पाकिस्तान पर अब बरसा ये 'कहर', अकेले PoK में ही 74 लोगों की मौत

पाकिस्तान (Pakistan) में ज्यादा ठंडी (Cold) की वजह से मरने वालों की तादाद बढ़कर लगभग 100 हो चुकी है. इंतेज़ामिया ने यह जानकारी दी. डॉन न्यूज के मुताबिक, सबसे ज्यादा नुकसान पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर (PoK) में हुआ जहां 74 लोगों की मौत हो गई और 56 दीगर लोग ज़ख्मी हो गए. इस दौरान 88 घर पूरी तरह तबाह हो गए.

पाकिस्तान पर अब बरसा ये 'कहर', अकेले PoK में ही 74 लोगों की मौत
मुजफ्फराबाद शदीद बर्फबारी और एवलांच से बचे लोगों का इलाज अस्पतालों में चल रहा है (फोटो साभार - रॉयटर्स)

इस्लामाबाद: पाकिस्तान (Pakistan) में ज्यादा ठंडी (Cold) की वजह से मरने वालों की तादाद बढ़कर लगभग 100 हो चुकी है. इंतेज़ामिया ने यह जानकारी दी. डॉन न्यूज के मुताबिक, सबसे ज्यादा नुकसान पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर (PoK) में हुआ जहां 74 लोगों की मौत हो गई और 56 दीगर लोग ज़ख्मी हो गए. इस दौरान 88 घर पूरी तरह तबाह हो गए.

वज़ीरे आज़म इमरान खान (Imran Khan) ने बुध के रोज़ मुजफ्फराबाद (Muzaffarabad) का दौरा किया था, जहां उन्होंने पीओके के चीफ सेक्रेटरी से इलाके में भारी बर्फबारी (snowfall), बर्फानी तोदे खिसकने , जमीन खिसकने और बारिश से मुतअल्लिक दीगर वारदातों में हुए नुकसान के साथ-साथ किये जा रहे राहती कामों की जानकारी ली.

पीओके इंतज़ामिया ने कहा है कि शदीद बर्फबारी की वजह से नीलम वैली में कुछ इलाकों तक अभी भी पहुंचा नहीं जा सका है, इसलिए महलूकीन की तादाद बढ़ सकती है. वहीं महकमा मौसमयात के अफसरों ने जुमा से फिर बर्फबारी होने का पेशेनगोयी की है.

गुज़िश्ता कुछ दिनों में पीओके के अलावा बलूचिस्तान (20) , सियालकोट और पंजाब के कुछ दीगर जिलों में कम से कम सात लोगों की मौत हो चुकी है. गिलगिट-बाल्टिस्तान में दो और लोगों की मौत हो गई.बारिश और दीगर वारदातों की वजह खैबर पख्तूनख्वा, पीओके और बलूचिस्तान में अहम सड़कें और कौमी शाहराहें बंद हैं.