हरियाणा के युवाओं के लिए बड़ी खुश खबरी, अब प्राइवेट सेक्टर की नौकरियों में मिलेगा 75 प्रतिशत आरक्षण

 हरियाणा में निजी क्षेत्र में नौकरियों के लिए सरकार ने बड़ा फैसला लिया है। हरियाणा के डिप्टी सीएम दुष्यंत चौटाला ने इस बारे में जानकारी देते हुए बताया है कि राज्यपाल सत्यदेव नारायण आर्या ने मंगलवार को 75 प्रतिशत रोजगार बिल को मंजूरी दे दी है।

हरियाणा के युवाओं के लिए बड़ी खुश खबरी, अब प्राइवेट सेक्टर की नौकरियों में मिलेगा 75 प्रतिशत आरक्षण
प्रदेश के युवाओं को निजी नौकरियों में 75 प्रतिशत आरक्षण का अधिकार मिलेगा

विनोद लांबा/चंडीगढ़ :: राज्यपाल से रोजगार बिल को मंजूरी के बाद अब प्रदेश के युवाओं को निजी नौकरियों में 75 प्रतिशत आरक्षण का अधिकार मिलेगा। दुष्यंत चौटाला ने इस बारे में बताया है कि हर कंपनी, सोसाइटी, ट्रस्ट में हरियाणा के युवाओं को 75 फीसदी का आरक्षण मिलेगा।

 ऐसे लागू होगा निजी सेक्टर में आरक्षण
आरक्षण राज्य में चल रही उन कंपनियों, सोसायटी, ट्रस्ट, फर्म पर लागू होगा जिनमें 10 से ज्यादा कर्मचारी हैं
हरियाणा के डोमिसाइल धारक लोगों को इसका फायदा मिलेगा
सभी कंपनियों को बताना होगा कि उनके यहां 50 हजार तक की तनख्वाह वाले कितने पद हैं
कंपनियों को ये भी बताना होगा हरियाणा से कितने लोग काम कर रहे हैं
डाटा अपलोड करने तक कंपनियां नए लोगों को नौकरी पर नहीं रख सकती
कंपनी मालिक चाहे तो एक जिले से 10 प्रतिशत से ज्यादा कर्मचारी रखने पर रोक लगा सकते हैं
किसी पद के लिए स्किल्ड कर्मचारी न मिलने पर आरक्षण कानून में छूट दी जा सकती है
इस बारे में निर्णय जिला उपायुक्त या उससे उच्च स्तर के अधिकारी लेंगे
हर कंपनी को हर तीन महीने में इस कानून को लागू करने की स्टेटस रिपोर्ट सरकार को देनी होगी
एसडीएम या इससे उच्च स्तर के अधिकारी कानून लागू किए जाने की जांच के लिए डाटा ले सकेंगे
 अधिकारी कंपनी परिसर में भी जा सकेंगे
कानून का पालन न करने वाली कंपनियों पर बिल के प्रावधानों के तहत कार्रवाई होगी
निजी सेक्टर में पहले से कार्यरत कर्मचारियों की नौकरी नहीं जाएगी
ये कानून अगले 10 साल तक लागू रहेगा

WATCH LIVE TV