अखिलेश यादव की अपील- रात 9 बजे 9 मिनट के लिए बत्ती बुझाएं, कांग्रेस का भी मिला साथ

अखिलेश यादव ने अपनी ट्वीट में एक शायरी भी लिखी है- "मुट्ठियां जब बंध जाती हैं नौजवानों की, नींद उड़ जाती है 'जुल्मी हुक्मरानों' की".

अखिलेश यादव की अपील- रात 9 बजे 9 मिनट के लिए बत्ती बुझाएं, कांग्रेस का भी मिला साथ
फाइल फोटो

लखनऊ: मुल्कभर में ओपोज़ीशन पार्टियां नौजवानों की बेरोजगारी का मुद्दा बनाने में जुटी हुई हैं. हर पार्टी बेरोजगारी के मुद्दे को अलग अलग तरीके से उठाने में लगी हुई है. बिहार में RJD ने बेरोजगारी को मुद्दा बनाया है और 9 सितंबर को रात 9 बजे 9 मिनट के लिए घर की बत्तियां बंद कर दिया, मोमबत्तियां और लालटेन जलाने की अपील की है. 

इसी सिम्त में अब उत्तर प्रदेश में भी समाजवादी पार्टी के सद्र अखिलेश यादव ने भी आज बेरोजगारी का मुद्दा उठाया है. अखिलेश यादव ने ट्वीट कर कहा है कि, 'आइए नौजवानों व उनके परिवार की बेरोज़गारी-बेकारी के इस अंधेरे में हम आज रात 9 बजे, 9 मिनट के लिए बत्तियां बुझाकर क्रांति की मशाल जलाएं, उनकी आवाज़ में आवाज़ मिलाएं!'

अखिलेश यादव ने अपनी ट्वीट में एक शायरी भी लिखी है- "मुट्ठियां जब बंध जाती हैं नौजवानों की, नींद उड़ जाती है 'जुल्मी हुक्मरानों' की".

अखिलेश यादव के इस ऐलान के बाद कांग्रेस लीडर प्रियंका गांधी ने इसकी हिमायत की है. उन्होंने ट्वीट कर लिखा है, "इस मुल्क का नौजवान अपनी आवाज़ सुनाना चाहता है. अपनी रुकी हुई भर्तियों, इम्तिहानों की तारीखों, अपॉइंटमेंट और नई नौकरियों को लेकर नौजवान अपनी आवाज़ उठा रहा है. आज हम सबको नौजवानों की रोजगार की लड़ाई में उनका साथ देने की ज़रूरत है."

Zee Salaam LIVE TV