मनु भाकर का दिल्ली एयरपोर्ट पर अपमान, फ्लाइट में चढ़ने से रोकने पर किए कई ट्वीट

मनु भाकर दिल्ली से भोपाल ट्रेनिंग के लिए जा रही थीं लेकिन एयर इंडिया के अधिकारियों ने उन्हें फ्लाइट में बैठने से रोक दिया।

मनु भाकर का दिल्ली एयरपोर्ट पर अपमान, फ्लाइट में चढ़ने से रोकने पर किए कई ट्वीट
मनु भाकर दिल्ली से भोपाल ट्रेनिंग के लिए जा रही थीं लेकिन एयर इंडिया के अधिकारियों ने उन्हें फ्लाइट में बैठने से रोक दिया।

दिल्ली : भारत की स्टार महिला निशानेबाज मनु भाकर को दिल्ली एयरपोर्ट पर अपमान का सामना करना पड़ा। मनु ने दिल्ली एयरपोर्ट पर एयर इंडिया एयरलाइंस के स्टाफ पर बदसलूकी और रिश्वत मांगने का आरोप लगाया है। दरअसल, एयर इंडिया ने उन्हें फ्लाइट में चढ़ने से रोक दिया। शूटर मनु भाकर के मुताबिक उनसे पैसों की मांग की गई। 

 

मनु भाकर दिल्ली से भोपाल ट्रेनिंग के लिए जा रही थीं लेकिन एयर इंडिया के अधिकारियों ने उन्हें फ्लाइट में बैठने से रोक दिया। उनके पास दो पिस्टल और गोलियां थीं। आरोप है कि निशानेबाजी बंदूक से जुड़े कागजात होने के बावजूद एयर इंडिया के अधिकारियों ने उनके साथ बदसलूकी की। इसके बाद ओलंपिक कोटा विजेता पिस्टल शूटर मनु भाकर ने खेल मंत्री किरेन रिजिजू को ट्वीट किया। किरेन रिजिजू के दखल के बाद मनु भाकर को फ्लाइट में बोर्ड करने दिया गया। वहीं मनु भाकर के ट्वीट पर एयर इंडिया की सफाई सामने आई है। उनका कहना है कि केवल बोर्ड पर अपने हथियार की ढुलाई के लिए नियमानुसार वैध दस्तावेज मांगे थे।

मनु भाकर ने कई ट्वीट्स कर आरोप लगाया कि उनके पास डीजीसीए संबंधी सभी वैध कागजात थे लेकिन बावजूद इसके उन्हें बोर्ड नहीं करने दिया गया। भाकर ने एयर इंडिया के अधिकारी मनोज गुप्ता और अन्य स्टाफ पर अपमान करने का आरोप लगाया। उन्होंने ट्विटर पर पीएम मोदी, अमित शाह, हरदीप सिंह पुरी और वसुंधरा राजे को टैग करते हुए लिखा कि मुझसे 10,200 रुपये रिश्वत के तौर पर मांगे जा रहे हैं। क्या मुझे रिश्वत देनी चाहिए? मेरे पास दो बंदूक और गोलियां हैं। मैं एयरपोर्ट पर इंतजार कर रही हूं। जिसके बाद खेल मंत्री किरेन रिजिजू ने इसमें दखल दिया और उन्हें फ्लाइट में चढ़ने दिया गया। मनु ने ट्वीट कर खेल मंत्री का शुक्रिया अदा किया, जिसके जवाब में रिजिजू ने लिखा की मनु भाकर आप भारत की शान हैं।