राज्यपाल को घेरकर उनके साथ किया ऐसा सलूक, स्पीकर ने 5 विधायकों को पूरे बजट सत्र के लिए किया निलंबित

 नेता प्रतिपक्ष मुकेश अग्निहोत्री ने महंगाई का सवाल उठाया और कहा कि अभिभाषण झूठ का पुलिंदा है।

राज्यपाल को घेरकर उनके साथ किया ऐसा सलूक, स्पीकर ने 5 विधायकों को पूरे बजट सत्र के लिए किया निलंबित
नेता प्रतिपक्ष मुकेश अग्निहोत्री ने महंगाई का सवाल उठाया और कहा कि अभिभाषण झूठ का पुलिंदा है।

शिमला : हिमाचल प्रदेश के बजट सत्र में हंगामा होने की आशंका तो पहले से ही जताई जा रही थी। राज्यपाल बंडारू दत्तात्रेय के अभिभाषण के दौरान ही विपक्ष ने हंगामा करना शुरू कर दिया। नरेबाज़ी और शोर-ओ-गुल इतना था कि राज्यपाल ने अपने भाषण की आखरी पंक्ति पढ़ी और निकल गये। नेता प्रतिपक्ष मुकेश अग्निहोत्री ने महंगाई का सवाल उठाया और कहा कि अभिभाषण झूठ का पुलिंदा है। इस दौरान कांग्रेस ने राज्यपाल की गाड़ी रोक दी और कहा कि राज्यपाल पूरा भाषण पढ़ कर जाएं और वह मौके से भाग गए हैं। इस दौरान सीएम जयराम ठाकुर भी कांग्रेस विधायकों पर भड़कते नजर आए। इतने पर भी कांग्रेस विधायक नहीं माने। बाहर निकलकर अपनी गाड़ी की तरफ बढ़े राज्यपाल के पीछ-पीछे सभी कांग्रेसी विधायक चल दिये। जब गाड़ी में बैठकर राज्यपाल जाने के लिए निकले तो उनकी गाड़ी को घेर लिया।

अभद्रता पर लिया संज्ञान 5 विधायक निलंबित

विधानसभा में हंगामा करने के मामले पर नेता प्रतिपक्ष मुकेश अग्निहोत्री समेंत पांच कांग्रेसी विधायकों को निलंबित कर दिया गया। जबकि अपनी सफाई में मुकेश अग्निहोत्री ने कहा की राज्यपाल के साथ कोई बदसलूकी नहीं की गई। उन्होंने जयराम सरकार पर सवाल उठाए और कहा की राज्य सरकार तानाशाही रवैया अपना रही है । उन्होंने कहा की पिक और चूज करके 5 विधायकों को निलंबित किया गया है

हिमाचल बीजेपी ने बताया दुर्भाग्यपूर्ण

हिमाचल प्रदेश बीजेपी के अध्यक्ष सुरेश कश्यप ने कहा है कि हिमाचल प्रदेश विधानसभा में कांग्रेस नेताओं द्वारा जो रवैया अपनाया गया, वो बेहद निंदनीय और दुर्भाग्यपूर्ण है।