बच्चे को बैग में चिट्ठी के साथ लावारिस छोड़ गया बाप, लिखा- कुछ दिन पाल लो, मुंह मांगे पैसे दूंगा

खत में लिखा था, यह मेरा बेटा है. इसे मैं आपके पास छह-सात महीने के लिए छोड़ रहा हूं. हमने आपके बारे में बहुत अच्छा सुना है. इसलिए मैं अपना बच्चा आपके पास रख रहा हूं,

बच्चे को बैग में चिट्ठी के साथ लावारिस छोड़ गया बाप, लिखा- कुछ दिन पाल लो, मुंह मांगे पैसे दूंगा
Play

सतीश बरनवाल/अमेठी: उत्तर प्रदेश के अमेठी जिले में बुध की  शाम एक चौंकाने वाला मामला सामने आया. यहां के त्रिलोकपुर गांव में कोई नामालूम शख्स एक बैग में अपना 5 महीने का बच्चा छोड़ गया. देर शाम पीआरवी को जानकारी मिली कि एक बैग में सामान समेत कोई बच्चा छोड़ गया है. जानकारी मिलते ही पीआरवी 2780 पर तैनात राकेश कुमार सरोज, ड्राइवर उमेश दुबे के साथ कोतवाली मुंशीगंज इलाके के त्रिलोकपुर स्थित आनंद ओझा की रिहाइश पहुंचे. पुलिसकर्मी ने बैग खोलकर देखा तो उसमें बच्चा था. साथ ही सर्दियों के कपड़े, जूता, जैकेट, साबुन, विक्स, दवाएं और 5 हजार रुपये भी रखे हुए थे. शख्स ने बैग के साथ एक खत भी छोड़ा था. इसे पढ़कर ऐसा लगता है कि बच्चे के पिता ने लिखा है.

खत में लिखा था, ''यह मेरा बेटा है. इसे मैं आपके पास छह-सात महीने के लिए छोड़ रहा हूं. हमने आपके बारे में बहुत अच्छा सुना है. इसलिए मैं अपना बच्चा आपके पास रख रहा हूं, 5000 महीने के हिसाब से मैं आपको पैसा दूंगा. आपसे हाथ जोड़कर विनती है कि कृप्या इस बच्चे को संभाल लो. मेरी कुछ मजबूरी हैं. इस बच्चे की मां नहीं है और मेरा परिवार में इसके लिए खतरा है. इसलिए छह-सात महीने तक आप अपने पास रख लीजिए, सब कुछ सही करके मैं आपसे मिलकर अपने बच्चों को ले जाऊंगा. कोई बच्चा आपके पास छोड़ कर गया यह किसी को मत बताना, नहीं तो यह बात सबको पता चल जाएगी.''

शख्स ने खत में आगे लिखा, ''मेरे लिए सही नहीं होगा. सबको यह बता दीजिएगा कि यह बच्चा आपके किसी दोस्त का है, जिसकी बीवी हॉस्पिटल में कोमा में है. तब तक आप अपने पास रखिए, मैं आपसे मिलकर भी दे सकता था लेकिन यह बात मेरे तक रहे तभी सही है. क्योंकि मेरा एक ही बच्चा है, आपको और पैसा चाहियेगा तो बता दीजिएगा, मैं और दे दूंगा. बस बच्चे को रख लीजिए. इसकी जिम्मेदारी लेने को डरियेगा नहीं. भगवान ना करें अगर कुछ होता है तो फिर मैं आपको ब्लेम नहीं करूंगा. मुझे आप पर पूरा भरोसा है. बच्चा पंडित के घर का है.'' पीआरवी ने बच्चा मिलने की जानकारी कोतवाली इंचार्ज मिथिलेश सिंह को दी, जिस पर उन्होंने बच्चे को कॉलर के ही सुपुर्द करने को आदेशित किया है.

Zee Salaam LIVE TV