इन जड़ी बूटियों को खाने के जबर्दस्त फायदे, बस दिन में इस वक्त कर लें सेवन

सेक्स को लेकर अभी भी हमारे समाज में तरह तरह की भ्रांतियां है, लोग इससे जुड़ी किसी भी तरह की समस्या को बताने में शर्माते हैं। 

इन जड़ी बूटियों को खाने के जबर्दस्त फायदे, बस दिन में इस वक्त कर लें सेवन

नई दिल्ली: सेक्स को लेकर अभी भी हमारे समाज में तरह तरह की भ्रांतियां है, लोग इससे जुड़ी किसी भी तरह की समस्या को बताने में शर्माते हैं। यही कारण है कि अपने देश में यौन रोगों से पीड़ित मरीजों की संख्या बहुत ज्यादा है क्योंकि अधिकांश लोग इसका इलाज ही नहीं करवाते। सेक्स पावर में कमी भी ऐसी ही एक समस्या है जिसके बारे में लोगों को पूरी जानकारी नहीं है और वो गलत नीम-हकीमों या बाबाओं के चक्कर में पड़कर अपनी मुश्किलें और बढ़ा लेते हैं।

सेक्स पावर क्या है? :
सेक्स करने के लिए बहुत अधिक उर्जा की आवश्यकता पड़ती है और इसी उर्जा को  सेक्स पावर कहा जाता है। एक शोध के अनुसार डेढ़ किलोमीटर दौड़ लगाने में जितनी उर्जा खर्च होती है उतनी उर्जा आप एक बार सेक्स करने में खर्च कर देते हैं। वास्तव में सेक्स पॉवर में कमी से मतलब यह है कि सेक्स के दौरान आप अपनी क्षमता के अनुसार सेक्स नहीं कर पा रहे हैं या कुछ ही मिनटों में बुरी तरह थक जा रहे हैं।

सेक्स क्षमता में कमजोरी के कारण :
वास्तव में सेक्स के समय कमजोरी महसूस करना शारीरिक से ज्यादा एक मानसिक समस्या है। लोगों में सेक्स से जुड़ी इतनी अधिक ग़लतफ़हमी है कि वे सेक्स के दौरान अपने लिंग के साइज़, सेक्स की अवधि आदि चीजों के बारे में ज्यादा सोचने लगते हैं और इस वजह से वे ठीक ढंग से सेक्स नहीं कर पाते हैं। ऐसा भी नहीं है कि यह पूरी तरह एक मानसिक समस्या है, कई ऐसी बीमारियां भी है जिनके होने से आपकी सेक्स क्षमता कमजोर पड़ सकती है।  

सेक्स पावर कैसे बढ़ाएं? :
अगर आप भी दिन भर इंटरनेट पर सेक्स पावर बढ़ाने के घरेलू उपचार या मर्दाना ताकत बढ़ाने वाली दवाएं खोजते रहते हैं तो इस बात का ध्यान रखें कि कभी भी आंख मूंदकर इन पर भरोसा ना करें. आज कल बाज़ार में सेक्स पॉवर बढ़ाने के लिए तमाम तरह की टैबलेट मौजूद हैं लेकिन आपको यह पता होना चाहिए कि इन दवाइयों के साइड इफ़ेक्ट के कारण कई समस्याएं भी हो सकती हैं। इन दवाइयों की बजाय यौन शक्ति बढ़ाने के आयुर्वेदिक उपचार अपनाएं। आयुर्वेद के अनुसार सेक्स क्षमता बढ़ाने के लिए शरीर में उर्चा का संचय होना बहुत ज़रुरी है। शरीर जितना उर्जावान रहेगा आप उतने ही बेहतर क्षमता के साथ सेक्स कर पायेंगें। इसलिए ऐसी जड़ी बूटियों का सेवन करें जो यौनशक्ति वर्धक हों और शारीरिक क्षमता बढ़ाती हों। इन औषधियों का सेवन सीमित मात्रा में करने से कोई दुष्प्रभाव भी नहीं होता है।

सेक्स क्षमता बढ़ाने के लिए कुछ प्रमुख आयुर्वेदिक औषधियां :
1- अश्वगंधा
: आयुर्वेद के अनुसार अश्वगंधा एक रसायन औषधि है और यह पुरुषों के शरीर में सभी धातुओं की मात्रा बढ़ा देती है। इसके सेवन से खासतौर पर शुक्र धातु की मात्रा काफी बढ़ जाती है। इसके नियमित सेवन से शरीर की उर्जा बढ़ती है, वीर्य बढ़ता है और सेक्स के दौरान आप जल्दी थकते नहीं हैं।
खुराक :  रोजाना एक चम्मच अश्वगंधा चूर्ण
सेवन का तरीका : आधा चम्मच अश्वगंधा चूर्ण लें और उसे शहद या दूध के साथ मिलाकर दिन में दो बार  खाने के बाद इसका सेवन करें.

