति महिला शमीमा को चार घंटे पैदल चलकर अस्पताल पहुंचाया था। जिससे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भी काफी प्रभावित हुए थे। 72वें सेना दिवस के मौके पर पीएम मोदी ने अदम्य सेवा भाव के लिये चिनार कोर्प्स को बदाई दी थी। भारतीय सेना अपने शौर्य और वीरता के साथ साथ अनुशासन और सामाजिक सरोकार के लिये भी जानी जाती है। देश को अपने सैनिकों पर नाज़ है।

Watch Live TV-