नगालैंड में सुरक्षाबलों की फायरिंग में 13 नागरिकों की मौत, इस एक गलती के बाद हिंसक झड़प में एक जवान भी शहीद
X

नगालैंड में सुरक्षाबलों की फायरिंग में 13 नागरिकों की मौत, इस एक गलती के बाद हिंसक झड़प में एक जवान भी शहीद

इस घटना के बाद इलाके में हिंसा फैल गई. गुस्साए लोगों ने सुरक्षा बलों की गाड़ियों को आग के हवाले कर दिया. राज्य सरकार इसकी उच्चस्तरीय SIT जांच कराएगी. केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह (Amit Shah) ने ट्वीट कर घटना पर दुख जताया. 

 

नगालैंड में सुरक्षाबलों की फायरिंग में 13 नागरिकों की मौत, इस एक गलती के बाद हिंसक झड़प में एक जवान भी शहीद

नई दिल्ली : नगालैंड (Nagaland) में आज सुबह म्यांमार बॉर्डर (Myanmar Border) के पास सुरक्षा बलों ने एक पिकअप वाहन से जा रहे ग्रामीणों पर गोलियां बरसा दीं. इसमें 13 ग्रामीण मारे गए. इस घटना के बाद इलाके में हिंसा फैल गई. गुस्साए लोगों ने सुरक्षा बलों की गाड़ियों को आग के हवाले कर दिया. भीड़ को नियंत्रित करने में सेना के जवानों को काफी मशक्कत करनी पड़ी. एक हिंसक झड़प (Violent Clash) में सेना का एक जवान भी शहीद हो गया. 

सीएम ने की शांति की अपील 

यह घटना मोन जिले के ओटिंग गांव (Oting Villege) के पास हुई. नगालैंड के मुख्यमंत्री (Nagaland CM) नेफियू रियो ने ओटिंग में नागरिकों की हत्या को निंदनीय बताया. उन्होंने कहा कि सभी को न्याय मिलेगा. उन्होंने लोगों से शांति बनाए रखने की अपील की.

 

घटना की SIT जांच

केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह (Amit Shah) ने ट्वीट किया, 'नगालैंड के ओटिंग में हुई दुर्भाग्यपूर्ण घटना से दुखी हूं. मैं उन लोगों के परिवारों के प्रति अपनी गहरी संवेदना जाहिर करता हूं जिन्होंने अपनी जान गंवाई. राज्य सरकार इसकी उच्चस्तरीय SIT जांच कराएगी, ताकि पीड़ित परिवारों को न्याय मिल सके. इधर सेना ने कोर्ट ऑफ इंक्वारी की बात कही है.

 

WATCH LIVE TV 

 गाड़ी के रंग से हुई गलतफहमी 

दरअसल सुरक्षा बलों को उग्रवादी संगठन NSCN से जुड़े लोगों के मूवमेंट की एक गुप्त सूचना मिली. इसके बाद सुरक्षबल के जवान तिरु-ओटिंग रोड (Tiru-Oting Road) पर तैनात हो गए.

पुलिस सूत्रों के मुताबिक सुरक्षा बलों को मिले इनपुट में जिस रंग की गाड़ी के बारे में बताया गया था, लगभग उसी रंग की गाड़ी जब वह से गुजरी.

जवानों ने गाड़ी को रोकने का इशारा किया, लेकिन चालक ने इसे अनदेखा करते हुए वाहन नहीं रोका. इसके बाद सिक्योरिटी फोर्सेज ने फायरिंग शुरू कर दी. बताया जा रहा है कि इस घटना में मारे गए लोग मजदूर थे, जो काम के बाद एक पिकअप में सवार होकर  घर जा रहे थे.

Trending news