2- शिलाजीत: आयुर्वेद में शिलाजीत को शक्तिवर्धक और वीर्यवर्धक औषधि माना गया है। यह शरीर की यौनशक्ति बढ़ाने में बहुत उपयोगी है। इसकी तासीर गर्म होती है इसलिए इसके सेवन के दौरान ज्यादा तली भुनी चीजें,खटाई और अधिक नमक वाली चीजों से परहेज करना चाहिए। सेक्स के दौरान अगर आपको ज्यादा कमजोरी महसूस हो रही है तो आयुर्वेदिक विशेषज्ञ की सलाह के अनुसार शिलाजीत का सेवन तुरंत शुरु कर दें।
खुराक : रोजाना दो शिलाजीत कैप्सूल
सेवन का तरीका : सेक्स पॉवर बढ़ाने के लिए दिन में दो बार खाना खाने के बाद एक-एक शिलाजीत कैप्सूल को गाय के दूध के साथ लें।  

3- सफेद मूसली : सफेद मूसली एक ऐसी जड़ी बूटी है जो सेक्स पावर बढ़ाने के लिए बहुत प्रचलित है, इसे हर्बल वियाग्रा के नाम से भी जाना जाता है। सफेद मूसली का इस्तेमाल यूनानी, होम्योपैथी और आयुर्वेद चिकित्सा पद्धति में काफी पहले से होता रहा है। यह एक प्रकार की जड़ें होती हैं। इसे यौन दुर्बलता, नपुंसकता और शीघ्रपतन जैसी बीमारियों के इलाज में प्रमुखता से इस्तेमाल किया जाता है। आयुर्वेद के अनुसार सफेद मूसली मुख्य रुप से वात और पित्त दोष पर काम करती है और कफ दोष को बढ़ाती है।
खुराक : रोजाना एक चम्मच सफेद मूसली चूर्ण  
सेवन का तरीका : दिन में दो बार खाना खाने के बाद आधा चम्मच मूसली चूर्ण को गुनगुने दूध में मिलाकर सेवन करें।

4- त्रिफला : आमला, बहेड़ा और हरड इन तीन तरह के औषधियों के मिश्रण को त्रिफला कहा जाता है। यह वजन कम करने, कब्ज़ दूर करने के अलावा सेक्स पावर बढ़ाने में बहुत असरकारक औषधि मानी जाती है। इसे चूर्ण के रुप में इस्तेमाल किया जाता है। जो लोग सेक्स करते समय बहुत जल्दी थक जाते हैं उन्हें इस जड़ी बूटी का सेवन नियमित रुप से करना चाहिए। प्रायः ऐसा देखा गया है कि सेक्स से जुड़ी कई समस्याएं पाचन तंत्र में खराबी की वजह से होती हैं. ऐसे में आप त्रिफला का इस्तेमाल पाचन तंत्र को दुरुस्त रखने के लिए भी कर सकते हैं.
खुराक : रोजाना एक चम्मच त्रिफला चूर्ण  
सेवन का तरीका : सेक्स पावर बढ़ाने के लिए आधा चम्मच त्रिफला चूर्ण में थोड़ा शहद मिलाकर सुबह नाश्ते के बाद और शाम को इसका सेवन करें. अगर आप त्रिफला चूर्ण का इस्तेमाल पाचन को ठीक करने के लिए कर रहे हैं तो एक से दो चम्मच त्रिफला चूर्ण को गर्म पानी के साथ मिलाकर सेवन करें.  

5- कौंच बीज चूर्ण  : यह झाड़ियों में पाए जाने वाला एक औषधीय पौधा है। इस पौधे के बीजों का इस्तेमाल सेक्स पॉवर बढ़ाने और नपुंसकता के इलाज में किया जाता है। जो लोग सेक्स करते समय बहुत ज्यादा कमजोरी महसूस कर रहे हैं उनके लिए यह औषधि एक वरदान की तरह है। आयुर्वेद के अनुसार कौंच के बीजों का स्वभाव गुरु और स्निग्ध होता है और इसे वातनाशक और कफपित्तवर्धक माना जाता है।
खुराक : रोजाना एक चम्मच कौंच बीज चूर्ण
सेवन का तरीका :  दिन में दो बार आधा चम्मच कौंच बीज चूर्ण को खाने के दो घंटे बाद गुनगुने दूध के साथ लें.

किसी भी औषधि का सेवन करने से पहले डॉक्टर की सलाह ज़रूर लें। दवाओं के सेवन के दौरान अगर आपको किसी तरह की समस्या होती है तो तुरंत डॉक्टर से मिलें। इसके अलावा आप सेक्स पावर बढ़ाने वाले आहार का अधिक से अधिक सेवन करें।