अब किसान आंदोलन को लेकर घिरे DGP मनोज यादव,Vij ने Cm मनोहर लाल को लिखी चिट्ठी,क्या बोले जानिये?

 हरियाणा में डीजीपी पद पर तैनात मनोज यादव को केंद्र सरकार ने काडर बेस्ड एक साल का एक्सटेंशन दे दिया है

अब किसान आंदोलन को लेकर घिरे DGP मनोज यादव,Vij ने Cm मनोहर लाल को लिखी चिट्ठी,क्या बोले जानिये?
हरियाणा में डीजीपी पद पर तैनात मनोज यादव को केंद्र सरकार ने काडर बेस्ड एक साल का एक्सटेंशन दे दिया है

विनोद लांबा/चंडीगढ़ : हरियाणा में DGP बनाम गृहमंत्री का एपिसोड खत्म होने का नाम ही नहीं ले रहा है। डीजीपी को केंद्र सरकार से एक साल का एक्सटेंशन मिलने के बाद भी अनिल विज शांत नहीं बैठ। प्रदेश के मुख्यमंत्री के फैसले के खिलाफ डीजीपी को पद से हटाये जाने की मांग करते हुए अनिल विज ने अब सीएम मनोहर लाल को ही चिठ्ठी लिखी है।

'डीजीपी के कंट्रोल में नहीं अधिकारी'

तमाम कोशिशों के बाद भी जब आईपीएस मनोज यादव को डीजीपी पद से नहीं हटाया गया, तो खुद गृह मंत्री अनिल विज ने सीएम मनोहर लाल को एक चिट्ठी लिखकर उन्हे पद से हटाए जाने की मांग कर डाली। इससे पहले उन्होंने मुख्य सचिव को पत्र लिखकर सात नामों का एक पैनल भेजने को कहा था। एक्सटेंशन पर चल रहे आईपीएस मनोज यादव को डीजीपी पद से हटाये जाने की मांग करने के साथ ही उन्होंने कई गंभीर आरोप भी लगाये। सीएम को लिखे पत्र में उन्होंने कहा कि मनोज यादव इस पद के लिए अयोग्य हैं, प्रदेश की कानून व्यवस्था को लेकर सवाल उठाते हुए उन्होंने लिखा कि पुलिस अधिकारी मनोज यादव के कंट्रोल में नहीं है। और तो और मनोज यादव का डीजीपी रहना प्रदेश के हित में नहीं है।

'डीजीपी के चलते किसान आंदोलन में हुआ मिस-मैनेजमेंट'

पंजाब से दिल्ली के लिए चले किसान पहले हरियाणा में दाखिल हुए, तीन महीने से भी ज्यादा वक्त से जारी किसान आंदोलन को लेकर गृह मंत्री अनिल विज ने कहा कि आंदोलन में मिस-मैनेजमैंट देखने को मिला है। अब तक सीएम के फैसले के खिलाफ दिख रहे अनिल विज ने अब सीधा सीएम को चिट्ठी लिख दी है। चिट्ठी में लिखा है कि नये नामों का पैनल भेजा जा रहा है, इसलिये मनोज यादव को हटाकर नये डीजीपी की नियुक्ति की जाए।

सीएम मनोहर लाल ने डीजीपी के एक्सटेंशन पर क्या कहा था

हरियाणा में डीजीपी पद पर तैनात मनोज यादव को केंद्र सरकार ने काडर बेस्ड एक साल का एक्सटेंशन दे दिया है। इसका मतलब कि आईपीएस मनोज यादव अब एक साल तक हरियाणा डीजीपी रह सकते हैं। आपको बता दें कि मनोज यादव को आईबी में एडिशनल डायरेक्टर के तौर पर एक्सटेंशन दिया गया है। गृह मंत्री अनिल विज ने इस नये आदेश के बाद कोई प्रतिक्रिया नहीं दी है, लेकिन सवाल है कि अब वह क्या करेंगे।