आखिर क्यों BJP के बड़बोले नेता को कोर्ट में 'मांगनी पड़ी माफी'

दिल्ली के चीफ मिनिस्टर अरविंद केजरीवाल (Arvind Kejriwal) और हेल्थ मिनिस्टर सत्येंद्र जैन (Satyendra Jain) के चरित्र हनन (किरदार कुशी) मामले में भाजपा के बड़बोले नेता और पूर्व मंत्री कपिल मिश्रा (Kapil Mishra) को आखिरकार माफी मांगनी पड़ी और उन्होंने अदालत को लिखित माफीनामा दिया.

आखिर क्यों BJP के बड़बोले नेता को कोर्ट में 'मांगनी पड़ी माफी'
कपिल मिश्रा की फाइल फोटो

नई दिल्ली/आशिफ ऐकबाल: दिल्ली के चीफ मिनिस्टर अरविंद केजरीवाल (Arvind Kejriwal) और हेल्थ मिनिस्टर सत्येंद्र जैन (Satyendra Jain) के चरित्र हनन (किरदार कुशी) मामले में भाजपा के बड़बोले नेता और पूर्व मंत्री कपिल मिश्रा (Kapil Mishra) को आखिरकार माफी मांगनी पड़ी और उन्होंने अदालत को लिखित माफीनामा दिया. 

बता दें कि कपिल मिश्रा ने मुख्यमंत्री और स्वास्थ्य मंत्री के चरित्र हनन का मामला बड़े ज़ोर शोर से उठाया था. जिसके बाद हेल्थ मिनिस्टर सत्येंद्र जैन ने कपिल मिश्रा के खिलाफ केस दर्ज कराया था. जिसके बाद अदालत ने कपिल मिश्रा को सबूत पेश करने के लिए कहा लेकिन वो सबूत पेश नहीं कर पाए और अपने आरोपों के सियासत से प्रेरित बताते हुए उन्हें माफी मांगनी पड़ी. 

क्या है पूरा मामला
दिल्ली सरकार से बर्खास्त मंत्री और मौजूदा बीजेपी नेता कपिल मिश्रा ने मई 2017 में कपिल मिश्रा ने सत्येंद्र जैन पर आरोप लगाया था उन्होंने (सत्येंद्र जैन) ने दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल को उनकी (कपिल मिश्रा)आंखों के सामने 2 करोड़ रुपये दिए हैं. जिसके बाद सत्येन्द्र जैन ने कपिल मिश्रा पर आपराधिक मानहानि केस किया था. कपिल मिश्रा ने माफी में कहा- 'मेरे आरोप गलत और सियासत से प्रेरित थे. मैं सत्येन्द्र जैन से बिना शर्त माफ़ी मांगता हूं'.

Zee Salaam LIVE TV