ममता बनर्जी पर गरजे अमित शाह, कहा- कोरोना एक्सप्रेस ही बाहर का रास्ता दिखाएगी

आयुष्मान भारत योजना का ज़िक्र करते हुए अमित शाह ने कहा कि क्या बंगाल के गरीब लोगों को मुफ्त और अच्छी मेडिकल सर्विस हासिल करने का कोई हक नहीं है?

ममता बनर्जी पर गरजे अमित शाह, कहा- कोरोना एक्सप्रेस ही बाहर का रास्ता दिखाएगी

नई दिल्ली: वज़ीरे दाखिला और भारतीय जनता पार्टी (BJP) के साबिक सद्र अमित शाह (Amit Shah) ने आज मगरिबी बंगाल के लिए वर्चुअल रेली के दौरान वज़ीरे आला ममता बनर्जी (Mamta Banerjee) की जमकर तनकीद की. अमित शाह ने शहरियत कानून से लेकर सियासी फसाद वगैरा गंभीर मुद्दों पर ममता बनर्जी पर निशाना साधा. 

उन्होंने कहा कि जब से कोरोना वायरस के खिलाफ पूरे मुल्क में जंग लड़ी जा रही है तब बंगाल में ममता हुकूमत मरकज़ी हुकूमत और पीएम मोदी से लड़ रही है. अमित शाह ने कहा कि जो लोग मुल्क को तोड़ने की सियासत कर रहे हैं उन्हें 2021 के इंतेखाबात में अवाम सियासी मुहाजिर बना देगी. उन्होंने आगे कहा कि 2014 से मगरिबी बंगाल में 100 से ज्यादा भाजपा कारकुनों ने यहां सियासी लड़ाई में अपनी जान गंवाई है. मैं उनके परिवारों को इज्ज़त देता हूं क्योंकि उन्होंने सोनार बांग्ला की तरक्की में तआवुन दिया है.

उन्होंने कहा कि मैं आपको यकीन दिलाना चाहता हूं कि BJP सिर्फ आंदोलन करने के लिए बंगाल के मैदान में नहीं आई है, BJP सिर्फ सियासी जमात की तौसी के लिए नहीं आई है, बीजेपी बंगाल के अंदर हमारी जमात की बुनियाद को मज़बूत तो करना चाहती ही है लेकिन बीजेपी फिर से बंगाल को सकाफती बंगाल बनाना चाहती है.

आयुष्मान भारत योजना का ज़िक्र करते हुए अमित शाह ने कहा कि क्या बंगाल के गरीब लोगों को मुफ्त और अच्छी मेडिकल सर्विस हासिल करने का कोई हक नहीं है? आयुष्मान भारत योजना को यहाँ इजाज़त क्यों नहीं है? ममता जी, गरीबों के अधिकारों पर सियासत करना बंद करें. आप कई मुद्दों पर सियासत कर सकती हैं.

अमित शाह ने कहा कि ममता दी आप हमारा हिसाब मांगती हो, मैं तो हिसाब लेकर आया हूं, आप कल एक प्रेस कांफ्रेंस करके अपने 10 साल का हिसाब दीजिएगा और ध्यान से दीजिएगा कहीं बम धमाकों या बंद हुई फैक्टरियों की तादाद मत बता दीजिएगा, BJP के मार दिए कारकुनों की तादाद मत बता दीजिएगा".

उन्होंने कहा कि हमने ट्रेनों श्रमिक ट्रेन नाम दिया, लेकिन ममता जी ने उसे कोरोना एक्सप्रेस बताया. शाह ने कहा कि यह मज़दूरों की बेइज्ज़ती है, आप मज़दूरों के ज़ख्मों पर नमक छिड़क रही हैं और वे इस बेइज्ज़ती को भूलेंगे नहीं. यही गाड़ी आपको बंगाल से बाहर का रास्ता दिखाएगी.

Zee Salaam Live TV